नीला विखे पाटिल / भारतीय मूल की नेता बनीं स्वीडन के प्रधानमंत्री की सलाहकार, विरासत में मिली है लीडरशिप क्वालिटी



nila vikhe patil appointed sweden pmo adviser biography and personal life
X
nila vikhe patil appointed sweden pmo adviser biography and personal life

Dainik Bhaskar

Feb 09, 2019, 07:40 PM IST

बायोग्राफी डेस्क. भारतीय मूल की नीला विखे पाटिल स्वीडन के प्रधानमंत्री कार्यालय में दूसरी बार राजनीतिक सलाहकार बनी हैं। वे महाराष्ट्र की राजनीति में गहरा दखल रखने वाले अहमदनगर के विखे पाटिल परिवार से आती हैं। उनके दादा बालासाहेब विखे पाटिल आठ बार सांसद रह चुके हैं। वे केंद्र में कैबिनेट और राज्यमंत्री भी रहे थे। उनके परदादा विठ्ठलराव विखे पाटिल ने एशिया की पहली को-ऑपरेटिव शुगर फैक्ट्री की स्थापना की थी। वहीं, नीला के पिता अशोक विखे पाटिल महाराष्ट्र में शिक्षा के क्षेत्र में बड़ा नाम हैं। उनके संरक्षण में चल रहा विखे पाटिल फाउंडेशन महाराष्ट्र में इस समय 100 से ज्यादा शिक्षण संस्थान चला रहा है। नीला के चाचा राधाकृष्णा विखे पाटिल महाराष्ट्र विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष हैं।

एपीजे अब्दुल कलाम को मानती हैं आदर्श

  1. नीला के पिता अशोक विखे एक बिज़नेस मीटिंग के लिए स्टॉकहोम(स्वीडन) गए हुए थे। वहीं उनकी मुलाकात इवा लिल से हुई। दोनों ने जल्दी ही शादी कर ली। नीला इन्हीं दोनों की बेटी हैं, जिनका जन्म साल 1987 में हुआ था। बाद में वे अपने माता-पिता के साथ भारत आ गईं। नीला की प्रीस्कूलिंग महाराष्ट्र के अहमदनगर में हुई। बाद में माता-पिता निजी कारणों से अलग हो गए और नीला अपनी मां के साथ स्टॉकहोम चली गईं। उनकी सारी एजुकेशन यूरोप में हुई। उन्होंने मैड्रिड की कॉम्प्लुतेंस यूनिवर्सिटी से अंग्रेजी, स्पेनिश और स्वीडिश भाषाओं में एमबीए किया है। नीला ने मैड्रिट के गोथनबर्ग स्कूल ऑफ बिजनेस से लॉ और इकोनॉमिक्स में भी एमबीए किया है।

  2. स्टॉकहोम जाने के बाद भी वे अपने पिता-दादा और परिवार वालों से जुड़ी रहीं। नीला जून 2018 में भारत आई थीं। एक इंटरव्यू में नीला ने बताया कि वे अपने दादा बालासाहेब से बहुत क्लोज रही हैं, वे उनके आदर्श हैं। 2016 में उनकी मृत्यु से पहले वे उनसे बहुत बातें करती थीं। उनके अलावा देश के पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम उनके आदर्श हैं। बकौल नीला, लीडरशिप का स्किल उन्हें उनके परिवार से मिली है। नीला के पिता अशोक विखे के अनुसार वे भारतीय सभ्यता से गहरी जुड़ी हुई हैं। भारत की मायथोलॉजी में उनकी गहरी रुचि है। जब भी उन्हें समय मिलता है वे भारत के इतिहास और मायथोलॉजी का अध्ययन करती हैं। भारत के अपने दोस्तों से भी जुड़ी रहती हैं। भारतीय खाने में उन्हें महाराष्ट्र की पिठलं, भाकरी, वरण भात पसंद है।

  3. प्रधानमंत्री कार्यालय में 32 साल की नीला वित्त, टैक्स, बजट, फाइनेंशियल मार्केट और हाउसिंग का काम देखेंगी। इससे पहले 2014-2016 में भी स्वीडन पीएमओ में एडवाइजर रह चुकी हैं। एडवाइजर के बाद वे जल्द ही ग्रीन पार्टी की ओर से सांसद बन सकती हैं। नीला जब 16 साल की थीं, तभी वे स्वीडन की ग्रीन पार्टी से जुड़ गई थीं। पर्यावरण बचाने के लिए काम करने वाली संस्था में वे बोर्ड मेंबर थीं। इसके अलावा वे स्वीडिश यंग ग्रीन, ग्रीन पार्टी गोथनबर्ग, ग्रीन स्टूडेंट ऑफ स्वीडन के साथ भी जुड़ी रही हैं। वे स्टॉकहोम म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन की सदस्य भी हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना