• Hindi News
  • Bollywood
  • Birthday special Yogeshwar Krishna is shelved film screenplay written by Lal Krishna Advani

बर्थडे स्पेशल / लालकृष्ण आडवाणी ने लिखे थे फिल्म 'योगेश्वर कृष्ण' के डायलॉग, लेकिन हो गई थी डिब्बा बंद



Birthday special Yogeshwar Krishna is shelved film screenplay written by Lal Krishna Advani
X
Birthday special Yogeshwar Krishna is shelved film screenplay written by Lal Krishna Advani

Dainik Bhaskar

Nov 08, 2019, 12:40 PM IST

बॉलीवुड डेस्क. लालकृष्ण आडवाणी 8 नवम्बर को अपना 92वां जन्मदिन मना रहे हैं। राजनीति में अपना जीवन देने वाले आडवाणी फिल्मों से भी जुड़े हुए रहे। 1975 में मशहूर निर्माता-निर्देशक  रामानंद सागर ने भगवान श्रीकृष्ण पर आधारित एक फिल्म बनाने की घोषणा की। टाइटल था 'योगेश्वर कृष्ण'। इसी साल इस फिल्म का मुहूर्त भी हो गया।

सबसे खास बात थी इस फिल्म के डायलॉग और स्क्रीन प्ले, जिन्हें भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने लिखा था। हालांकि यह फिल्म सिर्फ नाम तक ही सीमित रह गई। इसका मुहूर्त तो हुआ लेकिन किन्हीं कारणों से आगे नहीं बढ़ पाई और आखिरकार हमेशा के लिए डिब्बा बंद हो गई। 

फिल्म से जुड़ी कुछ बातें

  1. ये थी फिल्म की स्टार कास्ट

    फिल्म में टाइटल रोल के लिए शशि कपूर को चुना गया था। अभिमन्यु का किरदार ऋषि कपूर निभाने वाले थे। इसके अलावा धर्मेन्द्र को भीम, विनोद खन्ना को कर्ण, जीवन को शकुनि, अमजद खान को दुर्योधन और हेमा मालिनी को द्रौपदी का रोल ऑफर हुआ  था। 

  2. मुहूर्त पर पहुंचे थे आडवाणी

    1975 में जब फिल्म का मुहूर्त हुआ तब रामानंद सागर के साथ लालकृष्ण आडवाणी, राज कपूर, शशि कपूर भी मौजूद थे। फिल्म के बंद होने के बाद रामानंद सागर ने अपना पूरा ध्यान रामायण टीवी शो पर लगा दिया। 1988 में रामायण का प्रसारण दूरदर्शन पर हुआ और यह बेहद सफल धारावाहिक रहा।

  3. आज भी फिल्मों के शौकीन

    लालकृष्ण आडवाणी को फिल्मों का बेहद शौक है। सत्यजीत रे, गुरु दत्त, राजकपूर, अमिताभ बच्चन और मनोज कुमार उनके पसंदीदा एक्टर्स हैं। लता मंगेशकर उनकी फेवरिट सिंगर हैं। पत्रकारिता के दौर में उन्होंने फिल्म समीक्षाएं भी लिखीं। इतना नहीं उन्होंने अपना पिछला जन्मदिन फिल्म चक्रव्यूह देखकर सेलिब्रेट किया था।

  4. रथयात्रा के नेता

    1982 में जन्में आडवाणी को 2015 में पद्मविभूषण से सम्मानित किया गया था। लालकृष्ण आडवाणी ने 2008 में ऑटोबायोग्राफी 'माय कंट्री माय लाइफ' लिखी थी, जिसका विमोचन एपीजे अब्दुल कलाम ने किया था। लालकृष्ण आडवाणी की अगुवाई में ही सितम्बर 1990 में निकाली गई सोमनाथ से अयोध्या की रथयात्रा ने राममंदिर आंदोलन की दिशा बदल दी थी। इस यात्रा ने पूरे देश में राम लहर का उन्माद पैदा कर दिया। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना