न्यूज़

  • Hindi News
  • Entertainment News
  • News
  • एके हंगल, 'शोले', एके हंगल डेथ एनिवर्सरी, Ak Hangal 6th Death Anniversary Some Rare Facts Of His Struggle Life
--Advertisement--

आखिरी वक्त में इलाज को तरस गए थे एके हंगल, फिर 'शोले' के को-एक्टर ने दिए थे 20 लाख

खंडहर जैसे घर में गुजरे थे 'शोले' के इमाम साहब के आखिरी दिन।

Dainik Bhaskar

Aug 25, 2018, 09:57 AM IST
एके हंगल, 'शोले', एके हंगल डेथ एनिवर्सरी, Ak Hangal 6th Death Anniversary Some Rare Facts Of His Struggle Life

बॉलीबुड डेस्क. फिल्म 'शोले' में इमाम साहब का किरदार भला कौन भूल सकता है। फिल्म का डायलॉग 'इतना सन्नाटा क्यों है भाई?' आज भी मशहूर है। इस एक डायलॉग ने एक्टर एके हंगल को पॉपुलर बना दिया था। 225 फिल्मों में काम करने वाले हंगल का निधन 98 साल की उम्र में 26 अगस्त, 2012 को हुआ था। शायद कम ही लोग जानते हैं कि आखिरी दिनों में उन्हें पैसों की तंगी का सामना करना पड़ा था। हालात ये हो गए थे कि उनके पास इलाज कराने और दवाइयां खरीदने के पैसे नहीं बचे थे।

52 साल की उम्र में किया था एक्टिंग में डेब्यू: एके हंगल एक्टर बनने से पहले फ्रीडम फाइटर थे। किस्मत ने ऐसी पलटी मारी कि वे फिल्मी दुनिया में आ गए। 52 साल की उम्र में उन्होंने बासु भट्टाचार्य की फिल्म 'तीसरी कसम' (1966) से बॉलीवुड में डेब्यू किया था। उन्होंने फिल्मों में कई यादगार किरदार निभाए, जिनके लिए उनको हमेशा याद किया जाता है। अपने 40 साल के करियर में उन्होंने करीब 225 फिल्मों में काम किया।

- पद्मभूषण से सम्मानित हंगल को अपने अंतिम दिनों में एक छोटे से कमरे में जिंदगी गुजारनी पड़ी। आप यकीन नहीं करेंगे लेकिन वे 95 साल की उम्र में अपने बेटे के साथ खंडहर जैसे घर में रहते थे।

अमिताभ बच्चन ने दिए थे 20 लाख रुपए: एके हंगल के बेटे ने जब इलाज के लिए पैसे ना होने की बात बताई तब अमिताभ बच्चन ने उन्हें इलाज के लिए 20 लाख रुपए दिए थे। साथ ही करन जौहर सहित कई और सेलेब्स ने भी उनकी आर्थिक रूप से मदद की थी।

बाथरूम में गिर गए थे: 13 अगस्त, 2012 को वे बाथरूम में गिर गए थे, जिसके बाद उनकी जांघ की हड्डी टूट गई थी और पीठ में भी चोट आई थी। उन्हें अस्पताल ले जाया गया लेकिन सांस लेने में तकलीफ के चलते सर्जरी नहीं की जा सकी। धीरे-धीरे उनकी हालत और बदतर होती चली गई और फिर हंगल को लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रख गया।

- उनके फेंफड़ों ने भी काम करना बंद कर दिया। फिर एक दिन वो इस दुनिया से चल बसे। उनकी आखिरी फिल्म 2008 में आई 'हमसे है जमाना' थी। 2012 में वे टीवी सीरियल 'मधुबाला: एक इश्क एक जुनून' में कैमियो के रोल में भी नजर आए थे।

X
एके हंगल, 'शोले', एके हंगल डेथ एनिवर्सरी, Ak Hangal 6th Death Anniversary Some Rare Facts Of His Struggle Life
Click to listen..