--Advertisement--

बहन प्रिया बोलीं- जब रक्षाबंधन पर संजय दत्त के पास देने को कुछ नहीं होता था

पुरानी यादों, खुशी के पलों और इस बार के रक्षा बंधन को लेकर ओंकार कुलकर्णी की बातचीत प्रिया दत्त से हुई।

Dainik Bhaskar

Aug 07, 2017, 09:29 AM IST
प्रिया दत्त और संजय दत्त। प्रिया दत्त और संजय दत्त।
मुंबई. संजय दत्त जेल से सजा काट कर अपनी नॉर्मल लाइफ में लौट चुके हैं, जल्द ही परदे पर भी उनकी वापसी होने वाली है। ये दोनों ही बातें खास हैं, लेकिन सबसे खास है रक्षा बंधन का त्योहार। वो इसलिए क्योंकि संजय की बहनें प्रिया और नम्रता दत्त इस बार उन्हें घर पर राखी बांधने वाली हैं। एक वक्त वो भी था, जब दोनों बहनें राखी लेकर जेल जाया करती थीं और संजय के पास बहनों को देने के लिए कुछ भी नहीं होता था। वैसे संजय अपनी बहनों को एक्सपेंसिव गिफ्ट्स देते रहे हैं, लेकिन इस बार बहनों को एक्सपेंसिव गिफ्ट नहीं चाहिए, ऐसा क्यों? बता रही हैं प्रिया दत्त...

"मैं बहुत खुश हूं। इस राखी पर मैं संजय के घर जाने वाली हूं। घर पर करीबियों के लिए छोटा सा फंक्शन भी रखा है। मैं और नम्रता तो संजय को राखी बांधेंगे ही, संजय की बेटी इकरा भी भाई शाहरान और अपने कजिन को राखी बांधने वाली है।"
जब हमने प्रिया से यह पूछा कि इस राखी पर दोनों बहनें अपने भाई से क्या गिफ्ट एक्सपेक्ट कर रही हैं तो उनका जवाब था, "संजय जेल से बाहर है, पूरे परिवार के साथ हम उसे घर पर मिलने वाले हैं और वहीं पर राखी बांधने वाले हैं। इससे बड़ा तोहफा हमारे लिए और क्या हो सकता है?"
आगे की स्लाइड्स में पढ़िए, जब राखी पर देने के लिए बहन से ही पैसे उधर लेते थे संजय दत्त...
प्रिया, नम्रता और संजय दत्त। प्रिया, नम्रता और संजय दत्त।
पुरानी यादें शेयर करते हुए प्रिया ने बताया, "जब संजय हॉस्टल में था तो वह नम्रता से पैसे उधार लिया करता था और राखी के त्योहार पर राखी बंधवाकर वही पैसे हमें दे दिया करता था। दरअसल, राखी पर वह हमें स्पेशल फील करवाने के लिए ऐसा करता था। ...और उधार इसलिए लेता था, क्योंकि उसकी पॉकेट मनी कम थी। वैसे संजय ने हमें कभी खाली हाथ नहीं लौटने दिया। बॉलीवुड का बड़ा सितारा बनने के बाद उसने हमें हमेशा ही एक्सपेंसिव गिफ्ट दिए। 
 
आगे की स्लाइड्स में पढ़िए, जब संजय ने बहनों को दिए जेल में मिले 2-2 रुपए के कूपन...
प्रिया दत्त और संजय दत्त। प्रिया दत्त और संजय दत्त।
प्रिया ने आगे बताया, "संजय जब ठाणे जेल में थे। हमने जेल में उनसे मुलाकात करने की परमिशन ली। उस वक्त हम सब टूट चुके थे। राखी का त्योहार था और हम संजय को राखी बांधने के लिए जेल में गए। मैंने राखी बांधी और संजय मुझे बोले- 'इस राखी पर मैं तुम्हें कुछ नहीं दे सकता, लेकिन मैंने ये कूपन तुम्हारे लिए संभालकर रखे थे।' वो 2-2 रुपए के कूपन थे, जो संजय को जेल में मिलते थे। वह कूपन मेरे लिए इतने प्रीशियस थे कि आज तक मैंने संभालकर रखे हैं।" 
X
प्रिया दत्त और संजय दत्त।प्रिया दत्त और संजय दत्त।
प्रिया, नम्रता और संजय दत्त।प्रिया, नम्रता और संजय दत्त।
प्रिया दत्त और संजय दत्त।प्रिया दत्त और संजय दत्त।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..