--Advertisement--

पुलिस स्टेशन जाने से पहले सलमान से मिले थे अरबाज, भाई ने शेरा को भेजा साथ

अरबाज खान शनिवार को आईपीएल में सट्टेबाजी मामले में ठाणे पुलिस के सामने पेश हुए।

Dainik Bhaskar

Jun 03, 2018, 12:05 PM IST

- पुलिस स्टेशन जाने से पहले अरबाज ने की थी बड़े भाई सलमान खान से मुलाकात।
- काफी देर तक बात करते रहे दोनों भाई।
- सलमान ने अपने बॉडीगार्ड शेरा को अरबाज को प्रोटेक्ट करने के लिए भेजा।

मुंबई. अरबाज खान शनिवार को आईपीएल में सट्टेबाजी मामले में ठाणे पुलिस के सामने पेश हुए। इस दौरान उनके साथ सलमान खान के बॉडीगार्ड शेरा भी नजर आए। रिपोर्ट्स के मुताबिक, ठाणे निकलने से पहले अरबाज बड़े भाई सलमान से मिलने पहुंचे थे। यहां दोनों भाइयों के बीच काफी देर तक बात हुई। इसके बाद जब अरबाज ठाणे रवाना हुए तो शेरा भी उनके साथ निकल गए। बताया जाता है कि शेरा अब सलमान के साथ पूरे परिवार को प्रोटेक्ट करते हैं। वैसे इसके बीते कुछ वक्त में इसके उदाहरण भी देखने को मिल चुके हैं। बहन अलविरा और अर्पिता को कर चुके हैं प्रोटेक्ट...

- अप्रैल में जब सलमान खान काले हिरण के शिकार मामले में जोधपुर पहुंचे थे, तब शेरा उनके साथ थे। सलमान की बहनें भी इस दौरान जोधपुर में थीं। शेरा ने तब सलमान के साथ-साथ उनकी बहनों का भी पूरा ख्याल रखा। कोर्ट में जब सलमान को सजा सुनाई गई तो उनकी बहन अलविरा बेहोश हो गई तब शेरा उन्हें संभालते नजर आए थे। जब सलमान दो दिन जेल में बंद रहे तो शेरा जोधपुर में ही डटे रहे। कहा यह भी जाता है कि शेरा सलमान के लिए खाना लेकर भी गए थे। लेकिन जेल प्रशासन ने उन्हें इसे देने कि इजाजत नहीं दी।

Arbaaz Khan Meets Brother Salman Before Leaving To Police Station
20 साल से सलमान की हिफाजत कर रहे शेरा
 
- पिछले 20 साल से सलमान की हिफाजत कर रहे गुरमीत सिंह जॉली उर्फ शेरा आज उनके लिए एक कर्मचारी भर नहीं रह गए हैं। सलमान उन्हें अपने परिवार के सदस्य की तरह मानते हैं। एक पॉपुलर वेबसाइट की रिपोर्ट के मुताबिक, सलमान को सिक्योरिटी देने के बदले शेरा साल के करीब 2 करोड़ रुपए लेते हैं। यानी बतौर फीस उन्हें करीब 16 लाख रुपए महीने मिलते हैं। सलमान को जहां पहुंचना होता है, शेरा उस जगह का एक दिन पहले ही जायजा ले लेते हैं। कई बार उन्हें रास्ता साफ करने के लिए पांच-पांच किमी तक पैदल चलना पड़ता है। एक बार तो शेरा को रास्ता क्लियर करवाने के लिए कार से उतरकर 8 किलोमीटर पैदल चलना पड़ा था।
Arbaaz Khan Meets Brother Salman Before Leaving To Police Station
ऐसे सलमान के बॉडीगार्ड बने शेरा 
 
- शेरा को बचपन से ही बॉडी बिल्डिंग का शौक रहा। यही कारण है कि वे 1987 में जूनियर मिस्टर मुंबई और इसके अगले साल जूनियर वर्ग में मिस्टर महाराष्ट्र चुने गए। सिख परिवार में जन्मे के पिता मुंबई में गाड़ियां रिपेयर करने की वर्कशॉप चलाते हैं। पिता उन्हें प्यार से शेरा बुलाते हैं। एक दोस्त के कहने पर शेरा के पिता ने फिल्मी सितारों व अन्य बिजनेसमैन को सिक्योरिटी प्रोवाइड कराने का काम शुरू किया। उन्होंने अपनी कंपनी का नाम बेटे के नाम पर 'टाइगर सिक्यूरिटीज' रखा। शुरुआत में शेरा कुछ हॉलीवुड फिल्मों की भारत में शूटिंग के दौरान उनके एक्टर्स के बॉडीगार्ड बने। 
Arbaaz Khan Meets Brother Salman Before Leaving To Police Station
1995 में आया टर्निंग प्वाइंट
 
1995 उनके लिए टर्निंग प्वाइंट रहा। जब सोहेल खान ने सलमान के विदेशी दौरे के लिए शेरा की कंपनी की सर्विस मांगी। सोहेल ने शेरा से पूछा- 'भाई के साथ हमेशा रहोगे'। बाद में शेरा की सर्विस से खुश होकर सलमान ने हमेशा के लिए उन्हें अपना बॉडीगार्ड बना लिया। इसके बाद से वे सलमान के फैमिली मेंबर जैसे हैं।
X
Arbaaz Khan Meets Brother Salman Before Leaving To Police Station
Arbaaz Khan Meets Brother Salman Before Leaving To Police Station
Arbaaz Khan Meets Brother Salman Before Leaving To Police Station
Bhaskar Whatsapp