--Advertisement--

Movie Review: 'अमित साहनी की लिस्ट'

'अमित साहनी की लिस्ट' से हमने बहुत ज्यादा उम्मीदें नहीं थी, लेकिन जब हम सिनेमाहाल के भीतर घुसे तो पहले से तय की हुई धारणायें टूट गई।

Dainik Bhaskar

Jul 18, 2014, 06:24 PM IST
Movie Review: Amit Sahni Ki List
'अमित साहनी की लिस्ट' से हमने बहुत ज्यादा उम्मीदें नहीं थी, लेकिन जब हम सिनेमाहाल के भीतर घुसे तो पहले से तय की हुई धारणायें टूट गई। क्या ऐसे हो सकता है कि कोई शख्स अपनी लाइफ पार्टनर को चुनने के लिए लिस्ट बनाए कि उसमें क्या खूबी होनी चाहिए? क्या ऐसा मुमकिन है कि आपकी लिस्ट में जो फिट बैठे उससे ही आपको प्यार हो जाए? क्या किसी लड़की को महज पहले से तय मानकों के आधार पर ही चुना जाना चाहिए? ऐसे कई ऊल-जलूल सवाल हैं जो 'अमित साहनी की लिस्ट' में आपको गुदगुदाने के लिए मौजूद हैं।
कहानी: अमित साहनी (वीर दास) एक उलझा हुआ शख्स है, जिसने अपनी लाइफ पार्टनर के लिए एक निश्चित खांचा तय किया हुआ है, कि उसमें क्या-क्या खूबी हो। अमित पेशे से एक इंवेस्टमेंट बैंकर हैै। 30 साल से ज्यादा की उम्र पार कर चुके अमित की मां चाहती है कि वह जल्द शादी कर ले, जबकि अमित को एक ऐसी लड़की चाहिए जिसमें वे सारे गुण हों, जो उसकी बनाई लिस्ट में पहले से दर्ज हैं। अमित को अपने लिए ऐसी ही ड्रीम गर्ल की तलाश है जो उसके तय खांचे में फिट बैठे। अमित जब भी किसी लड़की के साथ डेटिंग पर जाता, तो वह लड़की की खासियत अपनी लिस्ट से मिलाने लगता। जब अमित को अपनी लिस्ट से मैच करती कोई परफेक्ट लड़की नहीं मिलती तो वह एक दिन अपनी मां की बताई लड़की माला (वेगा) से मिलता है। चंद मुलाकातों के बाद उसे महसूस होने लगता है कि बेशक माला में वह सारी खूबियां नहीं जो उसकी लिस्ट में दर्ज हैं, बावजूद इसके उसे माला से इश्क हो जाता है। कुछ ही मुलाकातों के बाद अमित और माला आपसी रजामंदी से सगाई भी कर लेते हैं, लेकिन तभी अमित की मुलाकात देविका (अनंदिता नायर) से होती है। देविका से मिलकर अमित को लगता है कि उसमें वह सभी खूबियां हैं, जो उसकी लिस्ट में दर्ज हैं और यही उसके लिए परफेक्ट है। इसके बाद की कहानी अमित साहनी की लिस्ट के पूरा होने न होने के इर्द-गिर्द ही घूमती है। क्या अमित साहनी की शादी माला से होती है? क्या वह माला को अपनी लिस्ट की सच्चाई बता पाता है? क्या अमित देविका से शादी कर लेता है? क्या देविका और माला को समझाने में अमित सफल हो पाता है? इन्हीं तमाम सवालों के जवाब देते हुए फिल्म अपने अंत तक पहुंचती है।
एक्टिंग: वीर दास एक बेहतरीन एक्टर हैं। अमित साहनी के रोल में वीरदास जमे हैं। माला के रोल में वेगा ने भी अच्छा अभिनय किया है, जबकि देविका के रोल में अनंदिता नायर कुछ खास नहीं कर सकी। अमित के रूममेट पुष्कर के किरदार को कवि शास्त्री ने अपनी अदाकारी से जीवंत जरूर बना दिया।
डायरेक्शन: अजय भुयान ने 'अमित साहनी की लिस्ट' को अलग और नए अंदाज में पर्दे पर उतारा है। इंटरवल से पहले फिल्म कई जगहों पर जरूर उबाऊ लगती है, लेकिन धीरे-धीरे यह अपने ट्रैक पर लौट आती है। अजय भुयान ने अपने कैमरे में कई खूबसूरत लोकेसंस को कैद किया है।
क्यों देखें: फिल्म में वीर दास और वेगा के बीच की अच्छी-दमदार केमेस्ट्री है, लेकिन महज इस बात के लिए हम आपको पैसे खर्च करने की सलाह नहीं देंगे। फ्रेश कहानी और अच्छी कॉमेडी भी इस फिल्म में मौजूद है, जो आपको थोडा गुदगुदाएगी।
X
Movie Review: Amit Sahni Ki List
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..