--Advertisement--

20 साल पहले मान लेते इस शख्स की बात तो आज कोर्ट में न रो रहे होते सलमान

20 साल पुराने काले हिरण के शिकार के मामले में सलमान खान दोषी करार दिए गए हैं। उन्हें 5 साल की सजा सुनाई गई है।

Danik Bhaskar | Apr 05, 2018, 05:59 PM IST
सलमान खान और सूरज बड़जात्या। सलमान खान और सूरज बड़जात्या।

मुंबई. 20 साल पुराने काले हिरण के शिकार के मामले में सलमान खान दोषी करार दिए गए हैं। उन्हें 5 साल की सजा सुनाई गई है। बाकी साथियों सोनाली बेंद्रे, तब्बू, सैफ अली खान और नीलम को बरी कर दिया है। मामला उस वक्त का है, जब ये पांचों राजस्थान में फिल्म 'हम साथ-साथ हैं' की शूटिंग कर रहे थे। लेकिन क्या आप जानते हैं कि अगर उस वक्त सलमान ने एक शख्स की सलाह मान ली होती तो यह केस कभी नहीं बनता और आज वे कोर्ट में खड़े होकर नहीं रो रहे होते। आखिर कौन था वह शख्स...

रिपोर्ट्स के मुताबिक, सलमान खान और सैफ अली खान हिरण शिकार का प्लान बना चुके थे। फिल्म के डायरेक्टर सूरज बड़जात्या ने उन्हें रोकने की कोशिश की थी। लेकिन उन्होंने एक नहीं मानी। सलमान और सैफ का साथ नीलम, तब्बू और सोनाली बेंद्रे ने दिया। कथिततौर पर वे हिरण का मांस खाना चाहती थीं। बता दें कि सलमान ने सूरज बड़जात्या के डायरेक्शन में 'हम साथ-साथ हैं ' के अलावा 'मैंने प्यार किया' (डेब्यू फिल्म, 1989), 'हम आपके हैं कौन' (1994) और 'प्रेम रतन धन पायो' (2015) में साथ काम किया है।

मोहनीश बहल, करिश्मा कपूर और महेश ठाकुर केस में फंसने से कैसे बच गए, पढ़ें आगे की स्लाइड्स...

करिश्मा कपूर। करिश्मा कपूर।

जोधपुर में नहीं थीं करिश्मा कपूर

 

करिश्मा कपूर फिल्म में सैफ अली खान की लव इंटरेस्ट बनी थीं। लेकिन जब सैफ, सलमान, नीलम, सोनाली और तब्बू ब्लैक बक के शिकार के लिए गए, तब वे जोधपुर में नहीं थीं। शायद यही वजह है कि करिश्मा उस वक्त इस गैंग का हिस्सा नहीं बन सकीं। 

मोहनीश बहल और महेश ठाकुर। मोहनीश बहल और महेश ठाकुर।

मोहनीश बहल और महेश ठाकुर ने कर दिया था साथ जाने से इनकार 

 

फिल्म की बाकी स्टारकास्ट में मोहनीश बहल और महेश ठाकुर थे। मोहनीश ने फिल्म में तब्बू के हसबैंड और महेश ठाकुर ने नीलम के हसबैंड का रोल किया था। जब सलमान और सैफ ने दोनों को शिकार के लिए इनवाइट किया तो उन्होंने साथ जाने से इनकार कर दिया और यह फैसला उनके लिए वरदान साबित हुआ।