कमाई का हिस्सा नहीं देने पर बेटे ने धारदार हथियार से हमलाकर पिता की कर दी हत्या

Supaul News - दुस्साहस : धरहारा के वार्ड-11 की घटना, पिता की मौत के बाद से बेटा फरार सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को जब्त कर...

Feb 15, 2020, 09:35 AM IST
Raghopur News - son killed by father with sharp edged weapon for not giving share of income
दुस्साहस : धरहारा के वार्ड-11 की घटना, पिता की मौत के बाद से बेटा फरार

सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को जब्त कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा

थाना क्षेत्र अंतर्गत धरहरा पंचायत स्थित वार्ड 11 में शुक्रवार की दोपहर एक पुत्र ने अपने ही पिता की धारदार हथियार से प्रहार कर हत्या कर दी। 55 वर्षीय चिरंजीव झा के घर से अचानक रोने-बिलखने की आवाज पर आसपास के लोग पहुंचे तो सबका दिल दहल गया। बात गांव में फैली कि चिरंजीव की हत्या उसके ही बड़े पुत्र संजीव कुमार झा ने कर दी है। जिसके बाद गांव के कुछ लोग जुटे और मामले को रफा-दफा करने में लग गए। हालांकि इस दौरान मृतक की 45 वर्षीय प|ी बेबी देवी रोते हुए बार-बार बेहोश हो रही थी। बहरहाल कुछ ग्रामीणों ने घटना की सूचना राघोपुर पुलिस को दी। लेकिन जब तक पुलिस पहुंचती, परिजन शव को अंतिम संस्कार के लिए लेकर जा चुके थे। स्थल पर पहुंचे थानाध्यक्ष सरोज कुमार ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। वही ग्रामीणों से लिखित आवेदन की मांग की।

पुलिस के जोर देने के बाद मामला रफा-दफा करने में जुटे ग्रामीणों ने मृतक के छोटे पुत्र 25 वर्षीय दीपक कुमार झा से आवेदन लिखवाया, जिसमें हत्या को दुर्घटना का रूप दे दिया गया। दीपक ने आवेदन में बताया कि उसके पिता अपने खपरैल घर के ऊपर छप्पर पर चढ़कर फूटा हुआ खपरा ठीक कर रहे थे। इसी क्रम में वह फिसल कर छप्पर से नीचे गिर गए और नीचे कुदाल एवं फासुल पर गिरने के कारण गंभीर रुप से जख्मी हो गए। बाद में अस्पताल ले जाने के क्रम में ज्यादा खून बहने की वजह से उनकी मौत हो गई। उसने आवेदन में हत्या की बात को नकारते हुए घटना के लिए किसी को जिम्मेवार नहीं बताया है।

15 हजार के मासिक वेतन पर काम करते थे चिरंजीव : जानकारी अनुसार मृतक चिरंजीव झा गणपतगंज स्थित प्लाई फैक्ट्री में 15 हजार की मासिक वेतन पर काम करते थे। जबकि उनका बड़ा बेटा संजीव बेरोजगार है। पिता द्वारा खर्च के लिए रुपए नहीं मिलने के कारण अक्सर संजीव का उनसे विवाद होता था। इसकी वजह से वह बीते दिनों अपने ननिहाल में रहने लगा था। शुक्रवार को वह ननिहाल से अपने घर लौटा था। जहां एक बार फिर पिता से विवाद के बाद उसने उनकी हत्या कर दी। घटना के बाद मामले को रफा-दफा करने में जुटे लोगों ने सबसे पहले उस हथियार को ठिकाने लगा दियाै। वही इसके बाद संजीव को भी वहां से भगा दिया गया, ताकि उससे कोई पूछताछ न हो सके। घटना के बाद संजीव फरार बताया जा रहा है।

छानबीन में जुटी है पुलिस


राघोपुर में मृतक के घर जमा लोगों की भीड़।

X
Raghopur News - son killed by father with sharp edged weapon for not giving share of income
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना