विज्ञापन

Movie Review: 'हैप्पी न्यू ईयर'

Dainik Bhaskar

Oct 24, 2014, 01:23 PM IST

15 महीने के बाद शाहरुख खान 'हैप्पी न्यू ईयर' से सिल्वर स्क्रीन पर लौट रहे हैं। उन्होंने फिल्म के प्रमोशन में काफी मेहनत की है। इससे पहले 2011 की दिवाली पर उनकी 'रा.वन' और 2012 की दिवाली पर 'जब तक है जान' रिलीज हुई थी। 'हैप्पी न्यू ईयर' में दीपिका पादुकोण हैं, जिनके साथ शाहरुख 'ओम शांति ओम', 'चेन्नई एक्सप्रेस' जैसी सुपरहिट फिल्में दे चुके हैं।

Review 'Happy New Year'
  • comment
कहानी:
चंद्रमोहन शर्मा उर्फ चार्ली (शाहरुख खान) के पिता मनोहर शर्मा (अनुपम खेर) डायमंड मार्केट के सिक्युरिटी हेड होते हैं। उनसे चरण ग्रोवर (जैकी श्रॉफ) अपने 100 करोड़ के हीरों के लिए एक लॉकर डिजाइन करवाता है और फिर खुद ही हीरे चुरा भी लेता है। मनोहर शर्मा को जेल हो जाती है। ये हीरे दुबई के शालीमार होटल में एक तिजोरी में रखे होते हैं। चार्ली ग्रोवर से बदला लेने के लिए 300 करोड़ के हीरे चुराने का प्लान बनाता है। इस चोरी में चार्ली का दोस्त जगमोहन उर्फ जैक (सोनू सूद) और टैमी (बोमन ईरानी) भी उसका साथ देता है। जैग और टैमी, दोनों मनोहर के साथ काम कर चुके होते हैं। इस प्लान के लिए चार्ली अपनी टीम में रोहन सिंह (विवान शाह) और नंदू भिड़े (अभिषेक बच्चन) को भी शामिल करता है। नंदू ग्रोवर के बेटे विक्की का हमशक्ल है। प्लान के मुताबिक, सभी शालीमार होटल में एंट्री के लिए 'वर्ल्ड डांस चैंपियनशिप' में शिरकत करते हैं, लेकिन समस्या यह है कि किसी को भी डांस की एबीसी तक नहीं आती। ऐसे में, नंदू एक बार डांसर मोहनी (दीपिका पादुकोण) का नाम सुझाता है और वह भी चार्ली की इंग्लिश से इम्प्रेस होकर डांस सिखाने को राजी हो जाती है। सबकी अपनी वजहें हैं। खैर, इसके बाद सभी जैसे-तैसे दुबई पहुंचते हैं और फिर शुरू होता है हीरे चुराने का खेल और डांस चैम्पियनशिप। अंत आप जानते ही हैं कि हीरे हीरो ही चुराता है, लेकिन चुराने का देसी अंदाज देखने के लिए तो आपको सिनेमाघरों का रुख करना ही होगा।
डायरेक्शन:
फराह खान पहले भी शाहरुख के साथ 'ओम शांति ओम' और 'मैं हूं ना' जैसी सुपरहिट फिल्में बना चुकी हैं, फिर भी उन्होंने मानों अपने अनुभव का जैसे इस्तेमाल ही ना किया हो। फिल्म बहुत लंबी है। फराह के डायरेक्शन में कई कमियां हैं।
अभिनय:
इस फिल्म में एक नहीं, बल्कि कई कामयाब सितारे काम कर रहे हैं। शाहरुख की एक्टिंग पर तो किसी तरह का सवाल ही नहीं उठता, लेकिन इस तरह के रोल में शाहरुख को कम से कम आप 8 फिल्मों में तो देख ही चुके होंगे। दीपिका के अभिनय में भी कोई नयापन नहीं हैं। उनके डायलॉग आपको 'चेन्नई एक्सप्रेस' की याद दिलाएंगे। बोमन ईरानी, अभिषेक बच्चन, सोनू सूद और विवान शाह ने भी अपने-अपने किरदारों को बखूबी निभाया है।
म्यूजिक:
फिल्म में विशाल-शेखर ने म्यूजिक दिया है। इस जोड़ी ने 'ओम शांति ओम' में भी म्यूजिक दिया था। 'हैप्पी न्यू ईयर' के गाने फिल्म के रिलीज होने से पहले ही हिट हो चुके थे। फिल्म के सभी गाने 'इंडियावाले', 'मनवा लागे', 'लवली', 'सटकली' लोगों को काफी पसंद आए हैं।
क्यों देखें:
दिवाली के मौके पर परिवार के साथ एंटरटेनमेंट के लिए ये फिल्म देखी जा सकती हैं। शाहरुख की फिल्मों में पब्लिक को इमोशन, ड्रामा और थोड़ा एक्शन तो मिल ही जाता है। बाकी अंत में शाहरुख के अभी से स्टार बन चुके बेटे अबराम की झलक भी आपको देखने को मिलेगी।

X
Review 'Happy New Year'
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन