मनुष्य सत्संग को जीवन में उतार ले तो हो जाता है भाग्यशाली : अशोक बाबा

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 09:41 AM IST

Supaul News - सिटी रिपोर्टर | त्रिवेणीगंज अनुमंडल मुख्यालय स्थित संतमत सत्संग मंदिर में शुक्रवार को परमपूज्य संत सद्गुरु...

Triveniganj News - if a person brings satsang to life then it becomes lucky ashok baba
सिटी रिपोर्टर | त्रिवेणीगंज

अनुमंडल मुख्यालय स्थित संतमत सत्संग मंदिर में शुक्रवार को परमपूज्य संत सद्गुरु महर्षि मेंही परमहंसजी महाराज की135वीं जयंती श्रद्धा और भक्ति के साथ मनाई गई।

गुरु जयंती के मौके पर संतमत के अनुयायियों द्वारा सत्संग आश्रम से सुबह 5 बजे भव्य शोभायात्रा निकाली गई। जिसमें सैकड़ोें की संख्या में सत्संग प्रेमियों ने भाग लिया। सत्संग मंदिर के अशोक बाबा के सानिध्य में निकली गई शोभायात्रा का जगह-जगह स्वागत किया गया। शोभायात्रा में अध्यक्ष भुवनेश्वरी यादव, सचिव फेकन यादव, कोषाध्यक्ष रामोवतार अग्रवाल, शिवकुमार साह, बजेंद्र यादव, उमेश लाल दास, कमलेश्वरी साह, शिवचन्द्र गुप्ता, निर्मला देवी, कलिता देवी, पूनम देवी, प्रमिला देवी, देविका देवी, नीतू रानी अन्य सत्संग प्रेमी मौजूद रहे। शोभायात्रा में महर्षि मेंही परमहंसजी महाराज के प्रतिमा को फूलों से सुसज्जित वाहन पर सवार कर नगर भ्रमण कराया गया। शोभायात्रा में श्रद्धालु संतमत का अमर संदेश देते हुए साथ-साथ चल रहे थे। दो सत्रों में चले इस कार्यक्रम के दौरान अशोक बाबा ने संत्संग प्रेमियों से कहा कि बहुत भाग्य एवं पूर्व जन्म के कर्म के कारण ही मनुष्य का जीवन मिलता है। लेकिन मनुष्य जब सत्संग को अपने जीवन में उतार लें, तभी जाकर भाग्यशाली होता है।

त्रिवेणीगंज में शोभायात्रा में शामिल भक्तजन।

X
Triveniganj News - if a person brings satsang to life then it becomes lucky ashok baba
COMMENT