पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Supaul News 5 Bed Isolation Ward Ready For Corona Patient At Sadar Hospital

कोरोना मरीज को ले सदर अस्पताल में 5 बेड का आइसोलेशन वार्ड तैयार

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

सदर अस्पताल में कोवीड-19 को ले सीएस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दी जानकारी

सदर अस्पताल में शनिवार को सिविल सर्जन डॉ. कृष्ण मोहन प्रसाद ने कोरोना वायरस को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर लोगों से जागरूक होने की अपील की है। उन्होंने कहा कि कोराेना वायरस को लेकर घबराने की जरूरत नहीं है, केवल एहतियात बरतने की आवश्यकता है। नेपाल से सटे सुपौल जिले के निर्मली व बसंतपुर प्रखंड क्षेत्र में 5 ट्रांजिट टीम की प्रतिनियुक्ति की गई है। निर्मली प्रखंड के कुनौली बथनाहा, कुनौली बाजार, रूपौली राजपुर, बसंतपुर के शैलेशपुर एसएसबी कैंप व पुरानी बाजार भीमनगर बॉर्डर एसएसबी कैंप में नेपाल से भारतीय प्रभाग में आने वाले सभी यात्रियों की जांच की जा रही है। कोरोना वायरस को लेकर सदर अस्पताल सुपौल में 5 बेड का आइसोलेशन वार्ड बनकर तैयार है। मौके पर डॉ. इंद्रजीत कुमार अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी, संचारी रोग पदाधिकारी डॉ. मेजर एबी प्रसाद, गैर संचारी रोग पदाधिकारी डॉ. एसएस विद्यार्थी, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. सीके प्रसाद, डीपीएम बालकृष्ण चौधरी, डब्ल्यूएचओ के जिला प्रतिनिधि डॉ. सचिन मेहारिया उपस्थित थे।

5 देशों ने पिछले 14 दिनों में दर्ज नहीं किए नए मामले: सीएस डॉ. प्रसाद ने बताया कि वैश्विक स्तर पर कोविड-19 के अबतक कुल 98 हजार 192 मामले सामने आए हैं। अबतक 3380 लोगों की मौत हो चुकी है। पिछले 24 घंटे में चीन ने 146 मामलों की सूचना दी। हुबेई प्रांत से ज्यादातर मामले की रिपोर्ट जारी है। पिछले 14 दिनों में 8 प्रांतों ने कोई भी मामला दर्ज नहीं किया है। चीन के बाहर 88 देशों में 17 हजार 481 मामले सामने आए। उनमें से लगभग 80% सिर्फ तीन देशों से आते हैं। हम कोरिया गणराज्य से उत्साहजनक संकेत देखते हैं। किए गए नव रिपोर्ट में मामलों की संख्या में गिरावट जारी है। जिन मामलों की रिपोर्ट की जा रही है। उन्हें मुख्य रूप से ज्ञात समूहों से पहचाना जा रहा है। हालांकि कुछ देश बड़ी संख्या में मामलों की रिपोर्ट कर रहे हैं। लेकिन 106 देशों ने एक भी मामले की रिपोर्ट नहीं की है। 21 देशों ले केवल एक मामले की सूचना दी है। जिन 5 देशों ने मामलों की सूचना दी थी। उनके द्वारा पिछले 14 दिनों में नए मामले दर्ज नहीं किए हैं।

133 संदिग्ध यात्रियों में 39 लोगों का भेजा गया सैंपल निगेटिव : सीएस ने बताया कि भारत में अभी तक इस बीमारी के कुल 30 मामले दर्ज हुए हैं। जिसमें ज्यादातर बाहर से आने वाले सैलानियों एवं प्रवासी भारतीय में पाए गए हैं। जिनका इलाज दिल्ली व जयपुर के अस्पतालों में किया जा रहा है। अभी तक भारत से एक भी मौत का मामला दर्ज नहीं हुआ है। अब तक बिहार में एक भी मामला दर्ज नहीं हुआ है। हालांकि बाहर से आने वाले प्रवासियाें का राज्य के प्रमुख एयरपोर्ट एवं सीमावर्ती क्षेत्रों के मुख्य प्रवेश द्वारों पर अबतक 1 लाख 17 हजार 426 लोगों की जांच की गई है। जांचोपरांत लक्षण के आधार पर कुल 133 संदिग्ध यात्रियों में कुल 39 लोगों का सैंपल जांच के लिए नामित लैब में भेजे गए। जिसमें सभी मामले निगेटिव पाए गए हैं।

सदर अस्पताल सुपौल में जानकारी देते सीएस व अन्य।
खबरें और भी हैं...