--Advertisement--

MOVIE REVIEW: SHORTCUT ROMEO

। फिल्म की कहानी को शुरू हुए कुछ ही मिनट होते हैं, लोग नील नितिन मुकेश उर्फ सूरज का करेक्टर समझ ही रहे होते हैं।

Dainik Bhaskar

Jun 21, 2013, 12:12 AM IST
MOVIE REVIEW: SHORTCUT ROMEO

फिल्म का नाम शॉर्टकट रोमियो नहीं, बल्कि शॉर्ककट टू सक्सेस होना चाहिए था, जो इस फिल्म के किरदारों के लिए रियल और रील लाइफ दोनों में फिट लगता है। फिल्म की कहानी शुरू हुए कुछ ही मिनट होते हैं और लोग सूरज (नील नितिन मुकेश) का कैरेक्टर समझ ही रहे होते हैं कि मोनिका (अमीषा पटोल) और आशीष (जतिन ग्रेवाल) का झाड़ियों के पीछे लव मेकिंग सीन शुरू हो जाता है। यह लगभग 40 सेकंड का है। इस सीन के बाद दर्शकों की नज़रें नील से एकदम हट जाती हैं और फोकस अमीषा पटेल पर आ जाता है।

नील का किरदार अब एकदम अपनी ग्रिप छोड़ देता है और दर्शक अमीषा के इस एक्सट्रामैरेटल अफेयर के बारे में और भी ज्यादा जानने को उत्सुक हो जाते हैं। कुछ देर बाद आपको लगता है कि आप टीवी पर आने वाले किसी क्राइम शो का कोई ऐपिसोड देख रहे हैं, जिसमें पत्नी का अपने पति के दोस्त से एक्सट्रामैरेटल अफेयर शुरू हो जाता है। इस फिल्म में अमीषा के पति का किरदार निभा रहे राजेश श्रृंगारपुरे की एक्टिंग कम से कम नील नितिन मुकेश से तो बेहतर है।

हालांकि, राहुल के किरदार ने सिर्फ फिल्म के क्लाइमेक्स में ही अपना जलवा दिखाया, लेकिन नील की पूरी फिल्म में डायलॉग डिलीवरी एकदम बकवास है। कहानी में जब-जब आपको बोरियत महसूस होती है, तब-तब सेक्स सीन में नहीं तो कम से कम हीरोइन बिकिनी में नज़र आ जाती है। यानी सिंगल स्क्रीन थिएटर्स पर इस फिल्म के चलने के काफी चांस हैं।

वैसे, आपको बता दें कि अमीषा के अलावा फिल्म में दूसरी हीरोइन हैं पूजा गुप्ता। कहानी में पूजा नील के अपोज़िट हैं, लेकिन इन्हें एक्टिंग क्लास लेने की सख्त ज़रूरत है, क्योंकि हर बार फिल्म बिकिनी बॉडी दिखाने से नहीं चलेगी।

फिल्म मुंबई और केन्या में शूट की गई है। सिनेमेटोग्राफी पर पकड़ कच्ची है। हालांकि, नज़ारा कलरफुल हो सकता था, लेकिन अंत तक फिल्म में डल लुक ही आया है। न ही केन्या में दिखाए गए सफारी सीन और शूटिंग के साथ फुल जस्टिस हुआ है और न ही स्क्रीनप्ले के साथ।

कहानी के फर्स्ट हाफ में नील नितिन मुकेश का बर्ताव ऐसा क्यों है, वो सेकेंड हाफ में समझ में आता है, लेकिन किरदार में एंट्री करने के लिए नील ने जितनी मशक्कत की है, वो उनके चेहरे पर साफ नज़र आ रहा है। ऐसा लग रहा है कि नील डायलॉग्स डिलीवरी के वक्त शायद यह प्रार्थना कर रहे थे कि लोग उनके किरदार को ज़रूर पसंद करें।

कहानी में सूरज पूरी ज़िंदगी अमीर रहना चाहता है। इसके लिए वो आशीष और मोनिका का सेक्स वीडियो बनाता है और पूरी फिल्म में उसे लीक करने की धमकी देता रहता है। कहानी में नील और अमीषा के बीच इस सेक्स वीडियो के लीक होने का ही गेम चलता रहता है। शतरंज के इस गेम में अचानक पूजा की एंट्री होती है, जिससे नील को प्यार हो जाता है और कहानी में आता है नया ट्विस्ट।

अमीषा के पति राहुल को जब इस सेक्स वीडियो का पता चलता है तो उनका किरदार सरप्राइज़ लेकर आता है। यानी फिल्म में अमीषा, राहुल और आशीष की एक्टिंग ठीक है। नील के कुछ एक्शन सीन्स भी हैं, लेकिन उनमें कुछ अलग नहीं है। कहना पड़ेगा कि अमीषा ने कहानी में स्किन शो करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। खैर, एक अमीर पति की बीवी का किरदार जो निभा रही हैं वो।

फिल्म में मोहित चौहान की आवाज़ में यह गाना ‘खाली सलाम दुआ’ आपको पसंद आएगा। मीका और हिमेश ने भी फिल्म में गाने गाए हैं, जो हो सकता है कि पार्टीज़ और डिस्को की शान बढ़ाएं। लेकिन गाने सुनकर कुछ खास मज़ा नहीं आया।

फिल्म में कॉमेडी के तड़के के लिए चिकनी चमेली, जलेबी बाई और मुन्नी का डांस भी दिखेगा। फिल्म देखकर एक बार तो आपको ऐसा लगेगा कि डायरेक्टर ने यह फिल्म बनाने से पहले फिल्म हमराज़ 10 बार देखी है और फिर उसे नए सिरे से बनाने की कोशिश की गई है। लेकिन ऐसा मुमकिन नहीं हो पाया। हालांकि, इस फिल्म के डायरेक्टर सुसी गणेशन को 3 तमिल फिल्म के लिए तमिलनाडु स्टेट फिल्म अवार्ड मिल चुके हैं, लेकिन इस फिल्म पर और काम हो सकता था।

X
MOVIE REVIEW: SHORTCUT ROMEO
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..