--Advertisement--

एक्ट्रेस बोली- अगर आप सोचती हैं कि डायरेक्टर के साथ सोने से मिलती हैं फिल्म तो...

आखिरी बार 'वोडका डायरीज' (2018) एक्ट्रेस रिया सेन का कहना है कि डायरेक्टर के साथ सोने से फिल्मों में काम नहीं मिलता।

Danik Bhaskar | Feb 22, 2018, 05:58 PM IST
राइमा सेन। राइमा सेन।

मुंबई. आखिरी बार 'वोडका डायरीज' (2018) एक्ट्रेस रिया सेन का कहना है कि डायरेक्टर के साथ सोने से फिल्मों में काम नहीं मिलता। एक लीडिंग अंग्रेजी वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में राइमा ने यह चौंकाने वाला बयान दिया। वे #MeToo अभियान के तहत बोल रही थीं। राइमा ने इस दौरान बातचीत में कहा कि वे खुशकिस्मत हैं कि कभी उन्हें ऐसे (सेक्शुअल) किसी हैरेसमेंट का सामना नहीं करना पड़ा। राइमा ने कहा- कभी काम नहीं करता यह फंडा...

- राइमा ने बातचीत में कहा, "यह सबकी अपनी-अपनी सोच हो सकती है। सभी को इस बात का अहसास होना चाहिए और मान लेना चाहिए कि सफलता का कोई शॉर्टकट नहीं होता। अगर आपको ऐसा लगता है कि आप डायरेक्टर के साथ सो जाएंगी और आपको फिल्म मिल जाएगी तो यह फंडा कभी काम नहीं करता।"


आगे की स्लाइड्स में पढ़े राइमा ने और क्या कहा...

नॉन फ़िल्मी फैमिली के लोग ऐसे चक्करों में पड़ जाते हैं

 

- राइमा की मां मुनमुन सेन और नानी सुचित्रा सेन बॉलीवुड और बंगाली सिनेमा की फेमस एक्ट्रेस रही हैं। राइमा का मानना ऐसा है कि जो यंगस्टर्स नॉन फ़िल्मी परिवारों से आते हैं वे कास्टिंग काउच जैसी चीजों में ज्यादातर फंस जाते हैं। 
- वे कहती हैं, "हो सकता है कि ऐसे न्यूकमर्स को पता न हो कि इंडस्ट्री में काम कैसे होता है। उन्हें सिस्टम को समझने की जरूरत है। हो सकता है कि वे ऐसा करने वाले हों, लेकिन सेक्शुअली एक्सप्लॉइट होना इंडस्ट्री में मुकाम बनाने का रास्ता नहीं हो सकता।"
- राइमा सेन का मानना यह भी है कि कास्टिंग काउच सिर्फ फिल्म इंडस्ट्री में ही नहीं, हर जगह मौजूद है।

टैलेंट ही सबकुछ होता है

 

-राइमा के मुताबिक, टैलेंट ही सबकुछ होता है। वे कहती हैं, "अगर आपके पास टैलेंट है तो आपका कोई बैकअप प्लान भी होगा। लेकिन अगर आपके पास टैलेंट नहीं है तो जाहिर सी बात है कि आपको खुद पर यकीन भी नहीं होगा।"

राइमा सेन ने किया इन फिल्मों में काम 

 

- राइमा ने 'दमन' (2001), 'परिणीता'(2005), 'सी कंपनी' (2008), 'तीन पत्ती' (2010) और 'बॉलीवुड डायरीज'(2016) जैसी कई बॉलीवुड फिल्मों में काम किया है।
- हिंदी के साथ-साथ उन्हें बांग्ला सिनेमा के लिए भी जाना जाता है।