--Advertisement--

पैडमेन के बाद ट्विंकल ने किया 'फर्स्ट पीरियड' का सपोर्ट, मेन्स्ट्रुअल हाइजीन पर खुलकर बात करती है शॉर्ट फिल्म

पैडमेन के बाद ट्विंकल खन्ना एक बार फिर मेन्स्ट्रुअल हाइजीन विषय पर अवेयर करने आगे आयी हैं। यह एक शॉर्ट फिल्म है।

Dainik Bhaskar

May 28, 2018, 03:19 PM IST
फिल्म का निर्माण मोजेज सिंह ने किया है। वहीं ट्विंकल खन्ना इसके सपोर्ट में आगे आयी हैं। फिल्म का निर्माण मोजेज सिंह ने किया है। वहीं ट्विंकल खन्ना इसके सपोर्ट में आगे आयी हैं।

बाॅलीवुड डेस्क। मेन्स्ट्रुअल हाइजीन विषय पर जागरुकता बढ़ाने ट्विकंल खन्ना ने फिल्म प्रोडक्शन में कदम रखा और पहली फिल्म पैडमेन बनायी। फिल्म में अक्षय कुमार ने तमिलनाडु के अरुणाचलम मुरुगनाथम की भूमिका निभाई थी। अरुणाचलम ही रीयल पैडमेन हैं, जिन्होंने कम लागत वाले सेनेटरी पैड बनाने की शुरुआत की थी। इस फिल्म के बाद ट्विकंल एक बार फिर मेन्स्ट्रुअल हाइजीन विषय पर अवेयर करने आगे आयी हैं। शॉर्ट फिल्म 'फर्स्ट पीरियड' को लेकर उनका मानना है कि यह एक जरूरी पॉइंट है जिस पर हर किसी को बात करनी चाहिए।

शॉर्ट फिल्म है फर्स्ट पीरियड
- टि्वंकल जिस फिल्म के सपोर्ट में है, वह एक शॉर्ट मूवी है। इसका विषय पैडमेन जैसा ही है। फिल्म को डायरेक्ट किया है मोजेज सिंह ने। इसके पहले मोजेज 2016 में फिल्म जुबान बना चुके हैं।
- फर्स्ट पीरियड की कहानी एक लड़के की नजर से लिखी गई है। फर्स्ट पीरियड और उसके पहले दिन के बारे में उसका और उसके परिवार के पुरुषों की सोच क्या है, कहानी यही बताती है।

बातचीत में शामिल करना था उद्देश्य
- मोजेज ने बताया कि दसरा- द गेट्स फाउंडेशन एनजीओ ने उनसे बात की और कहा कि वे चाहते हैं कि मेन्स्ट्रुअल हाइजीन के मुद्दे पर पुरुष भी अपनी सहभागिता बनाएं।
- इसके बाद हमने ऐसी स्क्रिप्ट बनायी जो पूरी तरह से एक पुरुष की मानसिकता पर आधारित है, कि वह क्या सोचता है। महिलाओं की दुनिया में फर्स्ट पीरियड कैसे सही है और उससे सशक्त बनाता है।

आयुष से होती है शुरुआत
- फिल्म की कहानी ईशानी बैनर्जी ने लिखी है। शुरुआत स्कूल जाने वाले एक लड़के आयुष से होती है। इसके बाद यह उसके परिवार के हर पुरुष, टीचर और क्लासमेट्स के विचारों को सामने लाती है।

यूट्यूब पर हुई रिलीज
- शॉर्ट फिल्म फर्स्ट पीरियड को एक बेंचमार्क देने के लिए इसे स्पेशल डे पर रिलीज किया। 28 मई को दुनियाभर में वर्ल्ड मेन्स्ट्रुएशन हाइजीन डे मनाया जाता है। इस दिन ही फिल्म को यूट्यूब पर रिलीज किया गया।


रीयल पैडमेन ने भी उठाया था मुद्दा
- अरुणाचलम ने भी मेन्स्ट्रुअल हाइजीन विषय को गंभीर मानते हुए इस पर काम करने की ठानी थी।
- अरुणचलम ने कम लागत वाले सेनेटरी पैड बनाने की मशीन बनाई जिसके लिए उन्हें पद्मश्री अवॉर्ड भी मिला। मशीन बनाने में करीब 2 साल का समय लगा।
- मुरुगनाथम ने गांव-गांव जाकर महिलाओं को पैड का इस्तेमाल करने जागरूक किया। कोयंबटूर में अरुणाचलम अपनी कंपनी चलाते हैं।
- 4,500 गांव की महिलाएं उनके बनाए सेनेटरी पैड का इस्तेमाल करती हैं।

ट्विंकल खन्ना किताब द लीजेंड ऑफ लक्ष्मी प्रसाद लिख चुकी हैं। ट्विंकल खन्ना किताब द लीजेंड ऑफ लक्ष्मी प्रसाद लिख चुकी हैं।
फिल्म फर्स्ट पीरियड को यू-ट्यूब पर रिलीज कर दिया गया है। फिल्म फर्स्ट पीरियड को यू-ट्यूब पर रिलीज कर दिया गया है।
X
फिल्म का निर्माण मोजेज सिंह ने किया है। वहीं ट्विंकल खन्ना इसके सपोर्ट में आगे आयी हैं।फिल्म का निर्माण मोजेज सिंह ने किया है। वहीं ट्विंकल खन्ना इसके सपोर्ट में आगे आयी हैं।
ट्विंकल खन्ना किताब द लीजेंड ऑफ लक्ष्मी प्रसाद लिख चुकी हैं।ट्विंकल खन्ना किताब द लीजेंड ऑफ लक्ष्मी प्रसाद लिख चुकी हैं।
फिल्म फर्स्ट पीरियड को यू-ट्यूब पर रिलीज कर दिया गया है।फिल्म फर्स्ट पीरियड को यू-ट्यूब पर रिलीज कर दिया गया है।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..