• Hindi News
  • Rajya
  • Bihar
  • Supaul
  • Chhatapur News there is no provision for endowment toilets drinking water and passenger sheds in the bus stand of 175 lakhs this year

बस स्टैंड का इस वर्ष भी 17.5 लाख में हुई बंदोबस्ती शौचालय, पेयजल व यात्री शेड तक की व्यवस्था नहीं

Supaul News - प्रखंड मुख्यालय स्थित बस पड़ाव मेंं यात्री सुविधा नदारद है। जिस कारण यात्रियों सहित वाहन चालकों को परेशानियों का...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:16 AM IST
Chhatapur News - there is no provision for endowment toilets drinking water and passenger sheds in the bus stand of 175 lakhs this year
प्रखंड मुख्यालय स्थित बस पड़ाव मेंं यात्री सुविधा नदारद है। जिस कारण यात्रियों सहित वाहन चालकों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है। मालूम हो कि एसएच के चौड़ीकरण के बाद सड़कों पर यात्री वाहनों की संख्या मेंं तेजी से बढ़ोतरी हुई है।

जिस कारण बस स्टैंड से दिल्ली, पटना, पूर्णिया, सहरसा, मधेपुरा सहित कई स्थानों से हर दिन वाहनों का परिचालन होता है और दर्जनों यात्रियों की आवाजाही होती है। यात्री बस स्टैंड में आपातस्थिति में शौचालय की खोज करते हैं और उन्हें पता चलता है कि बस स्टैंड में शौचालय है ही नहीं। ऐसे में जब शौचालय नहीं मिलता तो दिन के उजाले मेंं भी यात्री खुले मेंं शौच के लिए विवश हो जाते हैं। मालूम हो कि बस पड़ाव मेंं यात्री सुविधा के नाम एक पुराना पीपल का पेड़ है। जो पड़ाव की पहचान के साथ ही यहां आने वाले लोगों को राहत प्रदान कर रहा है। स्थानीय लोगों की मानें तो पड़ाव स्थल पर ना तो कहीं यात्रियों के बैठने की व्यवस्था है और ना ही पीने के पानी क़ी।

स्वच्छ भारत मिशन से अछूता है बस स्टैंड : बस स्टैंड अब तक स्वच्छ भारत मिशन से अछूता है। बस पड़ाव में अब तक एक अदद शौचालय नहीं है। स्थानीय दुकानदार बबलू चौधरी, मनोज कुमार, रामकुमार, रामलखन शर्मा, अशोक लाभ सहित कई लोगों ने बताया कि वर्षों पूर्व पंचायत समिति द्वारा यात्री शेड और शौचालय का निर्माण हुआ था। जो वर्षों से क्षतिग्रस्त है। यात्री शेड खंडहर मेंं तब्दील है। जबकि जर्जर शौचालय कचरे के ढेर मेंं तब्दील है। बताया कि अब सड़क ही बस पड़ाव है। जहां वाहन सड़क पर जहां-तहां खड़े किए जाते हैं। लोगों का कहना है कि पड़ाव की स्थिति बदतर होती जा रही है। बताया कि इस पड़ाव से सरकार को प्रत्येक वर्ष लाखों रुपए के राजस्व की प्राप्ति होती है। लोगों ने बताया कि इस बस पड़ाव मेंं यात्री सहित आमलोगों को होने वाली परेशानी से जनप्रतिनिधि से लेकर अधिकारी तक से गुहार लगाई गई पर अभी तक पड़ाव की सुधि लेने वाले नहीं आए। इसको लेकर तत्कालीन डीसीएलआर त्रिवेणीगंज रोजी कुमारी ने जल्द ही बस स्टैंड में एसबीएम के तहत शौचालय निर्माण का आश्वासन दिया था। लेकिन अब तक पहल नहीं हुई। जबकि इस पड़ाव से सरकार को वित्तीय वर्ष 2019-20 में भी 17 लाख 61 हजार रुपये राजस्व की प्राप्ति हुई है। इसके बाद भी पड़ाव में सुविधा नदारद है।

स्टैंड के नाम पर सड़क पर लगी बस।

चुनाव प्रक्रिया संपन्न होने के बाद होगा काम शुरू उप विकास आयुक्त मुकेश कुमार सिन्हा ने बताया कि लोकसभा चुनाव के मद्देनजर आदर्श आचार संहिता लागू है। चुनाव प्रक्रिया संपन्न होने के बाद उक्त पड़ाव में शौचालय सहित अन्य सुविधा बहाल करने का काम शुरू करवाया जाएगा।

X
Chhatapur News - there is no provision for endowment toilets drinking water and passenger sheds in the bus stand of 175 lakhs this year
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना