--Advertisement--

'मन की बात' में मोदी ने की अक्षय के फिटनेस की तारीफ...खिलाड़ी कुमार ऐसे रहते हैं फिट

Dainik Bhaskar

Apr 29, 2018, 01:45 PM IST

रविवार को पीएम मोदी ने 'मन की बात' में अक्षय कुमार की फिटनेस की तारीफ की।

अक्षय कुमार, पीएम मोदी, PM Modi Says About Akshay Kumar Fitness In Maan Ki Baat

एंटरटेनमेंट डेस्क. रविवार को पीएम नरेंद्र मोदी ने 'मन की बात' में अक्षय की फिटनेस को लेकर कहा, एक्टर अक्षय ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया है। मैंने भी देखा और आप सब भी जरूर देखे। इसमें वो वुडन बिड्स के साथ एक्सरसाइज करते नजर आ रहे हैं। ये एक्सरसाइज पीठ और पेट की मांसपेशियों के लिए काफी लाभदायक है। उनका एक और वीडियो भी खूब प्रचलित हुआ है, जिसमें वे लोगों के साथ बॉलीवॉल में हाथ आजमा रहे हैं। आपको बता दें कि अक्षय कुमार इन दिनों अपनी अपकमिंग फिल्म 'केसरी' की शूटिंग में बिजी हैं। आज आपको अक्षय कुमार की फिटनेस का राज बताने जा रहे हैं...


- 2017 में एक इंटरव्यू के दौरान अक्षय कुमार ने अपने फिटनेस सीक्रेट्स शेयर किए थे।
- अक्षय ने कहा, "मैं बस अपनी फैमिली और वर्कआउट का ख्याल रखता हूं। कभी स्ट्रेस नहीं लेता, हमेशा खुश रहता हूं।"
- हेल्दी लाइफ के बारे में अक्षय ने कहा था कि इसके लिए कोई साइंस नहीं है। सभी को सादा जीवन जीने की कोशिश करनी चाहिए।

आगे की स्लाइड्स में पढ़ें अक्षय की फिटनेस से जुड़ी कुछ और बातें...

कहा जाता है कि अक्षय कुमार मोस्टली नाइट शिफ्ट को अवॉयड करते हैं। ताकि उनका डेली रुटीन (रात में जल्दी सोकर और सुबह जल्दी उठने सहित) गड़बड़ न हो। कहा जाता है कि अक्षय कुमार मोस्टली नाइट शिफ्ट को अवॉयड करते हैं। ताकि उनका डेली रुटीन (रात में जल्दी सोकर और सुबह जल्दी उठने सहित) गड़बड़ न हो।
अक्षय हर दिन एक या डेढ़ घंटे तक ही वर्कआउट करते हैं। उनका कोई फिक्स शेड्यूल नहीं है।एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया था कि वे वही करते हैं, जो उनका दिल करता है। अक्षय हर दिन एक या डेढ़ घंटे तक ही वर्कआउट करते हैं। उनका कोई फिक्स शेड्यूल नहीं है।एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया था कि वे वही करते हैं, जो उनका दिल करता है।
अपने दिन की शुरुआत अक्षय हैवी ब्रेकफ़ास्ट के साथ करते हैं, जिसमें अंडे, परांठा और जूस या मिल्कशेक शामिल होता है। अपने दिन की शुरुआत अक्षय हैवी ब्रेकफ़ास्ट के साथ करते हैं, जिसमें अंडे, परांठा और जूस या मिल्कशेक शामिल होता है।
लंच के लिए भी वे घर के खाने को प्राथमिकता देते हैं। उनके टिफिन में दाल, रोटी, चावल और सीजनल सब्जी शामिल होती है। वहीं डिनर की बात करें तो उसमें हल्का खाना होता है। सूप, सलाद और चिकन उनके डिनर का हिस्सा होते हैं। लंच के लिए भी वे घर के खाने को प्राथमिकता देते हैं। उनके टिफिन में दाल, रोटी, चावल और सीजनल सब्जी शामिल होती है। वहीं डिनर की बात करें तो उसमें हल्का खाना होता है। सूप, सलाद और चिकन उनके डिनर का हिस्सा होते हैं।
अक्षय कुमार ने एक इंटरव्यू में कहा था कि उनकी खुशहाली और फिटनेस का राज उनकी पॉजिटिव सोच है। निगेटिविटी को वे हमेशा अवॉयड करते हैं। अक्षय कुमार ने एक इंटरव्यू में कहा था कि उनकी खुशहाली और फिटनेस का राज उनकी पॉजिटिव सोच है। निगेटिविटी को वे हमेशा अवॉयड करते हैं।
खुद अक्षय ने इस बात का खुलासा 2017 में एक इंटरव्यू के दौरान किया था कि वे शराब और सिगरेट नहीं पीते। यहां तक उन्होंने कभी चाय या कॉफ़ी भी नहीं ली। खुद अक्षय ने इस बात का खुलासा 2017 में एक इंटरव्यू के दौरान किया था कि वे शराब और सिगरेट नहीं पीते। यहां तक उन्होंने कभी चाय या कॉफ़ी भी नहीं ली।
अक्षय कुमार ने एक इंटरव्यू में कहा था कि 32 साल से वे प्रैक्टिस कर रहे हैं, लेकिन अब तक 6 पैक से ज्यादा एब्स नहीं बना सके। अक्षय कहते हैं कि इसके लिए धैर्य की जरूरत होती है। मसल्स की ग्रोथ के लिए एक्सरसाइज की जरूरत होती है। जो लोग तीन महीने में मसल्स फुलाने का दावा करते हैं, वे या तो आर्टिफीशियल होती हैं या फिर हानिकारक चीजों का इस्तेमाल कर बनाई जाती हैं। अक्षय कुमार ने एक इंटरव्यू में कहा था कि 32 साल से वे प्रैक्टिस कर रहे हैं, लेकिन अब तक 6 पैक से ज्यादा एब्स नहीं बना सके। अक्षय कहते हैं कि इसके लिए धैर्य की जरूरत होती है। मसल्स की ग्रोथ के लिए एक्सरसाइज की जरूरत होती है। जो लोग तीन महीने में मसल्स फुलाने का दावा करते हैं, वे या तो आर्टिफीशियल होती हैं या फिर हानिकारक चीजों का इस्तेमाल कर बनाई जाती हैं।
X
अक्षय कुमार, पीएम मोदी, PM Modi Says About Akshay Kumar Fitness In Maan Ki Baat
कहा जाता है कि अक्षय कुमार मोस्टली नाइट शिफ्ट को अवॉयड करते हैं। ताकि उनका डेली रुटीन (रात में जल्दी सोकर और सुबह जल्दी उठने सहित) गड़बड़ न हो।कहा जाता है कि अक्षय कुमार मोस्टली नाइट शिफ्ट को अवॉयड करते हैं। ताकि उनका डेली रुटीन (रात में जल्दी सोकर और सुबह जल्दी उठने सहित) गड़बड़ न हो।
अक्षय हर दिन एक या डेढ़ घंटे तक ही वर्कआउट करते हैं। उनका कोई फिक्स शेड्यूल नहीं है।एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया था कि वे वही करते हैं, जो उनका दिल करता है।अक्षय हर दिन एक या डेढ़ घंटे तक ही वर्कआउट करते हैं। उनका कोई फिक्स शेड्यूल नहीं है।एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया था कि वे वही करते हैं, जो उनका दिल करता है।
अपने दिन की शुरुआत अक्षय हैवी ब्रेकफ़ास्ट के साथ करते हैं, जिसमें अंडे, परांठा और जूस या मिल्कशेक शामिल होता है।अपने दिन की शुरुआत अक्षय हैवी ब्रेकफ़ास्ट के साथ करते हैं, जिसमें अंडे, परांठा और जूस या मिल्कशेक शामिल होता है।
लंच के लिए भी वे घर के खाने को प्राथमिकता देते हैं। उनके टिफिन में दाल, रोटी, चावल और सीजनल सब्जी शामिल होती है। वहीं डिनर की बात करें तो उसमें हल्का खाना होता है। सूप, सलाद और चिकन उनके डिनर का हिस्सा होते हैं।लंच के लिए भी वे घर के खाने को प्राथमिकता देते हैं। उनके टिफिन में दाल, रोटी, चावल और सीजनल सब्जी शामिल होती है। वहीं डिनर की बात करें तो उसमें हल्का खाना होता है। सूप, सलाद और चिकन उनके डिनर का हिस्सा होते हैं।
अक्षय कुमार ने एक इंटरव्यू में कहा था कि उनकी खुशहाली और फिटनेस का राज उनकी पॉजिटिव सोच है। निगेटिविटी को वे हमेशा अवॉयड करते हैं।अक्षय कुमार ने एक इंटरव्यू में कहा था कि उनकी खुशहाली और फिटनेस का राज उनकी पॉजिटिव सोच है। निगेटिविटी को वे हमेशा अवॉयड करते हैं।
खुद अक्षय ने इस बात का खुलासा 2017 में एक इंटरव्यू के दौरान किया था कि वे शराब और सिगरेट नहीं पीते। यहां तक उन्होंने कभी चाय या कॉफ़ी भी नहीं ली।खुद अक्षय ने इस बात का खुलासा 2017 में एक इंटरव्यू के दौरान किया था कि वे शराब और सिगरेट नहीं पीते। यहां तक उन्होंने कभी चाय या कॉफ़ी भी नहीं ली।
अक्षय कुमार ने एक इंटरव्यू में कहा था कि 32 साल से वे प्रैक्टिस कर रहे हैं, लेकिन अब तक 6 पैक से ज्यादा एब्स नहीं बना सके। अक्षय कहते हैं कि इसके लिए धैर्य की जरूरत होती है। मसल्स की ग्रोथ के लिए एक्सरसाइज की जरूरत होती है। जो लोग तीन महीने में मसल्स फुलाने का दावा करते हैं, वे या तो आर्टिफीशियल होती हैं या फिर हानिकारक चीजों का इस्तेमाल कर बनाई जाती हैं।अक्षय कुमार ने एक इंटरव्यू में कहा था कि 32 साल से वे प्रैक्टिस कर रहे हैं, लेकिन अब तक 6 पैक से ज्यादा एब्स नहीं बना सके। अक्षय कहते हैं कि इसके लिए धैर्य की जरूरत होती है। मसल्स की ग्रोथ के लिए एक्सरसाइज की जरूरत होती है। जो लोग तीन महीने में मसल्स फुलाने का दावा करते हैं, वे या तो आर्टिफीशियल होती हैं या फिर हानिकारक चीजों का इस्तेमाल कर बनाई जाती हैं।
Astrology

Recommended

Click to listen..