विज्ञापन

Movie Review: 'यंगिस्तान'

dainikbhaskar.com

Mar 28, 2014, 06:18 PM IST

इस फिल्मी फ्राइडे सैयद अहमद अफजल डायरेक्टेड 'यंगिस्तान' फिल्म भी रिलीज हो गई है। फिल्म में जैकी भगनानी और नेहा शर्मा लीड रोल में हैं।

Movie Review: Youngistaan
  • comment

एक नौजवान को उसके पिता के निधन के बाद फोर्स करते हुए भारत का प्रधानमंत्री बना दिया गया है। यह नौजवान राजनीति की जटिलता से अंजान है। इसके चलते इस यंग पीएम को कई प्रकार की दिक्कतों का भी सामना करना पड़ता है, लेकिन बाद में उसकी अच्छी नीतियां, चालाकी भरी राजनीति और रणनीतियां उसे देश का लोकप्रिय नेता बना देती हैं।

हां, हमने वास्तविक जीवन में राजनीति में ऐसी स्थितियों को देखा है। इस तरह की स्टोरी पर बेस्ड हमने कई फिल्में और टीवी सीरियल्स भी देखे हैं। अब जैकी भगनानी स्टारर फिल्म ‘यंगिस्तान’ बॉक्स ऑफिस पर पुराने कॉन्सेप्ट के साथ किस्मत आजमाने को तैयार है, लेकिन असली सवाल तो ये है कि क्या दर्शक पुराने कॉन्सेप्ट वाली इस फिल्म को पसंद करेंगे।

जैकी भगनानी का रोल कैसा है? क्या राहुल गांधी से मिलता है रोल?

जैकी भगनानी ने फिल्म में अच्छी परफॉर्मेंस दी है। फिल्म के कुछ एक सीन्स को छोड़ दिया जाए, तो ज्यादातर सीन्स में जैकी ने अपने किरदार के साथ अच्छा न्याय किया है। वैसे, इस बात पर आश्चर्य होता है कि उन्होंने अपने शुरुआती फिल्मी करियर में इस तरह की फिल्म में काम किया, जिसमें उन्होंने स्पीच देने और देश को बदलने की बात की है।

फिल्म में जैकी ने अभिमन्यु कौल का किरदार निभाया है, जिसमें राहुल गांधी की झलक दिखाई पड़ती है। फिल्म में उन्होंने राहुल की तरह ड्रेस पहनी है और उन्हीं की तरह वह बात करते हुए स्पीच दे रहे हैं। इस फिल्म में प्रणव मुखर्जी और पी. चिदंबरम से मिलते-जुलते किरदार भी हैं।

फिल्म में नेहा शर्मा कैसी हैं?

'यंगिस्तान' में नेहा शर्मा ने अपने अभिनय से निराश किया है। वैसे, फिल्म में उनकी एक्टिंग से ज्यादा उनके किरदार को दोषी ठहराया जाना चाहिए। फिल्म में जिस-जिस सीन में नेहा हैं, उस-उस सीन में शायद आप अपने आसपास बैठे दोस्तों या फैमिली से बात करना पसंद करेंगे। फिल्म के एक सीन में ही नेहा थोड़ी अच्छी लगी हैं, जिसमें वह पीएम अभिमन्यु (जैकी भगनानी) को सुबह 4 बजे मटका कुल्फी खाने के लिए फोर्स करती हैं।

फिल्म में कुछ नया है क्या ?

अभी चुनाव का समय है और हर फिल्ममेकर देश के मूड को भुनाना चाहता है। फिल्म की पूरी कहानी उम्मीद के मुताबिक है। फिल्म के क्लाइमैक्स का ज्यादातर लोग इंटरवल से पहले ही अंदाजा लगा सकते हैं। हालांकि, फिल्म में कहीं-कहीं ऐसे ट्विस्ट भी है, जिससे दर्शक फिल्म से आखिर तक जुड़े रहेंगे।

कैसा है फिल्म का निर्देशन?

फिल्म के निर्देशक सैयद अहमद अफजल हैं। इनकी फिल्म पर अच्छी पकड़ रही है। हालांकि, कहीं-कहीं फिल्म की कहानी कमजोर जरूर है, लेकिन जैकी ने अपने रोल से उस कमी पर पर्दा डाला है।

बड़ा सवाल- क्यों देखें यंगिस्तान ?

अगर आप इस बात को लेकर कंफ्यूज हैं कि इस सप्ताह रिलीज हुई फिल्मों में से आप किस फिल्म को देखें, तो निश्चित रूप से ‘यंगिस्तान’ फिल्म आपके लिए बेहतरीन ऑप्शन है। हां, इस फिल्म को अगर आप ज्यादा उम्मीद के साथ देखेंगे, तो शायद यह फिल्म आपको ज्यादा पसंद न आए।

X
Movie Review: Youngistaan
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन