एक पक्षीय कार्रवाई का आरोप लगाकर आक्रोशित ग्रामीणों ने थानाध्यक्ष को 4 घंटे बनाया बंधक, जाम

Supaul News - सोमवार को दो बच्चों के बीच हुई मारपीट के मामले में काउंटर केस में प्रथम पक्ष को गिरफ्तार करने शुक्रवार को रामपुर...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:22 AM IST
Chhatapur News - angry villagers alleging one sided action made police station hostage hostage jammed
सोमवार को दो बच्चों के बीच हुई मारपीट के मामले में काउंटर केस में प्रथम पक्ष को गिरफ्तार करने शुक्रवार को रामपुर पंचायत के इन्द्रपुर गांव जाना छातापुर थानाध्यक्ष राघव शरण को महंगा पड़ा। आक्रोशित ग्रामीणों ने चार घंटे तक थानाध्यक्ष को बंधक बनाए रखा एवं भरगमा-नरपतगंज रोड को जाम कर घंटों पुलिस के विरुद्ध जमकर नारेबाजी की।

जानकारी अनुसार बीते 9 सितंबर को दो पक्षों के बीच बच्चों के आपसी विवाद में मारपीट हुई थी। जिसमें प्रथम पक्ष के 52 वर्षीय मो. सुबेर, उनके 27 वर्षीय पुत्र मो. नौलेज आलम एवं उनके पुत्रवधु को मारपीट कर गंभीर रूप से जख्मी कर दिया था। जिसे इलाज के लिए परिजनों ने छातापुर पीएचसी में भर्ती कराया था।

जहां से जख्मियों को बेहतर इलाज के लिए हायर सेंटर रेफर कर दिया गया था। जो अब भी जिंदगी और मौत के बीच पटना के एक निजी अस्पताल में जूझ रहे हैं। पुलिस द्वारा प्रथम पक्ष के आवेदन पर 254/19 घटना के एक दिन बाद प्राथमिकी दर्ज की। प्रथम पक्ष का आरोप है कि मोटी रकम लेकर आरोपी पक्ष से आवेदन लेकर पुलिस ने प्रथम पक्ष के नौ लोगों के विरुद्ध थाना कांड संख्या 255/19 दर्ज कर लिया।

प्रथम पक्ष के सुबेर की प|ी वकीदा खातून सहित ग्रामीणों का कहना है कि द्वितीय पक्ष के लोगों में से कोई जख्मी नहीं है तो फिर पुलिस ने किस स्थिति में एक ही धारा में प्राथमिकी दर्ज की है और आरोपी को गिरफ्तार करने की बजाय काउंटर केस में नामजद प्रथम पक्ष के लोगों को गिरफ्तार करने छातापुर थानाध्यक्ष राघव शरण पहुंच गए।

प्रथम पक्ष के परिजनों ने पुलिस पर दूसरे पक्ष से मोटी रकम लेकर एक पक्षीय कार्रवाई करने का आरोप लगाया है। बंधक बनाए जाने के दौरान आक्रोशित ग्रामीणों ने करीब एक घंटे तक थानाध्यक्ष को एक कमरे में बंद रखा। आक्रोशित मौके पर एसडीपीओ को बुलाने की मांग कर रहे थे।

लोगांे ने कहा- द्वितीय पक्ष का बिना जख्म के समान धारा में काउंटर केस किया


छातापुर के इंद्रपुर में पुलिस की गाड़ी को घेर कर जाम करते आक्रोशित ग्रामीण व मुखिया के दरवाजे पर थानाध्यक्ष को बंधक बनाए आक्रोशित ग्रामीण।

केस से नाम हटाने व धारा बदलने के आश्वासन पर माने

आक्रोशित ग्रामीणों द्वारा बंधक बनाए जाने की सूचना थानाध्यक्ष द्वारा स्थानीय पूर्व मुखिया सह वर्तमान मुखिया पति मो. हासिम को फोन पर दी गई। मो. हासिम ने बंद कमरे से थानाध्यक्ष को बाहर निकाला। जहां से थानाध्यक्ष को लेकर मुखिया पति अपने आवास ले गए। लेकिन ग्रामीणों ने वहां भी थानाध्यक्ष को बंधक बना लिया। मुखिया को भी भीड़ के आक्रोश का दंश झेलना पड़ा। लोगों को समझा-बुझाकर थानाध्यक्ष ने आश्वस्त किया कि कांड संख्या 255/19 से जख्मी का नाम हटा दिया जाएगा। 307 को हटा जमानतीय धारा में केस को तब्दील किया जाएगा। तब जाकर लोग शांत हुए और थानाध्यक्ष को मुक्त किया।



बंधक बनाने की बात महज अफवाह | इस बाबत थानाध्यक्ष राघव शरण ने कहा कि बंधक बनाए जाने की बात महज अफवाह है। केस का सुपरविजन करने गए थे। जहां अनायास ही लोगों की भीड़ जमा हो गई।

Chhatapur News - angry villagers alleging one sided action made police station hostage hostage jammed
X
Chhatapur News - angry villagers alleging one sided action made police station hostage hostage jammed
Chhatapur News - angry villagers alleging one sided action made police station hostage hostage jammed
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना