हमारी साक्षरता 57.67 %, यह और बढ़े तो नए आयाम गढ़ सकेंगे हम

Supaul News - सदर प्रखंड के कर्णपुर में बन रहा एएनएम ट्रेनिंग कॉलेज डॉ. प्रो जयदेव प्रसाद यादव प्राचार्य, एएलवाय कॉलेज,...

Dec 04, 2019, 09:36 AM IST
Supaul News - 5767 of our literacy if this increases further we will be able to create new dimensions
सदर प्रखंड के कर्णपुर में बन रहा एएनएम ट्रेनिंग कॉलेज

डॉ. प्रो जयदेव प्रसाद यादव

प्राचार्य, एएलवाय कॉलेज, त्रिवेणीगंज

इंजीनियरिंग कॉलेज खुला, पॉलिटेक्निक और आईटीआई कॉलेज पहले से हैं। कई निजी संस्थान स्कूल और कॉलेज स्तर के खुले। मेडिकल कॉलेज का निर्माण शुरू हुआ। हाईस्कूलों में स्मार्ट क्लासेज चलना शुरू हुआ।

2011 जनगणना के समय जब भारत की साक्षरता दर 74.04 प्रतिशत थी, तब विश्व की साक्षरता दर 84 प्रतिशत थी। बिहार की साक्षरता दर 63.8 प्रतिशत थी। सुपौल जिले की साक्षरता दर मात्र 48.29 प्रतिशत था। इसको बढ़ाने की जरूरत है। जिले में 1690 प्राथमिक और मध्य विद्यालय हैं, जहां 4.36 लाख बच्चे नामांकित हैं। इसके अलावा सभी प्रकार के 171 हाईस्कूल हैं। कुल लगभग 8976 शिक्षक हैं। हालांकि बीते पांच वर्षों में एजुकेशन को लेकर लोगों की जागरूकता बढ़ी है। हर स्तर पर विद्यालयों और कक्षाओं की संख्या में काफी बढ़ोतरी हुई है, लेकिन चुनौतियां अभी भी कम नहीं हैं। स्कूलों में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा उपलब्ध कराना शिक्षा विभाग के लिए अब भी टास्क बना हुआ है। तकनीकि शिक्षा के क्षेत्र में कॉलेजों की संख्या में बढ़ोतरी हो तो युवाओं को आगे बढ़ने का अवसर मिलेगा।

मेडिकल कॉलेज का निर्माण हो तो इलाज के लिए बाहर नहीं जाना होगा। एएनएम ट्रेनिंग कॉलेज अपने निर्माणाधीन भवन में संचालित हो। बीएड में सीटों की संख्या बढ़े। एमएड के कॉलेज खुले। आने वाले समय कॉलेजों की संख्या भी बढ़े।

प्राथमिक से लेकर कॉलेज स्तर तक संस्थानों में शिक्षकों की कमी दूर करना। बच्चे प्रारंभिक स्तर पर ही पढ़ाई न छोड़ें। विश्वविद्यालय का सेशन समय से रहे। छात्रों का रिजल्ट पेंडिंग न रहे। कॉलेजों में शिक्षक और छात्रों की उपस्थिति बढ़े, इसके लिए सतत प्रयास हो।

Supaul News - 5767 of our literacy if this increases further we will be able to create new dimensions
X
Supaul News - 5767 of our literacy if this increases further we will be able to create new dimensions
Supaul News - 5767 of our literacy if this increases further we will be able to create new dimensions
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना