• Hindi News
  • Bollywood
  • Aamir Khan returns to 'Mogul' by giving clean chit to director Subhash Kapoor Regarding MeToo Allegations

मोगुल / गुलशन कुमार की बायोपिक पर लौटे आमिर, डायरेक्टर पर यौन शोषण के आरोप के चलते हुए थे अलग



आमिर खान और गुलशन कुमार। आमिर खान और गुलशन कुमार।
X
आमिर खान और गुलशन कुमार।आमिर खान और गुलशन कुमार।

Dainik Bhaskar

Sep 10, 2019, 12:50 PM IST

बॉलीवुड डेस्क.  भूषण कुमार के सबसे महत्त्वाकांक्षी प्रोजेक्ट उनके पिता गुलशन कुमार की बायोपिक 'मोगुल' पर सालभर से मंडराते संशय के बादल छंट गए हैं। आमिर खान ने पहले इस फिल्म के डायरेक्टर सुभाष कपूर पर लगे यौन शोषण के आरोपों की वजह से इसे करने से इनकार कर दिया था। लेकिन अब वे अपना फैसला बदलकर इस प्रोजेक्ट पर लौट आए हैं। साथ ही उन्होंने सुभाष के साथ भी सहानुभूति दिखाई है। उन्होंने अपने इस निर्णय से दैनिक भास्कर को अवगत कराया। 

पूरे मामले पर आमिर का पूरा बयान

  1. जिस वक्त मैंने यह फिल्म साइन की, तब हमें सुभाष कपूर के केस के बारे में नहीं पता था। जब इंडस्ट्री में मीटू मूवमेंट चला, तब इस केस का जिक्र हुआ और हमें इस बारे में पता चला। इसके बाद मैं और किरण काफी डिस्टर्ब हुए। हमने इस पर काफी लंबा डिस्कशन किया और फिल्म से अलग होने का फैसला किया।

  2. हम फिल्म से अलग तो हो गए, लेकिन हमें महसूस हो रहा था कि हमारे कदम ने अनजाने में एक इंसान को संकट में डाल दिया। वह नौकरी खोने की कगार पर है। अगर वह निर्दोष साबित हुए तो क्या होगा? हम बहुत परेशान थे। कानून किसी इंसान को तब तक बेकसूर मानता है, जब तक कि वह दोषी साबित न हो जाए। तो क्या उन्हें काम करने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए? मुझे इन सवालों ने काफी परेशान किया। मैं रात को सो नहीं पाया।

  3. इसी साल मई महीने में IFTDA से एक पत्र मिला, जिसमें लिखा गया था कि सुभाष का मामला पक्षपातपूर्ण है और मुझे उनके मामले पर फैसला करने के लिए अदालत के निर्णय का इंतजार करना चाहिए। कृपया ऐसा कुछ न करें जो उनके लिए नुकसानदेह है। उन्हें काम नहीं मिल रहा है। ऐसे में वो क्या करेंगे? जब मैंने वह पत्र पढ़ा तो मैं खुद को और भी अधिक कसूरवार महसूस करने लगा। 

  4. इसके बाद हमने बहुत सी उन महिलाओं से मिलने का फैसला किया, जिन्होंने मिस्टर कपूर के साथ काम किया था। इससे हम यह पता लगाना चाहते थे, कि क्या अन्य महिलाएं भी उनके साथ असहज हैं? हम हेड ऑफ द डिपार्टमेंट, असिस्टेंट डायरेक्टर्स आदि का काम संभाल चुकीं लगभग 10-12 महिलाओं से मिले। हमने पाया कि बिना किसी संदेह के ये सभी मिस्टर कपूर के पक्ष में नजर आईं। उन्होंने उनके साथ कोई असुविधा महसूस नहीं की, बल्कि वे उनकी प्रशंसा करती नजर आईं।

  5. किरण और मैं दोनों पूरी तरह से जानते हैं कि भले ही इन महिलाओं का मिस्टर कपूर के साथ काम करने का बहुत अच्छा अनुभव रहा होगा, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि वह किसी अन्य महिला के साथ दुर्व्यवहार नहीं कर सकते। हालांकि उन महिलाओं के साथ बातचीत से हमें सुकून मिला और इसलिए सब कुछ ध्यान में रखते हुए, मैंने IFTDA को एक पत्र लिखा कि मैंने अपने निर्णय पर पुनर्विचार किया है, और मैं इस फिल्म पर वापसी करूंगा।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना