न्यूज़

--Advertisement--

श्रीदेवी की मौत से पहले की कहानी, होटल में शनिवार रात हुआ था ये

श्रीदेवी का शनिवार रात को कार्डिएक अरेस्ट से निधन हो गया। अब उनकी मौत को लेकर अलग-अलग बातें सामने आ रही हैं।

Danik Bhaskar

Feb 26, 2018, 12:33 PM IST

दुबई. बॉलीवुड एक्ट्रेस श्रीदेवी का शनिवार रात को कार्डिएक अरेस्ट से निधन हो गया। अब उनकी मौत को लेकर अलग-अलग बातें सामने आ रही हैं। ऐसा कहा जा रहा है कि उनके पति बोनी कपूर उन्हें सरप्राइज देने के लिए दोबारा दुबई पहुंचे थे। वे उन्हें डिनर पर ले जाना चाहते थे। फ्रेश होने के लिए वे वॉशरूम गईं, लेकिन 15 मिनट तक बाहर नहीं निकलीं। बाद में देखने पर वे बाथटब में गिरी मिलीं। उधर, ये बात भी सामने आई है कि पति और बेटी के मुंबई लौटने के बाद श्रीदेवी दुबई के होटल के कमरे में अकेली थीं। निधन से पहले 48 घंटे तक बाहर भी नहीं निकली थीं।

श्रीदेवी को सरप्राइज डिनर पर ले जाना चाहते थे बोनी

- परिवार के एक करीबी के हवाले से खलीज टाइम्स ने रिपोर्ट दी कि बोनी कपूर शादी में शामिल होकर मुंबई लौट गए थे। 24 फरवरी को दोबारा दुबई लौटे और वे शाम करीब 5.30 बजे जुमैरा एमिरेट्स टॉवर होटल गए। यहां ही श्रीदेवी रुकी हुई थीं। बोनी श्रीदेवी को सरप्राइज डिनर पर ले जाने वाले थे।

- "बोनी ने श्रीदेवी को जगाया और दोनों ने करीब 15 मिनट बात की। इसके बाद श्रीदेवी वॉशरूम गईं। जब वे 15 मिनट तक नहीं लौटीं तो बोनी ने बाथरूम का दरवाजा खटखटाया।"
- "अंदर से कोई रिस्पॉन्स न मिलने पर उन्होंने धक्का देकर दरवाजा खोला। बोनी ने देखा कि श्रीदेवी अचेत हालत में बाथटब में गिरी हुई थीं। बोनी ने उन्हें होश में लाने की कोशिश की लेकिन नाकाम रहे। इसके बाद उन्होंने अपने दोस्त को फोन किया। इसके बाद उन्होंने करीब 9 बजे पुलिस को जानकारी दी।"
- पुलिस और डॉक्टरों के होटल आने के बाद उन्हें मृत घोषित घोषित कर दिया गया। इस बीच दुबई के भारतीय कॉन्स्युलेट ने श्रीदेवी का पासपोर्ट रद्द कर दिया है।

होटल के कमरे से 48 घंटे से बाहर नहीं निकली थीं श्रीदेवी

- कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पति और बेटी के मुंबई लौटने के बाद श्रीदेवी दुबई के होटल के कमरे में अकेली थीं। निधन से पहले 48 घंटे तक बाहर भी नहीं निकलीं। शनिवार रात बाथरूम में बेहोश होने के बाद उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया। दुबई पुलिस ने होटल का पूरा फ्लोर सील कर दिया है, ताकि जरूरी हो तो जांच की जा सके।

- बता दें कि श्रीदेवी, बोनी कपूर और उनकी छोटी बेटी खुशी के साथ भांजे मोहित मारवाह की शादी में शामिल होने दुबई गई थीं। शादी 22 फरवरी को हुई थी।

आखिर क्यों है मौत पर संदेह और क्यों श्रीदेवी को कहा जाता था पहली महिला सुपरस्टार? पढ़ें आगे की स्लाइड्स...

मौत की वजह पर संदेह

 

- शुरुआती रिपोर्ट में श्रीदेवी की मौत की वजह कार्डिएक अरेस्ट को बताया जा रहा है। बोनी के छोटे भाई संजय कपूर के मुताबिक, श्रीदेवी को दिल की बीमारी नहीं थी। ऐसे में कॉस्मेटिक सर्जरी मौत से जोड़ी जा रही है।

श्रीदेवी 29 सर्जरी करा चुकी थीं। एक में गड़बड़ी के बाद डाइट पिल्स और एंटी एजिंग दवाएं ले रही थीं। 
- फॉरेंसिक रिपोर्ट के बाद ही बॉडी परिवार को सौंपी जाएगी। पोस्टमार्टम और अन्य रिपोर्ट में कुछ संदिग्ध मिला तो पार्थिव शरीर सौंपने में और वक्त लग सकता है। दुबई में विदेशी नागरिकों की स्वाभाविक मौत पर भी कानूनी प्रक्रिया पूरी होने में एक-दो दिन लगते हैं।

... इसलिए श्री को कहा जाता है भारत की पहली महिला सुपरस्टार

 

1)1975 में महज 10 साल की उम्र में बतौर बाल कलाकार हिंदी फिल्म जूली में दिखी। 
2)फिल्म इंडस्ट्री में एक ओर जहां अभिनेत्रियों का कॅरिअर छोटा माना जाता है, वहां श्रीदेवी ने 50 साल कैमरे के सामने बिताए।
3)अपने कॅरिअर में 300 फिल्में कीं। शाहरुख की जीरो में आखिरी बार दिखेंगी। 300 फिल्मों में- तेलुगू (81), तमिल (72), हिंदी (71) कन्नड़ (50), मलयालम (26)।
4)1980 में श्रीदेवी की वजह से ही तमिल फिल्मों की हिंदी डबिंग शुरू हुई थी। 
5) तीन दशक तक श्रीदेवी तमिल, तेलुगू और हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में नंबर-1 पोजीशन पर रहीं।
6)4 फिल्मों में श्रीदेवी ने गाने भी गाए। ये फिल्में थीं- सदमा, चांदनी, गरजना और क्षणा क्षणम।
7)13 साल की उम्र में रजनीकांत की सौतेली मां का, 20 की उम्र में प्रेमिका का रोल किया।
8)बेस्ट एक्ट्रेस के लिए 5 बार फिल्मफेयर अवॉर्ड जीता। 2013 में पद्मश्री मिला। 
9) 2 दशक तक हाईएस्ट पेड एक्ट्रेस रहीं।
10)श्रीदेवी का असली नाम श्री अम्मा यंगर अय्यपन था।

Click to listen..