रिव्यूज़

--Advertisement--

Movie Review: इन 5 कारणों की वजह से एकबार देख सकते हैं 'वेलकम टू न्यूयॉर्क'

'वेलकम टू न्यूयॉर्क'पहली 3D कॉमेडी है। इसमें करन जौहर डबल रोल में ऑडियंस के सामने कॉमिक अंदाज में दिखेंगे।

Danik Bhaskar

Feb 23, 2018, 12:22 PM IST

क्रिटिक रेटिंग 2/ 5
स्टार कास्ट करन जौहर, सोनाक्षी सिन्हा, दिलजीत दोसांझ, सुशांत सिंह राजपूत, राणा दग्गुबाती
डायरेक्टर चाकरी तोलेटी
प्रोड्यूसर जैकी भगनानी, वासू भगनानी, दीपशिखा देशमुख, विराफ सरकारी
संगीत मीत ब्रदर्स, साजिद-वाजिद, शमीर टंडन
जॉनर कॉमेडी ड्रामा

डायरेक्टर चाकरी तोलेटी के निर्देशन में बनी फिल्म 'वेलकम टू न्यूयॉर्क' सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है। इस पैकेज में हम आपको बता रहे हैं उन 5 कारणों के बारे में जिसके लिए आप ये फिल्म देख सकते हैं।

1. चाकरी तोलेटी


चाकरी तोलेटी साउथ इंडस्ट्री के एक जाने-माने फिल्म मेकर हैं। 'वेलकम टू न्यूयॉर्क' उनकी बॉलीवुड डेब्यू फिल्म है जो कि कॉमेडी है। वे इससे पहले 'Billa II', 'Unnaipol Oruvan' और 'Eenadu' जैसी फिल्में बना चुके हैं। इसी के लिहाज से उनसे ऑडियंस को काफी एक्स्पेक्टेशंस हैं। वहीं आपको बता दें, ये पहली 3D कॉमेडी फिल्म है।

आगे की स्लाइड्स में जानें बाकी के 4 और कारण, वहीं आखिरी स्लाइड्स में पढ़ें फिल्म रिव्यू...

2. दिलजीत दोसांझ


'वेलकम टू न्यूयॉर्क' पंजाबी एक्टर दिलजीत दोसांझ की तीसरी बॉलीवुड फिल्म है। इसके पहले उन्होंने 'उड़ता पंजाब' और 'फिल्लौरी' में शानदार एक्टिंग की है। ऐसा पहली बार है जब आप दिलजीत को कॉमिक रोल में देखने वाले हैं। उन्होंने अपनी पंजाबी फिल्मों में जोरदार डायलॉग डिलिवरी और कॉमिक टाइमिंग से काफी फैन फॉलोविंग बनाई है ऐसे में ऑडियंस को उनकी इस फिल्म से काफी एक्सपेक्टेशन हैं। 

3. बॉलीवुड की रियल कॉमेडी


फिल्म में बी-टाउन सेलिब्रिटीज की टांग खींची गई है। यही नहीं हिन्दी सिनेमा का प्रतिष्ठित अवॉर्ड शोज को लेकर भी इसमें रियलिटी बेस्ट कॉमेडी सीन्स डाले गए हैं। फिल्म में करन ने अपनी फिल्मों की जैसे 'कुछ-कुछ होता है' की भी टांग खींची है।  

4. रितेश देशमुख-करन जौहर 


दिलजीत के अलावा फिल्म में रितेश देशमुख और करन जौहर भी हैं। दोनों की ट्रेलर में एकसाथ  शानदार कैमेस्ट्री देखने को मिली है। वहीं करन को बैक कैमरा तो काफी देखा है लेकिन बतौर एक्टर भी अब इस फिल्म में उनकी एक्टिंग देखी जा सकती है। कहानी में भी करन रेगुलर अवॉर्ड शो होस्ट करते दिखेंगे। ऐसे में इस होस्टिंग के पीछे की कहानी भी फिल्म में आपको देखने को मिलेगी। 

5. स्टार्स की भरमार


फिल्म में जहां दिलजीत दोसांझ, सोनाक्षी सिन्हा, रितेश देशमुख, लारा दत्ता, करन जौहर, बोमन ईरानी, राणा दग्गुबाती, सुशांत सिंह राजपूत, आदित्य रॉय कपूर लीड रोल में हैं। वहीं दिशा पाटनी, नेहा धूपिया, प्रिटी जिंटा, तापसी पन्नू, कृति सेनन, शाहिद कपूर, सुनील शेट्टी, टाइगर श्रॉफ, सलमान खान, मोहित सिन्हा और कैटरीना कैफ का कैमियो है। देखा जाए तो फिल्म में एकसाथ कई सारे स्टार्स को कास्ट किया गया है। 

कहानी
फिल्म की कहानी सोनाक्षी सिन्हा और दिलजीत, करण और लारा के इर्द-गिर्द घूमती है। कहानी ऐसे 2 यंगस्टर्स पर बेस्ड है जो बॉलीवुड में एक मौके की तलाश कर रहे होते हैं। जीनत पटेल(सोनाक्षी) नाम की लड़की एक फैशन डिजाइनर है। हंसमुख नेचर की जीनत का अपना एक स्टाइल और एटीट्यूड है लेकिन वे एक्टिंग वर्ल्ड में जुड़कर नाम कमाना चाहती हैं। वहीं दिलजीत दोसांझ एक एजेंट के किरदार में नजर आए हैं। दोनों की मुलाकात न्यूयॉर्क के एक इंवेट के दौरान होती है। यहीं से शुरु होता है कॉमेडी का तड़का। सोनाक्षी-दिलजीत कभी सुशांत सिंह राजपूत तो कभी राणा दग्गुबत्ती से मिलते हैं। फिल्म में करन जौहर डबल रोल(करन-अर्जुन) में हैं और इस बार दर्शकों को गुदगुदाते हुए नजर आए हैं। वहीं फिल्म में लारा दत्ता, बोमन ईरानी और सलमान खान का कैमियो भी है। 

 

 

डायरेक्शन
फिल्म का बैकड्रॉप न्यूयॉर्क में होने वाले IIFA (India International Film Academy Award) का है लेकिन इसमें कोई नया तानाबाना नहीं है। कहानी काफी शांत और इसमें कॉमेडी टाइमिंग का भी इश्यू है। वहीं 2 घंटे की फिल्म में करन जौहर के डबल रोल ने सबसे ज्यादा टाइम लिया है जिसे कम करना चाहिए था। एक सीन में जब करन का रितेश देशमुख से इंटरेक्शन होता है बस उसी हिस्से में थोड़ा-सा फन नजर आया है। वहीं रितेश देशमुख, सुशांत सिंह राजपूत, कैटरीना कैफ, आदित्य रॉय कपूर का कैमियो जोड़ा गया है लेकिन इन स्टार्स की एंट्री भी कहानी में कोई Wow एंगल नहीं लाई है। देखा जाए तो फिल्म ऑडियंस को हंसा पाने के सक्सेसफुल नहीं रही है। 

 

 

एक्टिंग
फिल्म में दिलजीत काफी शांत लेकिन एनर्जी से भरे दिखे हैं। उन्हें देखने में मजा आता है लेकिन दिलजीत को बेटर फिल्में चूज करनी चाहिए। सोनाक्षी के रोल में एक तो पहले ही ज्यादा कुछ था नहीं और न ही वे एक्सप्रेस कर पाई हैं। बात अगर करन की करें तो वे फिल्म में खुद ही में एन्जॉय करते दिखाई देते हैं। बाकी स्टार्स की एक्टिंग भी ठीक-ठीक ही है।

 

 

म्यूजिक 
फिल्म के लीड सिंगर और म्यूजिक का कोई खास जादू नहीं चला है। जहां बैकग्राउंड म्यूजिक एवरेज है तो वहीं क्लाइमेक्स के दौरान आने वाला सॉन्ग भी सिर्फ ओके ही है। 

 

 

देखें या न देखें
कहानी में कोई मजेदार एलिमेंट नहीं है लेकिन अब अगर आगे बताए गए 5 कारणों से सहमत हैं तो  इसे एकबार देख सकते हैं वरना फिल्म के टीवी पर आने का ही इंतजार करें। 

Click to listen..