रिव्यूज़

--Advertisement--

एक्सपर्ट से जानें कैसी फिल्म है 'Machine'

Plot: एक बार फिर से अब्बास मस्तान थ्रिलर और सस्पेंस का मिक्सचर परोसने को तैयार हैं।

Danik Bhaskar

Mar 17, 2017, 01:38 PM IST
मुस्तफा बरमावाला और कियारा आड मुस्तफा बरमावाला और कियारा आड

'मशीन' रिलीज हो गई है। इसपर जानी-मानी फिल्म क्रिटिक अनुपमा चोपड़ा से dainikbhaskar.com ने जाना, कैसी है ये फिल्म...

कैरेक्टर
मुस्तफा बरमावाला -
फिल्म में मुस्तफा ने रंश का रोल प्ले किया है। जो कि एक कार ड्राइविंग हीरो है।
कियारा आडवाणी - फिल्म में कियारा ने सारा का रोल प्ले किया है। जो कि काफी ब्यूटीफुल और स्टाइलिश होती है। फिल्म में उसके पीछे सारे लड़के दीवाने होते हैं।

डायरेक्शन और एडिटिंग
फिल्म की शुरुआत एक कॉलेज गर्ल के सीन से होती है। जो एक नन को बड़ी राशि का दान करती है। लड़की का लुक ठीक वैसा होता है जैसे किसी फैशन मैग्जीन के शूट से आई हो। हाई हील्स, शॉर्ट स्कर्ट एंड लिपिस्टिक..। ये इमेजिन करने में थोड़ा मुश्किल हैं लेकिन एक टाइम था जब अब्बास मस्तान बॉलीवुड जॉनर में थे। उन्होंने चीजी थ्रिलर बताया है। देखा जाए तो स्टोरीज ज्यादातर हॉलीवुड से चोरी की होती हैं लेकिन उनमें दोनों भाई इंडियन तड़का लगा देते हैं। अब फिल्म 'बाजीगर', 'खिलाड़ी', 'ऐतराज' और 'रेस' को ही देख लीजिए। जिसमें बड़े स्टार्स आपको ब्यूटीफुल कपड़ों में दिखे हैं, अच्छे सॉन्ग हैं और साथ ही एक सॉलिड ट्विस्ट। जिसे देखकर सभी खुश हुए। फिल्म 'मशीन' तीसरे भाई को सामने लाई है। जिनका नाम हुसैन बरमावाला है इन्होंने फिल्म की एडिटिंग की है। जिससे फिल्म का पूरा मैजिक कहीं गुम दिखा है। इसका मतलब ये नहीं कि फिल्म बुरी है। इसमें बिना मतलब का फन है ऐसा कुछ नहीं है जो सेंस में हो।


कहानी
फिल्म में मुस्तफा बरमावाला ने रंश का रोल प्ले किया है। जो कि अमीर है और कार ड्राइविंग हीरो है। कहानी का कोई सेंस नहीं है। फिल्म की शुरुआत में ही आउट ऑफ कंट्रोल हो जाती है। फिल्म में एक सीन है जहां कॉलेज टीचर रोमियो-जूलियट प्ले के लिए ऑडिशन कराते हैं। इस दौरान रंश सारा को देखता है और कहता है, "तुम्हारे होठों की लिपिस्टिक जरूर खराब करूंगा, पर तुम्हारी आंखों का काजल कभी नहीं।" फिल्म की एंडिंग स्वामी विवेकानंद, महात्मा गांधी और स्टीव जॉब्स के विचारों से हुई है। जैसे कि कहा फिल्म में कुछ भी ऐसा नहीं है जिसका सेंस हो। हालांकि मुस्तफा ने काफी कोशिश की है लेकिन उनकी एक्टिंग स्किल लिमिटेड हैं। जिससे कोई सेंस और इंपेक्ट नहीं दिखा है। फिल्म में दो और नए हीरो हैं। दोनों को इसलिए कास्ट किया गया है क्योंकि वो मुस्तफा से भी गए बीते हैं। फिल्म में कियारा ने सारा का रोल प्ले किया है। जिसके लिए सारे मैन्स में होड़ रहती है। कियारा फिल्म 'एमएस धोनी द अनटोल्ड स्टोरी' में देखने लायक रही हैं लेकिन इस फिल्म में तो जैसे वो भी बुरी एक्टिंग के ओलंपिक में शामिल रहीं। फिल्म में अब्बास मस्तान ने दिलीप ताहिल और जॉनी लीवर को दिखाया है। फिल्म की ओपनिंग क्रेडिट शाहरुख खान, सलमान खान और प्रियंका चोपड़ा को मिला है। सोचा था वो कहीं दिखेंगे तो थोड़ा अच्छा लगेगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

रेटिंग
मैं फिल्म देखते वक्त बहुत हंसी। लेकिन मशीन ने मुझे निराश भी किया है। मैंने पहले अब्बास मस्तान की कई फिल्में एन्जॉय की हैं। मैं आशा करती हैं कि भाईयों की ये जोड़ी फिर से कुछ अच्छा लेकर आएगी। मैं इस फिल्म को 1 स्टार दे रही हूं।

Click to listen..