• Hindi News
  • Rajya
  • Bihar
  • Supaul
  • Virpur News kosi39s highest so far in july 371 lakh cusec discharge water entered into 5000 houses of nirmali subdivision

कोसी का जुलाई में अब तक सर्वाधिक 3.71 लाख क्यूसेक डिस्चार्ज, निर्मली अनुमंडल के 5 हजार घरों में घुसा पानी

Supaul News - कोसी नदी का जलस्तर इस साल के सर्वाधिक स्तर पर है। कोसी के बढ़ते जलस्तर ने जुलाई माह के पिछले सारे रिकॉर्ड को तोड़ दिया...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 09:30 AM IST
Virpur News - kosi39s highest so far in july 371 lakh cusec discharge water entered into 5000 houses of nirmali subdivision
कोसी नदी का जलस्तर इस साल के सर्वाधिक स्तर पर है। कोसी के बढ़ते जलस्तर ने जुलाई माह के पिछले सारे रिकॉर्ड को तोड़ दिया है। नेपाल में भारी बारिश के कारण कोसी का डिस्चार्ज शनिवार की रात 9 बजे 3.71 लाख क्यूसेक को पार कर गया है। इसको लेकर बराज के 56 में 41 फाटक खोल दिए गए हैं।

कोसी बराज से भारी मात्रा पानी छोड़े जाने के कारण निर्मली, सरायगढ़, किसनपुर और सुपौल के तटबंध के भीतर के कई गांवों में बाढ़ का पानी पहुंच चुका है। लोग ऊंचे स्थानों की ओर पलायन कर रहे हैं। केवल निर्मली अनुमंडल में पांच हजार परिवारों के घरों में पानी घुस गया है। जबकि 40 हजार लोग इससे प्रभावित हैं। प्राप्त आंकड़े बताते हैं कि वर्ष 2010 में 24 अगस्त को 3,40,460 क्यूसेक, वर्ष 2011 में 06 अगस्त को 2,40,460 क्यूसेक, वर्ष 2012 में 26 जुलाई को 2,46,230 क्यूसेक, वर्ष 2013 में 5 सितंबर को 2,92,965 क्यूसेक, वर्ष 2014 में 15 अगस्त को 3,41,390 क्यूसेक, वर्ष 2015 में 3 सितंबर को 2,47,830 क्यूसेक, वर्ष 2016 में 13 सितंबर को 2,98,215 क्यूसेक, वर्ष 2017 में 2,93,785 क्यूसेक और 15 अगस्त 2018 को 2,84,990 क्यूसेक जलस्तर का पिछले 10 वर्षों का अधिकतम रिकॉर्ड है। यहां यह बताना जरूरी है कि 18 अगस्त 2008 को कुसहा त्रासदी के समय कोसी बराज का डिस्चार्ज मात्र एक लाख 62 हजार ही था।

वीरपुर में बराज से शनिवार को निकलती कोसी की उफनती धारा।

कोसी बराज के 56 में से 41 फाटक खोले गए

बताया जा रहा है कि जुलाई माह के रिकॉर्ड में सर्वाधिक जलस्तर ने नया रिकॉर्ड बनाया है, वहीं बढ़ते जलस्तर और मूसलाधार बारिश ने आम लोगो की भी चिंता बढ़ा दी है। वर्तमान समय मे तीन लाख से अधिक जलस्तर होने के बाद कोसी बराज की स्थिति रेड अलर्ट पर चली जाती है। इस बीच एक अच्छी खबर यह भी है कि जल अधिग्रहण बराह क्षेत्र में 12 बजे के बाद से जलस्तर में लगातार गिरावट आ रही है। जिससे अगले 6 घंटे के बाद से लगातार बढ़ते जलस्तर से लोगों को निजात मिलने की संभावना जताई जा रही है। 41 फाटक खोले गए हैं जिससे पानी को आसानी से निकाला जा सके। बाढ़ नियंत्रण कक्ष से मिली खैरियत रिपोर्ट के मुताबिक जलस्तर में बढ़ोतरी जरूर हुई है, लेकिन नदी के दोनों तटबंध के सभी स्पर सुरक्षित बताए जा रहे हैं। भुतही बलान नदी के जलस्तर में अप्रत्याशित वृद्धि के कारण बलान मार्जिनल तटबंध पर सामान्य से अधिक दबाव है। इस तटबंध के किलोमीटर 2.00 पर इस्लामपुर गांव के निकट कंट्री प्रभाग में ध्यान देने को कहा गया है। वहीं बलान मरजिंग तटबन्ध और पश्चिमी तटबंध के बिंदु जहां रेलवे क्रॉसिंग है, उसपर भी तटबंध के निचले लेवल पर कार्य कराए जा रहे है। मुख्य अभियंता जल निस्सरण एवं बाढ़ नियंत्रण प्रकाश दास ने बताया कि बारह क्षेत्र में अब डिस्चार्ज में कमी आ रही है और धीरे-धीरे जलस्तर में गिरावट आएगी, हमारे सभी स्पर सुरक्षित हैं, अभियंताओं को 24 घंटे सतत चौकसी और निगरानी बरतने को कहा गया है।

सुरक्षा बांध टूटने से इन गांवों में फैला पानी

रेल महासेतु गाइड बांध के पास श्रमदान से ग्रामीणों द्वारा बनाए गए सुरक्षा बांध के शुक्रवार की देर रात अचानक टूट जाने के बाद सुपौल, किशनपुर, मरौना प्रखंड के दो दर्जन से अधिक गांव में पानी फैल जाने से हरकंप मचा है। जानकारी के अनुसार सुरक्षा बांध टूटने से अर्राहा, नौआबाखर, भेलवा, हासा, मानिकपुर, झखराही, मोमिनटोला, तेलयारी, पीरगंज, ठाढ़ी धत्ता, बेला, मौजहा, पकरिया टोल, खखई, सुकमारपुर, दुबियाही, दिघिया, चकला, डभारी, निर्मली, खुखनाहा, सिसवा, पंचगछिया, दुबियाही, बेला, घीवक, मुंगरार, बलवा, नरहैया, बसुआ, तेलवा, मरिचा, परसौनी आदि गांवों में पानी फैल गया है।

5.30 किमी स्पर पर पानी चढ़ने के बाद भयभीत लोग।

पूर्वी कोसी तटबंध के 5.30 किमी स्पर पर चढ़ा नदी का पानी

भीमनगर| नेपाल के तराई क्षेत्र में लगातार हो रही बारिश के बाद कोसी नदी के जलस्तर में लगातार हो रही वृद्धि से कोसी तटबंध पर दबाव बढ़ गया है। पूर्वी कोसी तटबंध के 5.30 किलोमीटर स्पर पर कोसी नदी का पानी चढ़ जाने के कारण लोगों में हाहाकार मचा है। हालांकि पूर्वी तटबंध पर यह सबसे बड़ा स्पर बताया जा रहा है जिसकी लंबाई 1070 मीटर है। शनिवार को करीब तीन बजे के बाद स्पर पर कोसी नदी का पानी बढ़ने लगा और निरंतर बढ़ता ही जा रहा है। जिससे आसपास के लोगों मे बाढ़ को लेकर दहशत व्याप्त है। मुख्य अभियंता प्रकाश दास ने बताया कि घबराने की कोई बात नही है। तटबंध का यह स्पर एक प्रकार का गाइड बांध की तरह है और पूरी तरह से सुरक्षित भी है। जलस्तर में कमी होने के साथ साथ पानी उतर जाएगा। जानकार बताते हैं कि 1984 में हेमपुर के पास और 2008 में नेपाल प्रभाग के कुसहा के पास पहले कोसी ने स्पर पर दबाव बढ़ाना शुरू किया था।

नेपाल के वन और गृह राज्यमंत्री ने कोसी बराज का लिया जायजा, दिए निर्देश

कंट्रोल रूम को देखा, नदी का जलस्तर बढ़ने पर जताई चिंंता

भास्कर न्यूज | वीरपुर

नेपाल के गृह राज्यमंत्री हितमत कार्की और भू-संरक्षण सह वनमंत्री जगदीश कुसियैत ने शनिवार को डीआईजी इंद्रराज कार्की, सुनसरी सीडीओ, सुनसरी एसपी, सप्तरी सीडीओ व एसपी सहित अाला अधिकारियों के साथ कोसी बराज स्थित कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया।

इस दौरान उन्होंने सहायक अभियंता लाला प्रसाद से कोसी नदी के जलस्तर, गेटों की स्थिति, वर्तमान समय में गेटों का संचालन, नदी के जलस्तर में उतार-चढ़ाव और नहरों की स्थिति की जानकारी ली। एसडीओ लाला प्रसाद ने बताया कि बालू के कारण नहर को बंद रखा गया है। गृहराज्य मंत्री हितमत कार्की और वन मंत्री जगदीश कुसियैत ने कहा कि वर्ष 2008 में 1 लाख 62 हजार क्यूसेक के जलस्तर में कुसहा में बांध टूट गया था। इस साल जलस्तर दो लाख से अधिक हो गया है। ऐसे में चिंता स्वाभाविक है। कोसी में पानी अधिक रहने से सुनसरी जिले के कई गांव में पानी चला गया है। कहा कि पूर्व में आए बाढ़ के मद्देनजर लोग डरे हुए हैं। लिहाजा सरकार सभी एहतियाती कदम उठा रही है। कोसी के अभियंताओं सहित संवेदकों को कई आवश्यक निर्देश दिए गए हैं। मौके पर भारी संख्या में नेपाल एपीएफ के अधिकारी व जवान सहित कोसी बराज के सहायक अभियंता लाला प्रसाद, कनीय अभियंता अरविंद कुमार, संजय कुमार, संवेदक राजू सिंह, रॉकी सिंह व स्थानीय लोग मौजूद थे।

वीरपुर में काेसी बराज का निरीक्षण करते नेपाल के मंत्री व अन्य।

Virpur News - kosi39s highest so far in july 371 lakh cusec discharge water entered into 5000 houses of nirmali subdivision
Virpur News - kosi39s highest so far in july 371 lakh cusec discharge water entered into 5000 houses of nirmali subdivision
X
Virpur News - kosi39s highest so far in july 371 lakh cusec discharge water entered into 5000 houses of nirmali subdivision
Virpur News - kosi39s highest so far in july 371 lakh cusec discharge water entered into 5000 houses of nirmali subdivision
Virpur News - kosi39s highest so far in july 371 lakh cusec discharge water entered into 5000 houses of nirmali subdivision
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना