फ्लैशबैक

--Advertisement--

इस एक्ट्रेस ने फिल्मों में दिए थे सबसे ज्यादा रेप सीन, कहलाती थी बॉलीवुड की बहन

बॉलीवुड में 60's और 70's की एक्ट्रेसेस की बात करें तो नाजिमा का नाम बरबस ही सामने आ जाता है।

Dainik Bhaskar

Mar 27, 2018, 12:55 PM IST
एक फिल्म के सीन में देब मुखर्जी के साथ नाजिमा। एक फिल्म के सीन में देब मुखर्जी के साथ नाजिमा।

मुंबई. बॉलीवुड में 60's और 70's की एक्ट्रेसेस की बात करें तो नाजिमा का नाम बरबस ही सामने आ जाता है। वैसे तो नाजिमा को फिल्मों में सपोर्टिंग रोल के लिए ही जाना जाता है, लेकिन उनके नाम एक और रिकॉर्ड है जिसके बारे में कम ही लोग जानते हैं। नाजिमा बॉलीवुड की इकलौती ऐसी एक्ट्रेस थीं, जिन्होंने सबसे ज्यादा फिल्मों में रेप सीन किए हैं। उन्हें फिल्म 'बेइमान' के लिए 1972 में बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस कैटेगरी में फिल्मफेयर के लिए नॉमिनेट किया गया था।अब लाइमलाइट से दूर रहती हैं नाजिमा...

- मीडिया में हमेशा यह दावा किया जाता रहा है कि नाजिमा की मौत 27 साल की उम्र में कैंसर से हुई। लेकिन फेमस फिल्म ब्लॉगर शिशिर कृष्ण शर्मा की मानें तो सच्चाई यह है कि वे अब भी जीवित हैं और दादर (पूर्व) के फेमस 'प्रीतम दा दाबा' के ठीक सामने शरीफा मंजिल में रहती हैं। हालांकि, अब वे बाहरवालों से खासकर मीडिया से बिलकुल रूबरू नहीं होतीं।

- शिशिर कृष्ण शर्मा का कहना यह भी है कि कैंसर से जिनकी मृत्यु हुई थी वो नाज़िमा नहीं बल्कि 'बूट पॉलिश' से मशहूर हुईं बेबी नाज़ थीं। नाज़ अभिनेता सुबीराज की पत्नी थीं और वो 1990 के दशक में गुज़री थीं।

- नाजिमा के इनोसेंट लुक की वजह से उन्हें कई फिल्मों में हीरो या हीरोइन की छोटी बहन का किरदार निभाने का मौका मिलता था। यहां तक कि वो उस दौर में 'बॉलीवुड की बहन' के नाम से फेमस हो गई थीं।
- बतौर लीड हीरोइन नाजिमा ने सिर्फ एक ही फिल्म में काम किया और वह थी 1975 में रिलीज हुई 'दयार-ए-मदीना'।

आगे की स्लाइड्स पर, इस वजह से नजीमा को करने पड़े सबसे ज्यादा रेप सीन...

Bollywood Actress Who Did Maximum forcing Scene

इस वजह से करने पड़े सबसे ज्यादा रेप सीन

 

चूंकि 60 और 70 के दशक की फिल्मों में अक्सर हीरो या हीरोइन की छोटी बहन रेप का शिकार हो जाती थी। ऐसे में एक्टर्स की छोटी बहन का सपोर्टिंग रोल निभाने वाली नाजिमा को ही सबसे ज्यादा रेप सीन करने पड़ते थे।

Bollywood Actress Who Did Maximum forcing Scene

डायरेक्टर नहीं देते थे लीड रोल

 

नाजिमा को डायरेक्टर कभी लीड रोल नहीं देते थे। ऐसे में वो इस डर से छोटी बहन के सपोर्टिंग रोल ही एक्सेप्ट कर लेती थीं कि कहीं ऐसा ना हो कि उन्हें काम मिलना ही बंद हो जाए। 'सिनेप्लॉट' में छपे 1968 के एक इंटरव्यू के मुताबिक, नाजिमा ने कहा था- मैं खुद नहीं जानती कि आखिर डायरेक्टर मुझे लीड रोल क्यों नहीं देना चाहते। मैं एक के बाद एक फिल्में सिर्फ इसी आशा में करती जा रही हूं कि शायद कभी मुझे बतौर लीड एक्ट्रेस ब्रेक मिलेगा।

Bollywood Actress Who Did Maximum forcing Scene

कुछ ना करने से बेहतर है कुछ करते रहना

 

नाजिमा के मुताबिक, मुझे इस बात का कोई दुख नहीं है कि मैंने अपने करियर में सिर्फ सिलेक्टेड फिल्मों में ही काम किया है। बल्कि मैं अपने रोल से खुश हूं। मैं जानती हूं कि कुछ ना करने से तो बेहतर है कि आप कुछ करते रहें।

Bollywood Actress Who Did Maximum forcing Scene

बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट शुरू किया करियर

 

नाजिमा का जन्म 1948 में महाराष्ट्र के नासिक में हुआ था। उन्होंने करियर की शुरुआत बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट 'बेबी चांद' नाम से की थी। देवदास, गंगा जमुना और हम पंछी एक डाल के जैसी फिल्मों में उन्होंने बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट काम किया है।

Bollywood Actress Who Did Maximum forcing Scene

ये थी आखिरी फिल्म

 

नाजिमा की आखिरी फिल्म 'रंगा खुश' थी, जो 1975 में रिलीज हुई। इसके अलावा इसी साल उनकी 'संन्यासी' और 'दयार-ए-मदीना' जैसी फिल्में भी आईं।

Bollywood Actress Who Did Maximum forcing Scene

फिल्म 'आरजू' के लिए जीता बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस का अवॉर्ड

 

1965 में आई फिल्म 'आरजू' के लिए बंगाल फिल्म जर्नलिस्ट एसोसिएशन ने उन्हें बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस के अवॉर्ड से नवाजा था। इस फिल्म को 'रामायण' के प्रोड्यूसर रामानंद सागर ने बनाया था। फिल्म में लीड रोल में राजेन्द्र कुमार और साधना थ। फिल्म में नाजिमा ने हीरोइन साधना की छोटी बहन सरला का रोल प्ले किया था।

Bollywood Actress Who Did Maximum forcing Scene

नाजिमा ने इन फिल्मों में किया काम

 

करीब 10 साल लंबे करियर में नाजिमा ने 30 से ज्यादा फिल्मों में काम किया। उनकी प्रमुख फिल्मों में उमर कैद (1961), जिद्दी (1964), निशान (1965), आए दिन बहार के (1966), राजा और रंक (1968), डोली (1969), अधिकार (1971), मेरे भैया (1972), बेइमान (1972), हनीमून (1973), अमीर-गरीब (1974), संन्यासी (1975), दयार-ए-मदीना (1975), रंगा खुश (1975)  शामिल हैं। 

X
एक फिल्म के सीन में देब मुखर्जी के साथ नाजिमा।एक फिल्म के सीन में देब मुखर्जी के साथ नाजिमा।
Bollywood Actress Who Did Maximum forcing Scene
Bollywood Actress Who Did Maximum forcing Scene
Bollywood Actress Who Did Maximum forcing Scene
Bollywood Actress Who Did Maximum forcing Scene
Bollywood Actress Who Did Maximum forcing Scene
Bollywood Actress Who Did Maximum forcing Scene
Bollywood Actress Who Did Maximum forcing Scene
Click to listen..