विज्ञापन

Movie Review: 'अब तक छप्पन-2' में एक्टिंग दमदार, कहानी बेकार

Dainik Bhaskar

Feb 27, 2015, 01:39 PM IST

सिनेमाघरों में 'अब तक छप्पन-2' रिलीज हो गई है। फिल्म प्रिक्वल के मुकाबले दमदार नहीं है।

Movie Review: Nana Patekar Starrer Ab Tak Chhappan 2 Is Boring
  • comment
फिल्म का नाम अब तक छप्पन-2

क्रिटिक रेटिंग

2/5
स्टार कास्ट नाना पाटेकर, गुल पनाग और आशुतोष राणा
डायरेक्टर एजाज गुलाब
प्रोड्यूसर राम गोपाल वर्मा
संगीत सलीम-सुलेमान
जॉनर क्राइम थ्रिलर

नाना पाटेकर की फिल्म 'अब तक छप्पन-2' सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है। नाना पाटेकर अपनी दमदार एक्टिंग और डायलॉग डिलिवरी के लिए मशहूर हैं। इस फिल्म में भी वे आपको निराश नहीं करेंगे। हालांकि, फिल्म का प्लॉट और इसकी रफ्तार बेशक आपको दुखी कर सकता है।

कहानी


यह फिल्म 2004 में आई 'अब तक छप्पन' की सीक्वल है। इस सीक्वल की कहानी वहीं से शुरू होती है, जहां प्रिक्वल खत्म हुई थी। पत्नी की मौत के बाद एनकाउंटर स्पेशलिस्ट साधु अगाशे (नाना पाटेकर) ने पुलिस की नौकरी छोड़ दी है, वे अपने बेटे के साथ गोवा के पास किसी गांव में बस जाते हैं। बेटे के लिए खाना पकाते हैं और दूसरे बच्चों के साथ कंचे खेलते हैं।
उधर मुंबई में क्राइम बढ़ रहा है, जिसके चलते नाना को वापस मुंबई बुलाया जाता है। अब मुंबई पहुंचे साधु अगाशे एनकाउंटर टीम के हेड बन दबंगई से क्राइम का सफाया करने में जुट जाते है। फिल्म में एक्ट्रेस गुल पनाग ने क्राइम रिपोर्टर शालू दीक्षित का किरदार निभाया है, जो साधु की हेल्प लेकर अपने दिवंगत पिता की अधूरी किताब पूरा करना चाहती हैं। एनकाउंटर स्क्वॉयड टीम में सूर्यकांत (आशुतोष राणा) भी है, जो साधु को हेड के तौर पर बिल्कुल पसंद नहीं करते हैं। कैसे, अंडरवर्ल्ड और नेताओं के पचड़े में फंसे साधु अगाशे मुंबई में क्राइम का सफाया करते हैं, यह जानने के लिए आपको सिनेमाघरों का रुख करना होगा।

आगे की स्लाइड्स में पढ़े शेष रिव्यू...

Movie Review: Nana Patekar Starrer Ab Tak Chhappan 2 Is Boring
  • comment

डायरेक्शन

 
'अब तक छप्पन-2' का डायरेक्शन एजाज गुलाब ने किया है। फिल्म में उनकी पकड़ कमजोर लगी, इसका क्लाइमेक्स और बेहतर हो सकता था। ओवरऑल कहानी में नयापन न होने के चलते 'अब तक छप्पन-2' प्रिक्वल के मुकाबले अपनी छाप छोड़ने में नाकामयाब रही है। 
 
एक्टिंग

फिल्म के हीरो नाना पाटेकर ने जबरदस्त एक्टिंग, डायलॉग डिलिवरी और दमदार एक्शन दिखाया है। रिपोर्टर के किरदार में गुल पनाग भी जंचीं है। वहीं, आशुतोष राणा, विक्रम गोयल, राज जुत्थी, मोहन अगाशे ने अपना किरदार ठीक-ठाक तरीके से निभाया है।
 
क्यों देखें फिल्म

अगर आप नाना पाटेकर के डाई हार्ड फैन है, तो बेशक यह फिल्म आपके लिए ही बनी है। हालांकि, 'अब तक छप्पन' के मुकाबले फिल्म बिल्कुल दमदार नहीं है। फिल्म में नयेपन की कमी है। यह नाना पाटेकर की सबसे कमजोर कहानी वाली फिल्म मानी जा सकती है।
X
Movie Review: Nana Patekar Starrer Ab Tak Chhappan 2 Is Boring
Movie Review: Nana Patekar Starrer Ab Tak Chhappan 2 Is Boring
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन