--Advertisement--

'पद्मावत' के बाद अब करणी सेना 'मणिकर्णिका' के पीछे पड़ी, मिलाया ब्राह्मणों से हाथ

हाल ही में कंगना रनोट की अपकमिंग पीरियड ड्रामा 'मणिकर्णिका' का विरोध किया जा रहा है।

Danik Bhaskar | Feb 08, 2018, 12:49 PM IST

मुंबई। 'पद्मावत' के बाद अब कंगना रनोट की अपकमिंग पीरियड ड्रामा 'मणिकर्णिका' पर आरोप लगा है कि इसमें झांसी की रानी को गलत तरीके से पेश किया जा रहा है। पिछले कुछ दिनों से राजस्थान की ब्राह्मण महासभा इस फिल्म का विरोध कर रही थी और अब इनके साथ करणी सेना भी आगे आ गई है। बता दें कि कुछ समय पहले ही करणी सेना ने संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावत' के खिलाफ अपना प्रोटेस्ट वापस लेने की घोषणा की है और अब ये फिर एक और विरोध में शामिल हो गए हैं। ब्राह्मणों ने भी दिया था करणी सेना का साथ...

- राजपूत करणी सेना के फाउंडर लोकेंद्र सिंह काल्वी का इस मामले में कहना है, "अगर ब्राह्मण का खून बहेगा तो राजपूत क्या चुप रहेगा। जब राजपूतों का खून बहा तो ब्राह्मण कभी चुप नहीं रहा।" इतना ही नहीं, इन्होंने ये दावा भी किया है कि जब पद्मावत का विरोध किया जा रहा था तो 10 हजार लैटर्स ब्राह्मणों ने अपने खून से साइन करके हमारे विरोध में साथ दिया था।


क्या है आरोप?


सर्व ब्राम्हण महासभा का आरोप है कि फिल्म में रानी लक्ष्मी बाई की एक ब्रिटिश ऑफिसर के साथ रिलेशनशिप दिखाई गई है। महासभा के संस्थापक और अध्यक्ष सुरेश मिश्रा का कहना है कि फिल्म का कुछ हिस्सा लन्दन बेस्ड ऑथर जय श्री मिश्रा की किताब 'रानी' से लिया गया है, जो यूपी सरकार ने उस वक्त बैन कर दी थी। फिर ऐसी किताब से ही फिल्म में अंश क्यों लिए गए हैं। बता दें कि फिल्म की शूटिंग अभी राजस्थान में चल रही है।

अगली स्लाइड्स में देखें कंगना के कुछ और फोटोज...