--Advertisement--

अमेरिकी शो बिग ब्रदर सीजन 20 पर भी लगा नस्लवाद और सेक्सुअल हैरेसमेंट का आरोप

रियलटी शो बिग ब्रदर के सीजन-20 में लगभग 50 प्रतिभागी हिस्सा ले रहे हैं।

Danik Bhaskar | Jul 04, 2018, 07:07 PM IST

एंटरटेन्मेंट डेस्क. अमेरिकी बिग बॉस यानी टीवी शो बिग ब्रदर के सीजन 20 की ऑनलाइन फीड शुरू हुए अभी एक हफ्ता भी नहीं पूरा हुआ है और शो पर नस्लवादी टिप्पणियां करने और सेक्सुअल हैरेसमेंट का आरोप लगा है। हालिया घटना सोमवार रात शो के दौरान की है। शो के प्रतिभागी रिचेल स्विंडलर और एंजेला रमंस ने धूप में रहने के कारण स्किन टैनिंग की तुलना करते हुए 'यहूदी' शब्द का इस्तेमाल किया। इसके बाद ट्विटर पर दोनों प्रतिभागियों को जमकर ट्रोल किया गया। शो के निर्माताओं ने दोनों को ही भविष्य में दोबारा ऐसे व्यवहार करने पर शो से बाहर करने की चेतावनी दी है।

सेक्सुअल हैरेसमेंट का भी आरोप : इसके पहले भी शो के फैन्स ने जेसी माउंड्यूक्स को अनुचित रूप से प्रतिभागियों को छूने के लिए छेड़छाड़ करने और यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया गया था। जिसमें से कुछ लोगों ने शो से माउंड्यूक्स को बाहर करने की भी मांग की थी। सीबीएस ने एक अखबार को बताया कि ये घटनाएं सीबीएस पर प्रसारित बिग ब्रदर का शो का हिस्सा नहीं होंगी।

- यह पहली बार नहीं है जब बीबी-20 सीरीज के विवादास्पद मुद्दों से निपटाया गया है। 2013 के सीजन में भी सीजन-15 में कुछ प्रतिभागियों ने शो में अपने समय के दौरान नस्लवादी और होमोफाेबिक टिप्पणी करने का आरोप लगाया था।

शिल्पा के साथ भी हुआ था यही : बिग ब्रदर सीजन-5 में शिल्पा शेट्‌टी भी नस्लभेदी टिप्पणी का शिकार हुई थीं और यह विवाद काफी लंबा चला था। बिग ब्रदर शो के प्रतिभागियों जेड गूडी, जोओ मिआरा और डेनियल लॉयड ने शिल्पा को नस्लवादी टिप्पणियों से आहत किया था। हालांकि इस विवाद के बाद शिल्पा को मिली सहानुभूति बेकार नहीं गई और शिल्पा बिग ब्रदर के उस सीज़न की विजेता बनकर ग्लोबल सेलिब्रिटी बन गईं थीं।