Hindi News »Bihar »Siwan» जांच में खुलासा : गेट मित्र ने कहा- ट्रेन आ रही है, ड्राइवर ने बात की अनदेखी कर बढ़ा दी कार

जांच में खुलासा : गेट मित्र ने कहा- ट्रेन आ रही है, ड्राइवर ने बात की अनदेखी कर बढ़ा दी कार

सीवान- थावे रेलखंड पर गेट संख्या 5 सी छोटपुर के पास बुधवार को ट्रेन व कार में हुई टक्कर के मामले की जांच के लिए गठित...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 20, 2018, 12:55 PM IST

जांच में खुलासा : गेट मित्र ने कहा- ट्रेन आ रही है, ड्राइवर ने बात की अनदेखी कर बढ़ा दी कार
सीवान- थावे रेलखंड पर गेट संख्या 5 सी छोटपुर के पास बुधवार को ट्रेन व कार में हुई टक्कर के मामले की जांच के लिए गठित टीम ने अपनी जांच पूरी कर ली। टीम ने 24 घंटे के अंदर गुरुवार को रिपोर्ट वाराणसी रेल मंडल के वरीय अफसरों के पास भेज दी। इसमें कार के ड्राइवर को जिम्मेवार माना गया है। इस हादसे में कार के ड्राइवर की मौत हो गई थी। जांच के लिए 5 सदस्यीय टीम बनाई गई थी। इसमें पीडब्ल्यूआई बीके शुक्ला, रेल यातायात निरीक्षक उदय प्रताप, चीफ लोको इंस्पेक्टर छपरा संकेश कुमार सिंह, आरपीएफ के एएसआई एके मिश्रा व कैरेज व बैगन के सीनियर सेक्शन इंजीनियर मनोज कुमार शामिल है। इसमें पाया गया है कि थावे की तरफ से पैसेंजर ट्रेन सीवान आ रही थी। इस दौरान वहां पर गेट मित्र तैनात था।

छोटपुर में घटनास्थल पर जांच करती पुलिस व अन्य।

कार की रफ्तार 75 किमी प्रति घंटे थी

ट्रेन आने के दौरान जा रही कार को गेट मित्र ने रोका। लेेकिन ड्राइवर ने अनसुनी कर दी। ट्रेन के ड्राइवर ने भी सीटी बजाई। लेकिन सीटी को भी कार के ड्राइवर ने अनसुनी कर दी। उस समय कार करीब 75 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही थी। इस बीच कार ट्रेन के इंजन से टकरा गई। इससे कार लोको बम्पर में फंस गई। इससे कैटल गार्ड व स्पोर्टिंग बाेल्ट टूट गया। हालांकि दोपहर तीन बजे ब्लॉक सेक्शन को चालू किया गया और 5 किमी की रफ्तार से ट्रेन को सीवान कचहरी स्टेशन लाया गया। वहां से ठीक कर सीवान स्टेशन पर दोपहर 3.29 मिनट पर लाया गया। इधर जांच टीम ने लोको पायलट अनीश भारती व गार्ड का भी बयान दर्ज किया।

छोटपुर के पास गेट संख्या 5 सी के पास तैनात गेट मित्र उपेन्द्र कुमार के बयान पर आरपीएफ पोस्ट पर मुकदमा दर्ज किया गया है। इसमें धारा 161, 153 व 174 के तहत कार के ड्राइवर को आरोपित किया गया है। इसमें कहा गया है कि गाड़ी संख्या डीएल 3 सी बीयू9906 स्विफ्ट कार का ड्रावर लापरवाही से गाड़ी चलाते हुए रेल फाटक पार कर रहा था। इसी दौरान हादसा हो गया। इधर आरपीएफ ने क्षतिग्रस्त कार को जब्त कर ली है। उसे आरपीएफ पोस्ट पर लाया गया है।

गेट मित्र के बयान पर एफआईआर दर्ज

क्या कहते हैं पीआरओ

सभी मानवरहित फाटक पर गेट मैन की तैनाती की गई है। मानवरहित फाटक को पार करने से पहले गाड़ी को रोकनी है। ट्रेन व सीटी की आवाज सुननी है। ट्रैक के दोनों तरफ देखना है। जब पूरी तरह आश्वस्त हो जाएंगे कि ट्रेन नहीं आ रही है तभी रेल लाइन पार करना है। लेकिन इस नियम का पालन नहीं करने से हादसा हो रहा है। अशोक कुमार, पीआरओ, वाराणसी रेल मंडल

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Siwan

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×