--Advertisement--

Movie Review: मंजूनाथ

बॉक्स ऑफिस पर आज कई बॉलीवुड फिल्में रिलीज़ हुई हैं। इनमें से एक है मंजूनाथ भी है।

Dainik Bhaskar

May 09, 2014, 12:38 PM IST
movie review: manjunath
कहानी: यह फिल्म एक वास्तविक घटना पर आधारित है। फिल्म की कथावस्तु 2005 में हुए मंजूनाथ हत्याकांड के इर्द-गिर्द घूमती है।
27 साल के इस दिलेर युवक की हत्या कर दी गई थी। मंजूनाथ षणमुखम के जीवन पर आधारित यह फिल्म तेल माफिया के आतंक को दिखाती है। 2005 में लखीमपुर खीरी में मिलावटी पेट्रोल बेचने वाले एक पेट्रोल पंप का लाइसेंस रद्द करने की बात कहने पर इंडियन ऑयल के सेल्स मैनेजर मंजूनाथ की हत्या कर दी गई थी।
दरअसल, लखनऊ से आईआईएम में पढ़ाई के बाद मंजूनाथ ने एक तेल कंपनी के लिए काम करना शुरू किया था। मंजूनाथ को जल्द ही समझ में आ गया था कि तेल माफिया किस तरह से हेराफेरी और मिलावट कर रहे हैं।
मंजूनाथ ने इन तेल माफियाओं का पर्दाफाश करने का निर्णय लिया। यह बात तेल माफियाओं को नागवार गुजरी। उन्होंने मंजूनाथ को धमकाया, लेकिन उनका इरादा इससे डगमगाया नहीं। आखिरकार, उनकी आवाज को खामोश कर दिया गया।
जब वे ड्यूटी पर थे, उनकी गोली मार कर हत्या कर दी गई। मंजूनाथ ने अपनी जान देकर ईमानदारी की कीमत चुकाई, लेकिन उनके इस जज्बे ने देश के लाखों-करोड़ों युवाओं को प्रेरणा देने का काम किया। फिल्म में इस पूरे वाकये को दिखाया गया है।
एक्टिंग: मंजूनाथ बने साशो सतीश सारथी ने अपने किरदार के साथ पूरा न्याय किया है।उन्होंने मंजूनाथ को अपने-आप से इस तरह से रिलेट किया है कि आपको लगता है कि आप फिल्म नहीं, बल्कि मंजूनाथ की जिंदगी की हर घटना को बारीकी से देख रहे हैं। साशो के अलावा, उनकी मां के रोल में सीमा बिस्वास ब्रिलिएंट हैं।
इसके अलावा, दिव्या दत्ता और यशपाल शर्मा ने भी बेहतरीन एक्टिंग की है। ऐसी फिल्मों में मुख्य पात्र के चयन और किरदार पर निर्देशक का ज्यादा ध्यान रहता है, मगर इस फिल्म में ऐसा नहीं है। सपोर्टिंग रोल्स में अन्य एक्टर्स ने बढ़िया एक्टिंग की है।
क्या देख सकते हैं? इसमें कोई शक नहीं कि मंजूनाथ की मौत पूरे देश के लिए किसी ट्रैजिडी से कम नहीं थी, लेकिन इसे फिल्म के रूप में देखना थोड़ा उबाऊ है। यह एक केस स्टडी ज्यादा लगती है।
अगर आप एक मनोरंजक फिल्म देखने के शौक़ीन हैं तो ऐसी गंभीर फिल्म आपको शायद ही पसंद आए। लेकिन एक अच्छी सोच और इरादे से बनी फिल्म देखने वालों के दिलों को जरूर छू लेगी, इसमें भी कोई शक नहीं। अगर आप सीरियस और मीनिंगफुल सिनेमा देखने के शौक़ीन हैं तो यह फिल्म देखने के लिए सिनेमाघर का रुख कर सकते हैं।
X
movie review: manjunath
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..