--Advertisement--

क्या आप जानते हैं: आधे घंटे के एपिसोड से 50 L- 1 Cr तक कमा लेते हैं टीवी शो

ऑडियंस सीरियल्स मनोरंजन के लिए देखती है। क्या कभी सोचा है कि सीरियल्स से प्रोड्यूसर्स और चैनल की कमाई कैसे होती है।

Danik Bhaskar | Feb 17, 2018, 04:28 PM IST

मुंबई. इंडिया में टीवी सीरियल्स का बहुत क्रेज है। ऑडियंस इसे मनोरंजन के लिए देखती है। लेकिन क्या कभी सोचा है कि सीरियल्स से प्रोड्यूसर्स और चैनल की कमाई कैसे होती है। इसका संबंध सीधे तौर पर आपसे जुड़ा हुआ है। जी हां, अगर आप आधे घंटे का कोई सीरियल देखते हैं तो वह उस ड्यूरेशन में 50 लाख से 1 करोड़ तक की कमाई कर लेता है। कैसे आइए जानते हैं...

- चैनल सीरियल्स के लिए प्रोडक्शन हाउस को पैसे देता है। हालांकि, यह उस सीरियल्स की TRP पर निर्भर करता है। यानी कि जिस सीरियल की TRP जितनी हाई होगी, उसकी कमाई के चांस उतने ही बढ़ जाते हैं।
- चैनल अगर हर दिन 30 मिनट का कोई सीरियल टेलीकास्ट करता है तो उसमें 15 मिनट्स विज्ञापनों के शामिल होते हैं।
- इन विज्ञापनों का रेट चैनल तय करता है, जो प्रति सेकंड के हिसाब से होता है। अगर प्रेजेंट की बात करें तो जी टीवी का शो 'कुंडली भाग्य' TRP में नंबर 1 पॉजिशन (बीते सप्ताह की रिपोर्ट के मुताबिक) पर है। यानी कि सबसे ज्यादा कमाई के चांस इस सीरियल के हैं।
- एक मार्केटिंग एजेंसी के मुताबिक, जीटीवी पर ऐड का रेट 6,124 रुपए प्रति सेकंड है। यानी कि अगर जी टीवी पर 30 घंटा दिखाए जाने वाले इस शो के बीच में 15 मिनट्स के ऐड रहते हैं तो इसकी कमाई करीब 50 लाख रुपए प्रति एपिसोड हो जाती है।
- चैनल और प्रोड्यूसर्स के बीच जिस तरह की डील होती है, उसके अनुसार प्रोडक्शन कंपनी को सीरियल का हिस्सा मिल जाता है।
- इसी तरह कलर्स के हर सीरियल की कमाई 50 लाख के आसपास और स्टारप्लस के हर सीरियल से करीब 1 करोड़ प्रति दिन कमा लेता है। हालांकि, सोनी सहित कुछ ऐसे चैनल्स भी हैं, जिनका रेट औरों की तुलना में कम है।

वैसे, केवल विज्ञापन ही नहीं, कुछ और भी ऐसे जरिया हैं, जहां से सीरियल्स की कमाई होती है। आगे की स्लाइड्स में डालते हैं इन पर एक नजर...

वीडियोसाइट्स से होती है कमाई

 

- हर चैनल विभिन्न वीडियो वेबसाइट्स जैसे यू-ट्यूब, डेलीमोशन, विमो आदि पर भी वही कंटेंट दिखाता है। यहां से भी उन्हें रेवेन्यु मिलता है। एक रिपोर्ट के मुताबिक,एक चैनल (नाम का खुलासा नहीं) इसके लिए करीब 1000 डॉलर यानी  करीब 70 हजार रुपए प्रति वेबसाइट, प्रति एपिसोड लेता है। 

डायरेक्ट विज्ञापन से 

 

- कई विज्ञापन ऐसे होते हैं, जिन्हें टीवी सीरियल्स के कंटेंट का ही हिस्सा बना दिया जाता है। मसलन, बिग बॉस के घर में CCTV कैमरे का विज्ञापन। कई सीरियल्स में एक्टर-एक्ट्रेस किसी ब्रांड का नाम बोलकर उसे प्रमोट कर देते हैं। इनसे सीरियल्स की डायरेक्ट कमाई होती है। 

DTH सब्सक्रिप्शन से कमाई 

 

- DTH प्रोवाइर्स अपने सब्सक्राइबर्स से हुई कमाई का कुछ हिस्सा चैनल्स को प्रोवाइड कराते हैं और इस हिस्से में प्रोड्यूसर्स का भी शेयर होता है। 

फिल्म प्रमोशन

 

- आजकल टीवी सीरियल्स में फिल्म को प्रमोट करने का ट्रेंड भी चल निकला। कई ऐसे पॉपुलर शोज हैं, जिनमें स्टार्स अपनी फिल्मों को प्रमोट करने पहुंचते हैं। मसलन, 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा'। कहा जाता है कि इसके लिए फिल्म मेकिंग कंपनी की ओर से शो के मेकर्स को मोटी रकम पे की जाती है।