ताज़ा मसाला

--Advertisement--

जब अपने पिता की मौत की दुआ मांगते थे कपिल शर्मा, वजह थी बेहद इमोशनल

कपिल शर्मा नए शो के साथ टीवी पर लौट रहे हैं। उनका नया शो 'फैमिली टाइम विद कपिल शर्मा' 25 मार्च से शुरू हो रहा है।

Dainik Bhaskar

Mar 25, 2018, 12:49 AM IST
When Kapil Sharma Prays For His Father Death

मुंबई. कपिल शर्मा नए शो के साथ टीवी पर लौट रहे हैं। उनका नया शो 'फैमिली टाइम विद कपिल शर्मा' 25 मार्च से शुरू हो रहा है। पिछले साल अगस्त में 'द कपिल शर्मा शो' बंद हो गया था। वैसे, कपिल की पर्सनल लाइफ की बात करें तो उन्होंने कई उतार-चढ़ाव देखे हैं। एक वक्त ऐसा भी था कि जब वे भगवान से अपने पापा को उठा लेने की प्रार्थना करते थे। जब कपिल ने कोसते हुए कहा- पापा इसी वजह से आपको कैंसर हुआ...

- 2014 में एक अंग्रेजी वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में कपिल ने पापा को याद करते हुए कहा था, "मैंने पापा के साथ बहुत कम समय बिताया है, लेकिन उनके आखिरी दिनों में जब हम ट्रीटमेंट के लिए उन्हें AIIMS ले गए, तब मैं उनके साथ था। हर पेरेंट बच्चों से उम्मीद लगाते है कि वे बाहर निकलें और पैसा कमाएं। लेकिन मेरे पापा बड़े दिलवाले थे। उन्होंने मुझसे कभी कुछ नहीं चाहा।"
- "दसवीं क्लास के बाद पॉकेट मनी के लिए मैंने पीसीओ में काम करना शुरू कर दिया था। आज मैं पापा को याद करता हूं, लेकिन उस वक्त मैं उनपर चिल्ला पड़ता था। कहता था, "पापा आपने अपने सिवाय किसी और के बारे में नहीं सोचा। यही वजह है कि आपको कैंसर हो गया।"

भगवान से प्रार्थना करते थे- पापा को उठा लो

- कपिल ने इस इंटरव्यू में यह भी कहा था कि कैंसर के कारण दर्द से कराहते पापा को देखकर वे भगवान से प्रार्थना करते थे कि वे उन्हें उनके पास बुला लें। कपिल के मुताबिक, उस वक्त उनके पास पैसे नहीं थे और वे किराए के घर में रहा करते थे।
- बकौल कपिल, "मां मुझसे कहती थी कि हर महीने सैलरी आने के बाद शुरुआती दो दिन पापा ड्रिंक करते थे और घर में चिकन लाते थे। बाकी पूरे महीने काम करते थे। आज जब भी कुछ अच्छा होता है तो मुझे उनकी याद आती है। आज अगर वे जीवित होते तो मैं उन्हें सबसे अच्छे स्कॉच खरीदकर देता। जब मुझे यह पता चला कि पापा को कैंसर है तो मैं बहुत रोया था।"
- "एक बार मैंने उन्हें ड्रिंक करते पकड़ लिया था, लेकिन उन्होंने कहा- 'इसे भूल जाओ, मैं कभी भी मर सकता हूं।' मैं उन्हें अपने इमोशन नहीं दिखा सकता था, क्योंकि वे पुलिस में थे। इस वजह से मुझे हमेशा उनसे डर लगता था। हालांकि, जब मैं बड़ा हो गया तो समझने लगा कि वे बहुत स्वीट थे और डरावने तो बिल्कुल नहीं थे।"
- "मैंने नसीर साहब का एक प्ले देखा था, जिसमें वे अपने बेटे को कहते हैं कि जब भी कमरे से बाहर जाया करो तो सभी लाइट बंद कर दिया करो। लेकिन वह कभी नहीं सुनता था। एक दिन उसके पिता की डेथ हो गई और बिना अहसास किए उसने अपने आप लाइट स्विचऑफ करनी शुरू कर दी। आपको बाद में पता चलता है कि कैसे आपमें आपके पापा की क्वालिटीज आ जाती हैं।"

श्राद्ध में एक फलवाले को शराब की बोतल देते थे कपिल, पढ़ें आगे की स्लाइड्स...

When Kapil Sharma Prays For His Father Death

श्राद्ध में एक फल वाले को शराब की बोतल देते थे कपिल


- कपिल ने इस इंटरव्यू में एक अन्य रोचक किस्सा यह सुनाया था कि क्यों वे श्रद्धा के दौरान एक फलवाले को शराब की बोतल देते थे। 
- बकौल कपिल, " अमृतसर में एक फलवाला था, जो पापा का दोस्त हुआ करता था। वह आदमी खुद की कोंटेसा (उस समय की एक चर्चित कार) से बादाम का बिजनेस किया करता था और अक्सर पापा को भी कुछ बादाम देकर जाता था।"
- "जब उसपर गरीबी आई तो वह फल बेचने लगा। हर महीने पापा उसे एक शराब की बोतल देते थे। जब पापा का निधन हुआ तो मैं श्राद्ध के समय उसके पास जाता था। मां मंदिर में पूजा करती थी और मैं उस आदमी को शराब की बोतल देता था। क्योंकि मुझे पता था कि ऐसा करने से पापा की आत्मा को शांति मिलेगी।"

 

कभी लाफ्टर चैलेंज के ऑडिशन में रिजेक्ट हुए थे कपिल, पढ़ें आगे की स्लाइड्स...

When Kapil Sharma Prays For His Father Death

कभी लाफ्टर चैलेंज के ऑडिशन में रिजेक्ट हुए थे कपिल


- कपिल के मुताबिक, "मैं किसी तरह लाफ्टर चैलेंज का हिस्सा बनना चाहता था। इसके तीसरे सीजन का ऑडिशन अमृतसर में हुआ था, लेकिन मैं रिजेक्ट हो गया। मेरा स्कूल फ्रेंड राजू (चंदन प्रभाकर), जो 'कॉमेडी नाइट्स विद कपिल' में नौकर का रोल करता था, सिलेक्ट हो गया। मैंने भी शो में हिस्सा लेने की ठान रखी थी। इसलिए दिल्ली के ऑडिशन में गया और न केवल सिलेक्ट हुआ। बल्कि सीजन का विनर भी बना।


आगे की स्लाइड्स में पढ़ें, जब मुंबई आते ही खुल गई किस्मत...

When Kapil Sharma Prays For His Father Death

जब मुंबई आते ही खुल गई किस्मत


- कपिल के मुताबिक, जनवरी 2007 में जब उन्होंने बहन (पूजा) की शादी फिक्स की तो उनकी (बहन की) सास रिंग सेरेमनी कराना चाहती थीं। लेकिन कपिल के पास 6 लाख रुपए थे, जिसमें से 3.5 लाख रुपए पापा के क्रिया-कर्म में पहले ही खर्च हो गए थे। बचे 2.5 लाख शादी के लिए रखे थे। इन पैसों से अंगूठी नहीं खरीदी जा सकती थी। अप्रैल 2007 में वे मुंबई आए तो जैसे उनकी किस्मत ही खुल गई। 
- कपिल कहते हैं, "मैं 'लाफ्टर चैलेंज' का विनर बना और प्राइज मनी के रूप में 10 लाख रुपए मिले। उसी रात मैंने बहन को कॉल किया और कहा कि अपनी रिंग खरीद लो। बाद में मैंने शोज करने शुरू किए और 30 लाख रुपए इकट्ठा कर लिए, जो बहन की शादी के लिए पर्याप्त थे। बाद में मैंने बड़े भाई की शादी भी की।"


आगे की स्लाइड्स में पढ़ें, धोनी-सचिन का नाम भी नहीं जानती थीं कपिल की मां...

When Kapil Sharma Prays For His Father Death

धोनी-सचिन का नाम भी नहीं जानती थीं कपिल की मां


- कपिल ने इंटरव्यू में कहा था, "मेरी मां को लगता है कि उसका बेटा बहुत भोला इंसान है और ज्यादा सो नहीं पाता। वह बहुत ही सिंपल है। हाल ही (2014 में) में मैं उन्हें पहली बार इंडिया से बाहर लंदन ले गया। हम वहां मेरे दोस्त युवराज सिंह के कैंसर ऑक्शन के लिए गए थे। मैं धोनी सर (महेंद्र सिंह धोनी) का बहुत बड़ा फैन हूं। जब उन्हें मैंने मां से इंट्रोड्यूस कराया तो वह बोली- 'बेटा क्या नाम है आपका।' मुझे बहुत शर्मिंदगी हुई। वह सचिन तेंडुलकर का नाम जानती थी, लेकिन उन्हें पहचानती नहीं थी। मैंने सचिन के साथ उसकी एक फोटो खींची। बाद में उसने मुझसे कहा- 'तुमने मुझे बताया क्यों नहीं कि वो सचिन थे।' लेकिन जब वह फ्लाइट में करिश्मा कपूर से मिली तो खुश हो गई। उसने करिश्मा के साथ फोटो भी खिंचाई।"


कॉलेजेस ने उठाया पढ़ाई का खर्च, पढ़ें आगे की स्लाइड्स...

When Kapil Sharma Prays For His Father Death

कॉलेजेस ने उठाया पढ़ाई का खर्च


- कपिल अमृतसर, पंजाब के रहने वाले हैं और उनके पिता पुलिस डिपार्टमेंट में हेड कॉन्स्टेबल थे। 1997 में कपिल को पता चला कि उनके पिता को फाइनल स्टेज का कैंसर है। 2004 में उनकी मौत हो गई, उस वक्त कपिल पढ़ाई कर रहे थे। कपिल की मानें तो उस दौरान उनके पास फीस जमा करने के लिए पैसे नहीं थे, लेकिन थिएटर के बारे में जानते थे। इस वजह से कई कॉलेजेस ने उनकी पढ़ाई का खर्च उठाया। 
- बकौल कपिल, "कॉलेज वालों ने मुझसे पूछा कि कौन-से कोर्स में एडमिशन लोगे तो मैं क्रॉस क्वेश्चन किया कि सबसे महंगा कोर्स कौन-सा है? जवाब मिला कमर्शियल आर्ट और मैंने बिना उसे जाने-समझे एडमिशन ले लिया। मैं क्लास अटेंड नहीं करता था। बाद में मैंने कम्प्यूटर में डिप्लोमा भी लिया। कम्प्यूटर की क्लास में जाना भी मुझे बहुत पसंद था, क्योंकि वही इकलौता ऐसा रूम था, जहां एसी लगा हुआ था।"

X
When Kapil Sharma Prays For His Father Death
When Kapil Sharma Prays For His Father Death
When Kapil Sharma Prays For His Father Death
When Kapil Sharma Prays For His Father Death
When Kapil Sharma Prays For His Father Death
When Kapil Sharma Prays For His Father Death
Click to listen..