--Advertisement--

खिलाड़ी जैसे फिजीक के लिए दिलजीत ने बदला था अपना डेली रुटीन, दिन में 12 घंटे करते थे हॉकी की प्रैक्टिस

‘सूरमा’ का डायरेक्शन शाद अली ने किया है। फिल्म 13 जुलाई काे रिलीज होगी।

Danik Bhaskar | Jun 27, 2018, 02:16 PM IST
'सूरमा' में दिलजीत के अलावा तापसी पन्नू, अंगद बेदी भी हैं। 'सूरमा' में दिलजीत के अलावा तापसी पन्नू, अंगद बेदी भी हैं।

बॉलीवुड डेस्क. फ्लिकर सिंह के नाम से मशहूर संदीप सिंह की बायोपिक सूरमा के लिए दिलजीत दोसांझ ने खुद को पूरी तरह से एथलीट में बदल लिया था। दिनचर्या से लेकर डाइट तक और संदीप का सिग्नेचर हॉकी मूव सीखने संदीप ने रोजाना 12 घंटों तक हाॅकी के मैदान में पसीना बहाया है। खुद संदीप सिंह ने दिलजीत को ट्रेनर के तौर पर अपनी तरह हाॅकी खेलना सिखाया है। दिलजीत के ट्रांसफॉर्मेशन को उनकी पुरानी फोटोज में देखा जा सकता है।

12 घंटे मैदान पर की प्रैक्टिस : संदीप की तरह ड्रैग फ्लिकर बनने के लिए दिलजीत ने एक महीने तक रोजाना हॉकी स्टिक पकड़ने, मैदान में खड़े होने, शॉट लगाने और ड्रैग फ्लिक करने की प्रैक्टिस की।
- संदीप खुद दिलजीत को 12 घंटे, अंगद को 3 घंटे और तापसी पन्नू को भी 4-5 घंटे तक हॉकी की प्रैक्टिस करवाते थे।


रुटीन में बनाया जल्दी उठने-सोने का : दिलजीत ने सुबह जल्दी उठने और सोने का रुटीन बनाया। इसे फॉलो करते हुए वे पूरी शूटिंग के दौरान जल्दी सोया करते थे और सुबह जल्दी उठकर हॉकी की प्रैक्टिस करने निकल जाते थे। संदीप के मैचेस और इंटरव्यू देखते हुए उनकी तरह बोलने और चलने की ट्रेनिंग ली।

परिवार और दोस्तों के साथ बिताया वक्त : दिलजीत ने संदीप के भाई विक्रमजीत, पिता गुरचरन सिंह और मां दलजीत कौर के अलावा उनके दोस्तों के साथ भी लम्बा समय बिताया है। फिल्म में उनके परिवार की बॉन्डिंग को दिखाने कई हफ्ते उनके घर में रहे हैं। लगभग 4 महीने संदीप और दिलजीत ने साथ वक्त बिताया था।

- फिल्म सूरमा में संदीप के भाई बिक्रमजीत भी कुछ दृश्याें में दिखाई देंगे।

कम किया खाना और ली एथलीट डाइट : दिलजीत काे खाने का बहुत शौक है। पंजाबी सिग्नेचर फूड जिसमें ऑइली खाना होता है। उसे पूरी तरह छोड़कर एथलीट वाली हैल्दी डाइट ली। जिमिंग और वर्कआउट के जरिए सिक्स पैक एब्स भी बनाए।

एक्स्ट्रा शॉट्स
- संदीप सिंह ने एक इंटरव्यू में बताया था कि जब वे अपने हालातों से लड़ रहे थे तब वे दिलजीत के गानों को ही सुना करते थे।
- सूरमा में फ्लिकर सिंह बने दिलजीत दोसांझ ने बॉलीवुड डेब्यू फिल्म ‘उड़ता पंजाब’ से किया था।

संदीप सिंह को 2006 में ट्रेन से सफर करने के दौरान अारपीएफ जवान की गोली लग गई थी। संदीप सिंह को 2006 में ट्रेन से सफर करने के दौरान अारपीएफ जवान की गोली लग गई थी।
दिलजीत ने एथलीट फिजीक के लिए जिम में भी घंटों मेहनत की है। दिलजीत ने एथलीट फिजीक के लिए जिम में भी घंटों मेहनत की है।