पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Supaul News The Members Of The Legal Association Were Out Of Judicial Work To Protest Against The Murder

हत्या के विरोध में विधिज्ञ संघ के सदस्य न्यायिक कार्य से रहे बाहर

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

भागलपुर में बिहार बार काउंसिल के उपाध्यक्ष भागलपुर व्यवहार न्यायालय के वरीय अधिवक्ता कामेश्वर पांडे की हत्या के विरोध में शनिवार को विधिज्ञ संघ सुपौल के अधिवक्ताओं ने खुद को न्यायिक कार्य से अलग रख आक्रोश जताया।

शनिवार को जिला विधिज्ञ संघ सभा भवन में संघ के उपाध्यक्ष मो. मुश्ताक अहमद चांद की अध्यक्षता में एक शोक सभा का आयोजन किया गया। अधिवक्ताओं ने दो मिनट का मौन धारण कर मृत आत्मा की शांति हेतु ईश्वर से प्रार्थना की। संघ के सचिव सुधीर कुमार झा ने कहा कि 5 मार्च को बदमाशों द्वारा भागलपुर व्यवहार न्यायालय के अधिवक्ता कामेश्वर पांडे की हत्या कर दी गई। उन्होंने कहा कि स्व. पांडे की हत्या ने अधिवक्ताओं के सुरक्षा पर प्रश्नचिन्ह खड़ा कर दिया है। ऐसी स्थिति में अधिवक्ता सुरक्षा कानून जल्द लागू हो। जिसे सभी सदस्यों ने सहमति प्रदान की। साथ ही स्व. पांडे के हत्यारों को अविलंब गिरफ्तार करने की भी मांग की। शोक व्यक्त करने वालों में नागेंद्र नारायण ठाकुर, डॉ. कुमार आशुतोष, अनिल कुमार वर्मा, बलराम ठाकुर, अखिल कुमार, लक्ष्मी नारायण झा, जौहर मंडल, धर्मेंद्र कामत, ललन कुमार मिश्र, अरूण कुमार राय, अशोक कुमार झा, सत्यदेव प्रसाद यादव, अशरफूल हौदा, पंकज दास, गणेश चौधरी, कुर्बान मंसूरी, पूनम कुमारी आदि मौजूद थे।

विधिज्ञ संघ भवन में शनिवार को शोक व्यक्त करते अधिवक्ता।
खबरें और भी हैं...