मजदूरी नहीं मिलने से नाराज नाइट गार्ड ने की आत्महत्या, सहरसा-सुपौल सड़क जाम

Supaul News - शहर के वीणा रोड वार्ड-24 स्थित आरके साह अपार्टमेंट में कार्यरत एक नाइट गार्ड ने शुक्रवार की रात आत्महत्या कर ली।...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 09:20 AM IST
Supaul News - angry night guard did not meet the wages of suicide saharsa supaul road jam
शहर के वीणा रोड वार्ड-24 स्थित आरके साह अपार्टमेंट में कार्यरत एक नाइट गार्ड ने शुक्रवार की रात आत्महत्या कर ली। मृतक के शव के पास से एक सुसाइड नोट मिला है। जिसमें सदर थाना क्षेत्र के सुंदरपुर निवासी मृतक अर्जुन साह ने अपार्टमेंट के मालिक संजय साह द्वारा छह माह से वेतन नहीं देने का आरोप लगाया है। आत्महत्या के बाद मामले को दबाने के लिए शनिवार को कई घंटे तक पंचायत होती रही। लेकिन समस्या का निदान नहीं होने के बाद मृतक के परिजनों ने पहले वीणा रोड बाद में सहरसा-सुपौल मुख्य सड़क को कीर्तन भवन के समीप बांस-बल्ला लगाकर साढ़े पांच बजे से छह बजे तक करीब आधा घंटा सड़क जाम कर दिया। प्रदर्शनकारियों ने जाम स्थल पर टायर जलाकर प्रदर्शन किया। जाम की सूचना पर पहुंची सदर थाना पुलिस के हल्का बल प्रयोग के बाद जाम समाप्त हुआ। मुख्य सड़क मार्ग होने के कारण आधा घंटा में सड़क पर महाजाम की स्थिति उत्पन्न हो गई। मृतक के पुत्र सिकंदर ने थाना में आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है। दिए गए आवेदन में मृतक के पुत्र ने अपार्टमेंट मालिक द्वारा शुक्रवार की रात्रि उसके पिता के साथ धक्का-मुक्की का भी आरोप लगाया है।

मालिक से रुपये मांगने पर की धक्का-मुक्की : बताया जाता है कि मृतक शुक्रवार की रात अपने मालिक से रुपए मांग रहा था। इसी दौरान उसके साथ धक्कामुक्की भी की गई। सदर थाना क्षेत्र के सुंदरपुर के रहने वाले मृतक अर्जुन साह ने आत्महत्या से पूर्व एक सुसाइड नोट भी लिखा। जिसमें आरके साह अपार्टमेंट के मालिक पर छह महीना से मजदूरी नहीं देने का आरोप लगाया है। बताया जाता है कि मृतक वीणा रोड स्थित अपार्टमेंट के सामने दिन में अपनी सब्जी की दुकान चलाता था और रात में अपार्टमेंट में नाइट गार्ड था। सुसाइड नोट में मृतक ने लिखा है कि उसे मालिक संजय साह ने छह माह से मजदूरी नहीं दिया है। मृतक के पुत्र सिकंदर ने बताया कि शनिवार की सुबह वह मजदूरी के लिए सुपौल आया था। इसी दौरान वह अपने पिता से मिलने अपार्टमेंट गया। जहां उसके पिता के शव के पास से ही सुसाइड नोट मिला।

सुबह से तीन बजे तक चला पंचायत का दौर : बताया जाता है कि मामले को दबाने के लिए घटना स्थल पर सुबह से पंचायत बुलाकर सुलह का प्रयास किया गया। करीब तीन बजे तक चले पंचायत में किसी प्रकार का निराकरण नहीं होने के बाद परिजनों ने पहले वीणा रोड स्थित अपार्टमेंट के समीप और बाद में सहरसा-सुपौल मुख्य सड़क पर कीर्तन भवन के समीप रोड को जाम कर प्रदर्शन किया गया। बताया जाता है कि मृतक के पुत्री की शादी होनी थी। जिसके लिए उसे रुपए की जरूरत थी। छनकर आई खबर के मुताबिक पंचायत में मृतक के परिजनों को 50 हजार रुपए मुआवजे की पेशकश दी गई। लेकिन परिजन मानने को तैयार नहीं थे। लिहाजा न्याय के लिए लोगों ने सड़क जामकर प्रदर्शन किया।

जाम हटाने के लिए पुलिस ने किया बल प्रयोग : जाम की सूचना पर सदर थानाध्यक्ष राजेश कुमार मंडल पुलिस बल के साथ जाम स्थल पर पहुंचे और जहां जामकर्ताओं को हटाने के लिए हल्का बल प्रयोग करना पड़ा। पुलिस की अधिक मौजूदगी को देखते ही जामकर्ता मौके से भाग खड़े हुए। जिसके बाद थानाध्यक्ष पुलिस बल के साथ घटना स्थल पर पहुंचे और शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।

शहर के कीर्तन चौक के पास जाम कर प्रदर्शन करते मृतक के परिजन।

जाम स्थल पर जामकर्ताओं को खदेड़ती पुलिस।

Supaul News - angry night guard did not meet the wages of suicide saharsa supaul road jam
X
Supaul News - angry night guard did not meet the wages of suicide saharsa supaul road jam
Supaul News - angry night guard did not meet the wages of suicide saharsa supaul road jam
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना