विज्ञापन

70 फीसदी रोगों का कारण है तंबाकू और नशापान

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 05:26 AM IST

Supaul News - जिले को तंबाकू मुक्त करने के अभियान में अब राष्ट्रीय बाल सुरक्षा कार्यक्रम के चलंत चिकित्सा दल को भी शामिल किया...

Supaul News - the reason for 70 percent of the diseases is tobacco and nutrition
  • comment
जिले को तंबाकू मुक्त करने के अभियान में अब राष्ट्रीय बाल सुरक्षा कार्यक्रम के चलंत चिकित्सा दल को भी शामिल किया जाएगा। इस संदर्भ में शनिवार को सदर अस्पताल परिसर स्थित नशा मुक्ति केंद्र सभागार में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया।

जिला तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम के नोडल पदाधिकारी डॉ. शिवशंकर विद्यार्थी व सीड्स के जिला कार्यक्रम पदाधिकारी मनोज कुमार झा के संयुक्त निर्देशन में आयोजित कार्यशाला के दौरान तंबाकू नियंत्रण को लेकर विभिन्न बिंदुओं पर चर्चा की गई। इस दौरान राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के चलंत चिकित्सा दल को कई तकनीकी बिंदुओं की जानकारी दी गई। बताया गया कि अब चलंत चिकित्सा दल के माध्यम से जिले के निजी एवं सरकारी स्कूलों में बच्चों के बीच तंबाकू सेवन से परहेज के लिए विशेष जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। इसके अलावा चलंत चिकित्सा दल क्षेत्र के स्कूलों में कोटपा अधिनियम की धारा 6 का अनुपालन सुनिश्चित कराएगा। सीड्स के जिला कार्यक्रम पदाधिकारी ने कहा कि प्रथम चरण में स्कूल के प्रधान व निदेशक को इस सूचना को प्रदर्शित करने के लिए प्रेरित किया जाएगा। अगले चरण में विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम स्कूलों में आयोजित किए जाएंगे। जिला तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम के नोडल पदाधिकारी ने बताया कि इस कार्यक्रम में सहयोग के लिए चलंत चिकित्सा दल के सदस्यों को भी प्रोत्साहन राशि का भुगतान किया जाएगा।

कार्यशाला में ये लोग रहे मौजूद : कार्यशाला में डॉ. प्रदीप कुमार शर्मा, डॉ. भरत कुमार साह, रमेश कुमार, डॉ. बृजमोहन पटेल, डॉ. रकिया यासमिन, डॉ. नीलम गुप्ता, डॉ नुरुद्दीन, डॉ पीके प्रभाकर, डॉ ललित कुमार, डाॅ संजीदा प्रवीण, डॉ बिनोद कुमार, डॉ परमेश्वर मंडल, डॉ नवल किशोर, निखिल गौरव, कृष्णा राजीव सिन्हा, रंजीत कुमार रमन, प्रियंका कुमारी, डॉ मो अमजद, डॉ रातीव रंजन, डॉ गंगाधर, सचिन कुमार, डॉ रेहान रेजा कासिम, सोनी कुमारी, मनिषा कुमारी, पिंकी कुमारी, रीता कुमारी मौजूद थे।

सुपौल में कार्यशाला में मौजूद चलंत चिकित्सा दल के सदस्य।

बच्चों के सबसे करीब हैं आरबीएसके के सदस्य

राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के जिला समन्वयक डॉ. संतोष कुमार मुखिया ने कहा कि शिक्षा विभाग और बच्चों के सबसे करीब स्वास्थ्य विभाग का आरबीएसके ही है। आरबीएसके के चलंत चिकित्सा दल के सदस्य अक्सर बच्चों से मुखातिब होते हैं। यही कारण है कि इस कार्यक्रम की जिम्मेवारी आरबीएसके को सौंपी गई है।

रोगों का मुख्य कारण तंबाकू का सेवन

डाॅ. विद्यार्थी ने कहा कि तंबाकू और नशापान की वजह से सबसे अधिक रोग फैलते हैं। दिनचर्या के अलावा तंबाकू और अन्य प्रकार के नशापान की वजह से हायपरटेंशन, बीपी, डायबिटीज सहित किडनी की समस्या भी होती है। यहां तक कि कैंसर जैसे रोग भी तंबाकू की वजह से ही सबसे अधिक फैलते हैं। करीब 70 फीसदी रोगों का कारण तंबाकू व अन्य प्रकार का नशापान है।

X
Supaul News - the reason for 70 percent of the diseases is tobacco and nutrition
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन