--Advertisement--

Movie Review: 'द शौकीन्स'

Dainik Bhaskar

Nov 07, 2014, 10:31 AM IST

ये साल अक्षय कुमार के लिए शानदार रहा है। वो 'हॉलिडे' और 'एंटरटेनमेंट' जैसी दो कामयाब फिल्में दे चुके हैं। ऐसे में 'द शौकीन्स' से वो कामयाबी की हैट्रिक लगाना चाहते हैं। 'द शौकीन्स' 1982 में आई 'शौकीन' की रीमेक है, लेकिन इस फिल्म में काफी कुछ नयापन देखने को मिल रहा है।

Movie Review: The Shaukeens

फिल्म की कहानी:

लाली (अनुपम खेर), केडी (अन्नू कपूर) और पिंकी (पीयूष मिश्रा) तीन लोग अच्छे दोस्त होते हैं। उम्र से तीनों बुड्ढे होते हैं, लेकिन दिल से एकदम जवान। बाजार, गार्डन हर जगह तीनों अपने से उम्र में काफी छोटी लड़कियों को देखा करते हैं। हालांकि, जब लड़कियां इन तीनों की हरकतों से वाकिफ हो जाती हैं, तब ये दिल्ली छोड़कर मॉरिशस चले जाते हैं। मॉरिशस में ये तीनों अहाना (लीसा हेडन) के घर पर किराए से रहते हैं। अहाना काफी खुले हुए विचारों की लड़की होती है। उसका सिर्फ एक ही सपना होता है सुपरस्टार अक्षय कुमार (अक्षय कुमार) से मिलना। अहाना लाली, केडी और पिंकी को बताती है कि कोई उसे अक्षय कुमार से मिलवा दे तो वो कुछ भी कर सकती है। बस यहीं से फिल्म में कॉमेडी का तड़का और बढ़ जाता है। फिल्म में आगे क्या होता है, इसके लिए आपको सिनेमाघरों का रुख करना होगा।

स्टार्स की एक्टिंग:

अक्षय कुमार और लीसा हेडन के साथ इंडस्ट्री के तीन सीनियर्स इस फिल्म में अभिनय करते नजर आ रहे हैं। जहां तक अक्षय की बात है, वो एक बार फिर वो दर्शकों की कसौटी पर खरे उतरे हैं, लेकिन लीसा की एक्टिंग कामचलाऊ है। यूं भी कहा जा सकता है कि लीसा को जिस तरह का किरदार दिया गया, वो उन पर सूट कर रहा है। यही वजह है कि उन्हें एक्टिंग की ज्यादा जरूरत नहीं पड़ी। दूसरी तरफ अनुपम खेर, अन्नू कपूर और पीयूष मिश्रा ने एक बार फिर दिखा दिया कि वो उम्र में ही नहीं, बल्कि एक्टिंग में भी सीनियर हैं।

कैसा है डायरेक्शन:

डायरेक्टर अभिषेक शर्मा ने 'शौकीन' (1981) की तर्ज पर 'द शौकीन्स' बनाई है। फिल्म में वैसे तो कोई कहानी नहीं है, लेकिन पर्दे पर उन्होंने तीन रोमांटिक बुड्ढों को खूबसूरती से पेश किया है। हालांकि, फिल्म की रफ्तार कई मौके पर धीमी होती नजर आती है, लेकिन फिल्म के कॉमेडी सीन्स उसकी भरपाई करने में कामयाब दिखते हैं। अभिषेक ने फिल्म में कई अच्छी लोकेशन्स भी दिखाई हैं। कुल मिलाकर उनका डायरेक्शन अच्छा है।

कैसा है म्यूजिक:

बॉलीवुड फिल्मों में इन दिनों यो यो हनी सिंह का म्यूजिक छाया हुआ है। इस फिल्म की जैसी थीम थी, उस हिसाब से हनी सिंह के साथ हार्ड कौर, विक्रम नेगी और आर्को मुखर्जी ने शानदार म्यूजिक दिया है। फिल्म के गाने 'हां मैं एल्कोहोलिक हूं', 'तेरी मेहरबानी', 'आशिक मिजाज', 'इश्क कुत्ता है' पहले ही सुर्खियों में आ चुके थे। ऐसे में, फिल्म में सिचुएशन पर इन सॉन्ग को सुनना और देखना ज्यादा मजेदार नजर आता है।

क्यों देखें:

अक्षय बॉलीवुड के ऐसे सितारे हैं, जिनकी फिल्मों में एंटरटेनमेंट इतना होता है कि दर्शकों का पैसा वसूल हो जाता है। फिर ये फिल्म तो एंटरटेनमेंट को ध्यान में रखकर ही बनाई गई है। 1982 में आई 'शौकीन' को यंग जरनेशन ने नहीं देखा होगा। ऐसे में वो 'द शौकीन्स' देखकर उस कमी को पूरा कर सकते हैं। इस फिल्म को अनुपम खेर, अन्नू कपूर और पीयूष मिश्रा की बेहतरीन एक्टिंग, तिग्मांशु धूलिया के फनी डायलॉग्स और अभिषेक शर्मा के अच्छे डायरेक्शन के लिए देखी जा सकती है।
X
Movie Review: The Shaukeens
Astrology

Recommended

Click to listen..