• Hindi News
  • Bihar
  • Siwan
  • जिले में 61700 हेक्टेयर खेतों में हुई धान की रोपनी
--Advertisement--

जिले में 61700 हेक्टेयर खेतों में हुई धान की रोपनी

Siwan News - जुलाई माह के अंतिम सप्ताह में झमाझम बारिश हुई। 10 दिनों तक हुई बारिश से पूरा जिला पानी-पानी हो गया। फिर भी बारिश अपने...

Dainik Bhaskar

Aug 01, 2018, 05:50 AM IST
जिले में 61700 हेक्टेयर खेतों में हुई धान की रोपनी
जुलाई माह के अंतिम सप्ताह में झमाझम बारिश हुई। 10 दिनों तक हुई बारिश से पूरा जिला पानी-पानी हो गया। फिर भी बारिश अपने लक्ष्य को पूरा नहीं कर पाया। जुलाई माह में 40 फीसदी कम बारिश हुई। फिर भी किसानों के चेहरे पर खुशी है। धान की रोपनी के लिए अंतिम समय में हुई बारिश पर्याप्त है। इस वजह से धान की रोपनी में तेजी आ गई है। जब से तेज बारिश हो रही है। यानि महज 10 दिनों में ही किसानों ने 53 फीसदी रोपनी कर ली है। जबकि अभी तक रोपनी का लक्ष्य 63 फीसदी पूरा हो गया है।

मौसम मेहरबान

जुलाई में 40 फीसदी कम बारिश होने पर भी किसानों के चेहरे पर दिख रही मुस्कान, 63 प्रतिशत लक्ष्य हो गया पूरा

अंतिम सप्ताह में झमाझम बारिश फिर भी लक्ष्य नहीं हुआ पूरा


जिले में 98 हजार हेक्टेयर में धान की रोपनी किसानों को करनी है

जिले में 98 हजार हेक्टेयर में धान की रोपनी करनी है। इस तरह 61700 हेक्टेयर खेतों में धान की रोपनी हो चुकी है। 10 जुलाई तक किसान किसी तरह मशीन से पानी खरीद कर धान की रोपनी कर लिए थे। लेकिन जब बारिश नहीं हो रही थी तो किसान निराश हो गए थे और वे धान की रोपनी को बंद कर दिए थे। जैसे ही जिले में बारिश शुरु हुई तो किसानों के चेहरे खिल गए और वे धान की रोपनी करने में जुट गए। दो- तीन दिनों तक हुई बारिश के बाद तो किसान धान की रोपनी में तेजी ला दिए है।

सबसे कम बसंतपुर में हुई बारिश

जुलाई माह में सबसे कम बसंतपुर प्रखंड में बारिश हुई है। यहां पर 122 एमएम ही बारिश हुई है। फिर भी इस क्षेत्र में भी धान की रोपनी तेजी में हो रही है। सबसे ज्यादा बारिश सीवान सदर व शहर में हुई है। रघुनाथपुर, पचरुखी व सिसवन क्षेत्र में भी अच्छी बारिश हुई है। इस वजह से यहां के किसान भी खुश नजर आ रहे है। मंगलवार को दिन कुछ अच्छा हुआ है। इससे किसान मक्का व अरहर की खेती भी करने लगे है।

X
जिले में 61700 हेक्टेयर खेतों में हुई धान की रोपनी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..