सतगुरु नानक प्रगटिया, मिट्टी धुंध जग चानन होआ नानक नाम चढ़दी कला तेरे भाने सरबत द भला

Supaul News - ‘सतगुरु नानक प्रगटिया, मिट्टी धुंध जग चानन होआ, नानक नाम चढ़दी कला तेरे भाने सरबत द भला’ के संदेश के साथ अनुमंडल...

Nov 13, 2019, 09:45 AM IST
Triveniganj News - satguru nanak pragatiya mud haze jag chanan hoa nanak naam chadi art tere bhane sarbat de bhala
‘सतगुरु नानक प्रगटिया, मिट्टी धुंध जग चानन होआ, नानक नाम चढ़दी कला तेरे भाने सरबत द भला’ के संदेश के साथ अनुमंडल मुख्यालय स्थित गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा मे मंगलवार को सिख धर्म के पहले गुरु सह संस्थापक श्री गुरु नानक देव जी महाराज का 550वां प्रकाशोत्सव श्रद्धा और भक्ति के साथ मनाया जा रहा है। मौके पर सिख समुदाय के साथ अन्य समुदाय के लोगों ने भी माथा गुरुद्वारा पहुंचकर मत्था टेका। चार दिनों से चल रहे प्रभात फेरी के उपरांत पांचवे दिन “बोले सो निहाल सत श्री अकाल’ के जयकारे लगाते हुए गुरु नानक देव जी महाराज के प्रकाश पर्व के उपलक्ष्य में आलौकिक नगर कीर्तन की तरह प्रभातफेरी निकाली गई।

नगर कीर्तन में शामिल सिख समाज की महिलाओं ने गुरुवाणी का गायन करते हुए नगर भ्रमण किया। नगर कीर्तन गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा से आरंभ होकर मुख्य मार्ग, लालपट्टी से मंगल बाजार होते हुए गुरुद्वारा साहिब पहुंचा। प्रभात फेरी में काफी संख्या में सभी धर्मों के लोग मौजूद थे। नगर कीर्तन में हाजिरी लगवा कर इलाही वाणी का आनंद लिया गया। गुरुद्वारा सचिव राजेंद्र सिंह की ओर से नगर कीर्तन का स्वागत किया गया। उन्होंने समुह संगत का स्वागत करते हुए कहा कि गुरु नानक देव जी ने पूरी मानवता को सामाजिक कुरीतियों से निकालने व हक सच की किरत कमाई करने का संदेश दिया। मौके पर गुरुद्वारे को गेंदा फूलों, गुब्बारे ओर रोशनी की लड़ियों से आकर्षक ढंग से सजाया गया। प्रभातफेरी के वापस गुरुद्वारा साहिब पहुंचने के उपरांत पुष्प वर्षा की गई। सुबह गुरु नानक देव की को समर्पित दीवान सजाया गया। जिसमें दो माह से चल रहे सहज पाठ की समाप्ति हुई।

देर शाम संध्याकालीन पाठ के साथ भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रम का किया गया आयोजन

सभी धर्मों के लोगों ने गुरुनानक देव जी की जयंती पर त्रिवेणीगंज गुरुद्वारा में टेका मत्था

भास दीवान के सामने संगत करते सिक्ख समुदाय के लोग।

पाठ करते ज्ञानी पूरण सिंह।

सत्संग व कीर्तन से भक्तिमय हुआ माहौल

सुखमनी साहिब, जापु जी साहिब व आनंद साहिब के पाठ के बाद ज्ञानी पूरण सिंह ने अरदास की। दीवान में स्त्री सत्संग सभा की ओर से शबद कीर्तन का गायन किया गया। झिम झिम बरसे अमृत धार, गुरु नानक ने लिया अवतार, सुन सुन नगरी भई फिर पीर पाया वीराना से संगत निहाल होती रही। शबद गायन मनजीत कौर, नवदीत कौर, गुरप्रीत कौर, यशप्रीत कौर, लवप्रीत कौर, जसमीत कौर आदि ने किया। कार्यक्रम में सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालु शामिल हुए। गुरुद्वारा प्रधान नवजीत सिंह ने बताया कि संध्या 7 बजे से शाम का दीवान सजेगा। जिसमें छोटे-छोटे बच्चों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति की जाएगी। साथ ही संध्याकालीन पाठ व संतों द्वारा गुरुनानक देव जी के आदर्शों का व्याख्यान किया जाएगा। अरदास के बाद कार्यक्रम का समापन होगा। साथ ही मौके पर लंगर का आयोजन किया जाएगा।

मंगलवार को प्रभातफेरी में शामिल सिख समुदाय के श्रद्धालु।

Triveniganj News - satguru nanak pragatiya mud haze jag chanan hoa nanak naam chadi art tere bhane sarbat de bhala
Triveniganj News - satguru nanak pragatiya mud haze jag chanan hoa nanak naam chadi art tere bhane sarbat de bhala
X
Triveniganj News - satguru nanak pragatiya mud haze jag chanan hoa nanak naam chadi art tere bhane sarbat de bhala
Triveniganj News - satguru nanak pragatiya mud haze jag chanan hoa nanak naam chadi art tere bhane sarbat de bhala
Triveniganj News - satguru nanak pragatiya mud haze jag chanan hoa nanak naam chadi art tere bhane sarbat de bhala
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना