विज्ञापन

Movie Review: 'हंसी तो फंसी'

Dainik Bhaskar

Feb 07, 2014, 12:04 AM IST

रिलीज हुई 'हंसी तो फंसी'

Movie Review: Hasee Toh Phasee
  • comment

कहानी: ‘हंसी तो फंसी’ एक रोमांटिक कॉमेडी फिल्म है। विनिल मैथ्यू निर्देशित इस फिल्म में सिद्धार्थ मल्होत्रा और परिणीति चोपड़ा लीड रोल में हैं। फिल्म में सिद्धार्थ निखिल और परिणीति मीता के किरदार में हैं। फिल्म के दोनों कैरेक्टर काफी प्यारे हैं। अगर आप फिल्म को देखते हैं, तो शायद आपको भी इनसे प्यार हो जाएगा।

फिल्म की कहानी थोड़ी हटके है, लेकिन मजेदार है। निखिल (सिद्धार्थ मल्होत्रा) बिंदास लड़का है। वह करिश्मा (अदा शर्मा) से प्यार करता है। करिश्मा और निखिल की शादी तय हो जाती है तभी अचानक से करिश्मा की बहन मीता आ जाती है। मीता सात साल पहले वैज्ञानिक बनने के लिए घर से भाग गई थी। इस दौरान वह ड्रग्स की लत का शिकार भी हो जाती है। करिश्मा इस बात से डर जाती है कि अगर मीता के बारे में निखिल की फैमिली को मालूम हुआ तो शादी में परेशानियां खड़ी हो जाएंगी। इसलिए वह निखिल को मीता का ध्यान रखने को कहती है ताकि वह किसी के सामने न आ पाए। निखिल मीता की हालत देख दुखी हो जाता है और उसे ठीक करने की ठान लेता है. इसी दौरान ये दोनों करीब आ जाते हैं। अब निखिल मीता को अपना हमसफ़र बनाता है या फिर करिश्मा को? इसके लिए आपको फिल्म देखनी होगी।

एक्टिंग: फिल्म में एक्टिंग की बात करें, तो यहां दोनों ही मुख्य कलाकारों यानी परिणीति और सिद्धार्थ ने अच्छा अभिनय किया है। खासकर परिणीति की एक्टिंग लाजवाब है। अपने किरदार को उन्होंने बखूबी निभाया है। परिणीति एक्टिंग के मामले में फिल्म-दर-फिल्म निखर रही हैं। इस फिल्म में भी उनकी परफॉरमेंस अवॉर्ड विनिंग है। फिल्म के पहले भाग में उनका किरदार थोड़ा समझना मुश्किल होता है मगर जैसे-जैसे फिल्म आगे बढ़ती है, मीता के किरदार में परिणीति आपको अपनी ओर खींचती जाती हैं। वहीँ, एक्टिंग के मामले में सिद्धार्थ परिणीति के सामने फीके नजर आए हैं। हां, दोनों की जोड़ी आपको पसंद आएगी। इनके अलावा बाकी कलाकारों में शरत सक्सेना का काम बेहतरीन है जो कि सिद्धार्थ मल्होत्रा के पिता के रोल में हैं।

निर्देशन: फिल्म के निर्देशक विनिल हैं। फिल्म के द्वारा दर्शकों को नई और स्मार्ट सोच देखने को मिली है। फिल्म में उन्होंने कलाकारों से अच्छा काम लिया है। हां, कहीं-कहीं पर फिल्म काफी बोर करती है, लेकिन बीच-बीच में कॉमेडी का जोरदार डोज दर्शकों को हंसाते हुए फिल्म के साथ फिर बांध देता है।

म्यूजिकः विशाल-शेखर ने फिल्म का म्यूजिक दिया है, जो अच्छा है। फिल्म के ज्यादातर गाने खासकर ‘जहनसीब’ और ‘इश्क बुलावा’ तो सुनने और देखने में काफी अच्छे हैं मगर यह बहुत लंबे समय तक जहन में बसे रहेंगे, ऐसा भी नहीं है। फिल्म के डायलॉग्स मजेदार हैं।

कुल मिलाकर कहा जाए तो इस वीकेंड अगर आप एक टाइम पास मूवी देखना चाहते हैं तो यह फिल्म एक बार देख सकते हैं। फिल्म में परिणीति की परफॉरमेंस के अलावा कुछ भी खास नहीं। ऐसी रोमांटिक कॉमेडी फिल्में पहले भी बनाई जा चुकी हैं।

X
Movie Review: Hasee Toh Phasee
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन