मिताली राज / अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 20 साल पूरे करने वाली इकलौती महिला क्रिकेटर बनीं

Mithali raj is the first woman cricketer to complete 20 years in international cricket
X
Mithali raj is the first woman cricketer to complete 20 years in international cricket

दैनिक भास्कर

Oct 20, 2019, 01:35 PM IST

लाइफ-मैनेजमेंट डेस्क.  वुमंस क्रिकेट के इतिहास में दो दशक लंबा अंतरराष्ट्रीय कॅरिअर पूरा करने वाली मिताली दोराई राज पहली खिलाड़ी हैं। मिताली ने 26 जून 1999 को पहला एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच खेला था। अपने पहले ही मैच में उन्होंने आयरलैंड के खिलाफ 114 रन की पारी खेली थी। इस बीच वुमंस क्रिकेट में सबसे ज्यादा 204 मैच में 6731 रन बनाकर मिताली शिखर पर पहुंच गई हैं। 20 साल और 105 दिन के अभी तक के कॅरिअर में वह कई रिकॉर्ड्स अपने नाम कर चुकी हैं। टी-ट्वेंटी इंटरनेशनल से संन्यास ले चुकीं मिताली का अगला लक्ष्य 2021 वर्ल्ड कप जीतना है।

मिताली पर बन रही बायोपिक

मिताली की कहानी जल्द ही बड़े पर्दे पर भी आने वाली है। तापसी पन्नू उनका किरदार निभाएंगी। मिताली खुद क्रिकेट में इत्तिफाकन आई थीं। बचपन से आलसी रहीं मिताली को पिता सुबह-सुबह उठाकर ग्राउंड सिर्फ इसलिए ले जाते थे, ताकि वह देर तक सोती ना रहें। 6 साल की मिताली अपने बड़े भाई मिथुन के साथ ग्राउंड जातीं। पिता के कहने पर कभी प्लास्टिक, तो कभी टेनिस बॉल से गेंदबाजी और बल्लेबाजी करतीं। ग्राउंड पर मिताली के बड़े भाई को प्रैक्टिस करवा रहे कोच ज्योति कुमार को पहली बार मिताली का टैलेंट दिखाई दिया। इसके बाद उन्होंने क्रिकेट की ट्रेनिंग लेना शुरू किया। महज 9 साल की उम्र में ही मिताली राज्य के सब जूनियर टूर्नामेंट में सिलेक्ट हो गई थीं। तमिल मूल की मिताली के पिता दोराई एयरफोर्स में एयरमैन थे। मां लीला राज निजी कंपनी में नौकरी करती थीं। दोराई इंडियन एयर फोर्स की क्रिकेट टीम में क्रिकेट खेलते थे। 

विश्व कप मैच के दौरान कवि रूमीकी किताब पढ़ती मिताली की यह तस्वीर जुलाई 2017 की है। उनकी निजी लाइब्रेी में 500 से ज्यादा किताबें है, इसके अलावा वह किंडल पर भी डिजिटल रूप में किताबें पढ़ती हैं। उन्हें महान लोगों की आत्मकथाएं पढ़ने का बेहद शौक है। मिताली भरतनाट्यम डांसर होने के साथ-साथ अच्छी गिटारिस्ट और पेंटर भी हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना