--Advertisement--

इस एक्टर ने किए 150 से ज्यादा रेप सीन, लेकिन देखी हैं सिर्फ 10 फिल्में

अपने जमाने के फेमस विलेन्स में शामिल रंजीत ने पूरे करियर में 200 से ज्यादा फिल्मों में काम किया है।

Danik Bhaskar | Dec 29, 2017, 07:01 PM IST
एक सीन में रेखा के साथ रंजीत। एक सीन में रेखा के साथ रंजीत।

मुंबई. अपने जमाने के फेमस विलेन्स में शामिल रंजीत ने पूरे करियर में 200 से ज्यादा फिल्मों में काम किया है। 70 और 80 के दशक में उनकी पहचान फिल्मों में रेपिस्ट के रोल की बन चुकी थी। रंजीत ने करीब 150 से ज्यादा फिल्मों में रेप सीन दिए हैं। लेकिन आपको यह सुनकर आश्चर्य होगा कि खुद रंजीत ने अब तक महज 10 फिल्में ही देखी हैं। यह खुलासा उन्होंने हाल ही में शो 'एंटरटेनमेंट की रात' के सेट पर किया। न नॉनवेज खाते हैं और न शराब पीते हैं...

- हाल ही में शक्ति कपूर और रंजीत टीवी को शो ‘एंटरटेनमेंट की रात’ के विलेन स्पेशल एपिसोड पर बुलाया गया। दोनों ने यहां ना सिर्फ एंटरटेन किया, बल्कि अपने स्कूली और फिल्मी सफर के राज भी बताए।
- रंजीत ने अपनी सेहत का राज बताते हुए कहा, "मैं कभी जिम नहीं गया। मेरे जमाने में आज जैसा जिम का क्रेज था भी नहीं। जीवन में न कभी नॉन वेज खाया और न कभी शराब पी।"

'गाइड' पहली फिल्म, जो रंजीत ने देखी

- फिल्मों को लेकर रंजीत ने खुलासा किया कि उन्होंने अपने पूरे जीवन सिर्फ 10 फिल्में ही देखी हैं और पहली फिल्म ‘गाइड’ देखी थी।
- वहीं शक्ति कपूर ने बताया कि वे स्कूली दिनों में बड़े शरारती स्वभाव के थे। इसके चलते उन्हें तीन बार स्कूल से निकाला गया। खेलकूद में वे अव्वल थे, इसलिए उन्हें क्रिकेट टीम का कप्तान बनाया गया था।

वैसे, रंजीत की लाइफ के कई रोचक किस्से हैं, जो ज्यादातर लोग नहीं जानते होंगे। आगे की स्लाइड्स में पढ़ें ये किस्से...

फिल्म 'शर्मीली' के एक सीन में रंजीत (बाएं)। फिल्म 'शर्मीली' के एक सीन में रंजीत (बाएं)।

घरवालों ने बंद कर दी थी एंट्री

 

- रंजीत ने एक इंटरव्यू में कहा था, "जब घरवालों ने टीवी पर मुझे बलात्‍कारी का रोल करते देखा तो मुझे अंदर नहीं घुसने नहीं दिया। मां-बाप, रिश्‍तेदार सभी ने मुझसे रिश्‍ता रखना बंद कर दिया था।"
- "मां ने कहा था- तूने ऐसा काम किया है, अब हम लोगों को क्‍या मुंह दिखाएंगे?"
 - बकौल रंजीत, "फिल्म 'शर्मीली' में मेरा नेगेटिव रोल था। मैं ऐसे घर का था, जहां फिल्मी मैगजीन तक नहीं पढ़ी जाती थी। पहली फिल्म में मेरे रोल की काफी तारीफ हुई। दिल्ली में फिल्म का प्रीमियर होना था, जिसमे मेरे पेरेंट्स आए। फिल्म में जब मेरा रेप वाला सीन आया, तो पूरा परिवार उठ कर बाहर चला गया। फिर जब मैं घर पहुंचा, तो पूरा परिवार ऐसे बैठा था, जैसे मैं कोई बहुत बड़ा गुनाह कर के आया हूं। मां ने कहा- तू यहां से चला जा, तूने बलात्कार किया। फिर मैंने उन्‍हें बहुत समझाया कि वो फिल्म का एक सीन था, जिसका सच से कोई लेना देना नहीं। ऐसे ही एक फिल्म में मेरी मौत का सीन था, जिस पर मां ''मेरा बेटा मर गया'', कहकर खूब रोई थी।"

'प्रेम प्रतिज्ञा' के एक सीन में माधुरी दीक्षित। 'प्रेम प्रतिज्ञा' के एक सीन में माधुरी दीक्षित।

सबसे मुश्किल सीन कौन सा लगा आज तक ?

 

- रंजीत के मुताबिक, "आजतक मेरा सबसे टफ रेप सीन था, रीना रॉय के साथ, जोकि फिल्म 'डाकू और जवान' में था। इस शॉट को मंदिर में फिल्माना था, जिसमे चारों तरफ लाइट थी, मेरे और रीना की बॉडी पर मिट्टी का तेल डाला गया था। हम दोनों ही इस शॉट को लेकर बहुत डरे हुए थे। इसके आलावा, फिल्म 'प्रेम प्रतिज्ञा' में माधुरी दीक्षित रेप सीन में बहुत डरी हुई थी। वो मेरे साथ ये सीन नहीं करना चाहती थी, लेकिन शॉट के बाद उन्‍होंने खुद कहा कि मुझे फील ही नहीं हुआ कि आपने मुझे टच भी किया।" 

फिल्म 'रेशमा और शेरा' के एक सीन में रंजीत। फिल्म 'रेशमा और शेरा' के एक सीन में रंजीत।

पहली फिल्म की सैलरी

 

- रंजीत के अनुसार, "पहली फिल्म मेरी 'सावन भादों' थी, जिसके लिए मुझे 1500 रुपए मिले थे। एक हफ्ते की शूट के बाद मुझे 250 रूपए का चेक मिला, जिसे मैंने मोमेंटो की तरह रखा था। फिर मुझे फिल्म 'शर्मीली' के लिए 1500 रुपए मिले। जिसके बाद मैंने बंगला किराए पर लिया, जिसका किराया 500 रुपए था। इस फिल्म के बाद मैंने सुनील दत्त साहब की 'रेशमा और शेरा' में काम किया, जिसके लिए मुझे 12 हजार रुपए मिले थे।"
- रंजीत ने इस दौरान अपनी पहली कार के बारे में भी बताया। उन्होंने कहा, "पहली कार मैंने हाफ लिंगेर जीप ली थी, जिसमें 30 सीट होती हैं। वो ऑस्ट्रिया से आई थी। कितने की थी, ये मुझे याद नहीं।"

पत्नी अलोका के साथ रंजीत। पत्नी अलोका के साथ रंजीत।

शुरू से ही फिल्मो में आना चाहते थे?

 

रंजीत कहते हैं, "मैं फिल्मों में नहीं आना चाहता था, ये महज इत्तेफाक है। मैं तो फिल्में देखता ही नहीं था, क्‍यूंकि मैं फुटबॉल प्लेयर था। मुझे लगता था फिल्म देखने से मेरा स्टेमिना बर्बाद हो जाएगा। फिल्मों में आने से पहले मैं एयरफोर्स में सिलेक्‍ट हुआ था, लेकिन नसीब में था फिल्मों में काम करना और मैं मुबई चला आया।"