• Hindi News
  • Bihar
  • Supaul
  • Supaul News 23 mm rainfall in two days minimum mercury dropped by two degrees rain still expected

दो दिन में 2.3 एमएम वर्षा, न्यूनतम पारा दो डिग्री गिरा, आज भी बारिश के आसार

Supaul News - कल से तीन दिनों तक न्यूनतम तापमान आठ डिग्री रहने के आसार जिले के कुछ हिस्से में शुक्रवार की देर रात गरज के...

Jan 19, 2020, 09:06 AM IST
Supaul News - 23 mm rainfall in two days minimum mercury dropped by two degrees rain still expected

कल से तीन दिनों तक न्यूनतम तापमान आठ डिग्री रहने के आसार

जिले के कुछ हिस्से में शुक्रवार की देर रात गरज के बौछारें पड़ी। इससे न्यूनतम तापमान में लगातार दूसरे दिन एक डिग्री की गिरावट हुई। शनिवार को दिनभर 10 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से पछुआ हवा चली। इससे दिन में आसमान में बादलों के बीच से निकली धूप के कारण ठंड से राहत रही। लेकिन शाम होते ही ठंड में वृद्धि होने लगी। इन सबके बीच शनिवार को जिले का सापेक्षिक आर्द्रता 88 प्रतिशत रही।

जिले में शनिवार की रात कुल 2 एमएम वर्षापात रिकॉर्ड की गई। बीते दो दिनों से रूक-रूक हो रही हल्की बारिश से गेहूं की फसल को फायदा हुआ है। पंपसेट के सहारे सिंचाई करने के लिए बाध्य किसानों को पटवन पर आने वाली खर्च से राहत मिली है। इसके अलावा दो दिनो के दौरान हुई बारिश से कनकनी से राहत मिली है और कुहासे का प्रकोप भी घटा है। मौसम विभाग के अनुसार शनिवार को जिले का अधिकतम तापमान 22 एवं न्यूनतम 14 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। विभाग ने लगातार तीसरे दिन रविवार को भी बारिश की संभावना जाहिर की है। रविवार को भी जिले में एक एमएम वर्षापात की संभावना है। साथ ही रविवार को कुहासा रहने का भी आसार है। जबकि हवा की रफ्तार 10 किमी प्रति घंटा रहेगी। विभाग के अनुसार अगले 6 दिनों के दौरान अासमान में आंशिक रूप से बादल छाया रहेगा।

शनिवार को जिले की सापेक्षिक आर्द्रता 88 प्रतिशत रही,10 किमी की रफ्तार से चली पछुआ हवा

अगले 6 दिनों तक फिर हाड़ कंपा सकती है सर्दी

मौसम विभाग के अनुसार आने वाले 6 दिनों में तापमान फिर लुढ़केगा। इस दौरान रविवार को अधिकतम 20 एवं न्यूनतम 11, सोमवार काे अधिकतम 22 एवं न्यूनतम 08, मंगलवार को अधिकतम 20 एवं न्यूनतम 08, बुधवार को अधिकतम 19 एवं न्यूनतम 08 डिग्री सेल्सियस रहेगा। इस दौरान पछुआ हवा 6 से 12 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से चलेगी। गुरुवार को अधिकतम 22 एवं न्यूनतम 10 और शुक्रवार को अधिकतम 20 एवं न्यूनतम 10 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। विभाग ने 19 से 22 जनवरी तक कुहासा में बढ़ोत्तरी की संभावना जाहिर की है।

हवा के कम दबाव का बन रहा क्षेत्र

कृषि विश्वविद्यालय बौर के सहरसा अंतर्गत अगवानपुर स्थित अनुसंधान केन्द्र के कनीय कृषि मौसम वैज्ञानिक डॉ. देवन कुमार चौधरी ने कहा पश्चिमी विक्षोभ के कारण हवा के कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है। जिस कारण आने वाले दो दिनों में हवा की रफ्तार 12 से 14 किमी प्रति घंटा रहेगी। इसमें लोकल कंडीशन सपोर्ट एवं वातावरण में मौजूद नमी के कारण तापमान में गिरावट होगी।

सुपौल में शाम 06:10 बजे माल गोदाम रोड में छाया कुहासा, हालांकि ठंड कम होने से बाजार में चहल-पहल रही।

फसल को बचाने के लिए करें ये उपाय

कृषि विश्वविद्यालय बौर के सहरसा अगवानपुर स्थित अनुसंधान केन्द्र के कृषि वैज्ञानिक अशोक पंडित ने बताया कि जिले में बारिश की संभावना को देखते हुए किसान दो दिन बाद गेहूं के खेत से खरपतवार निकालें। 30-35 दिन के हो चुके गेहूं के फसल में 20 ग्राम मेटसल्फरोन को प्रति हेक्टेयर 500 से 600 लीटर पानी में घोल कर आसमान साफ रहने पर छिड़काव करें। इसके अलावा 50 से 55 दिन के हो चुके मक्के फसल में 50 क्रिलोग्राम नाइट्रोजन प्रति हैक्टेयर की दर से व्यवहार करें। इसके तुरंत बाद मिट्टी चढ़ाकर सिंचाई करें। सरसों एवं राई की फसल में लाही कीड़े की रोकथाम के लिए इमीडाक्लोरपीड की 0.25 एमएल ड़ाइमेथोएट 30 प्रतिशत की एक एमएल प्रति लीटर पानी में घोलकर मौसम साफ रहने पर छिड़काव करें। बारिश को ध्यान में रख कर आगेती एवं पिछात आलू को झुलसा रोग से बचाने के लिए डाइथेन एम-45 अथवा रिडोमिल एमजेड का छिड़काव करने का इंतजार करें। साथ ही पालतु पशुओं जैसे गाय एवं भैंस को खुरपका-मुंहपका बीमारी से बचाव के लिए टीका लगवाएं।

X
Supaul News - 23 mm rainfall in two days minimum mercury dropped by two degrees rain still expected
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना