न्यूज़ रील

--Advertisement--

फ्लाइट लेट होने पर यात्री ले सकेंगे 20 हजार रुपए तक का हर्जाना, मिल सकते हैं नए Rights

हवाई सफर करने वाले यात्रियों के लिए खुशखबरी है...

Danik Bhaskar

Apr 20, 2018, 05:11 PM IST

ट्रैवल डेस्क। हवाई सफर करने वाले यात्रियों के लिए खुशखबरी है। यदि उनकी कनेक्टिंग फ्लाइट शुरुआती फ्लाइट के लेट होने या कैंसल होने की वजह से छूटेगी तो वे एयर कंपनी से 20 हजार रुपए तक का हर्जाना मांग सकेंगे। एयर यात्रियों को यह अधिकार मिल सकता है।

डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन (DGCA) ने ट्रैवलर्स के राइट्स और रिस्पॉन्सबिलिटी की जो लिस्ट दी है, उसमें यह प्रस्ताव दिया है। DGCA ने यह प्रस्ताव भी दिया है कि यदि किसी एयरलाइंस ने किसी पैसेंजर को जबरन बोर्डिंग देने से मना किया तो उस पैसेंजर को 5 हजार रुपए का मुआवजा अदा किया जाएगा। कई बार ऐसा होता है कि ओवर बुकिंग के चलते एयरलाइंस कुछ पैसेंजर्स को बोर्ड पास नहीं जारी करती। फिर मजबूरन पैसेंजर्स को दूसरी फ्लाइट से टिकट बुक कराना पड़ती है।

ऐसा होने पर यात्रा कैंसल करने का मिल सकता है अधिकार, देखिए अगली स्लाइड में...

ऐसी स्थिति में पैसेंजर को अपनी यात्रा कैंसल करने का अधिकार हो

 

> डीजीसीए ने तीसरा बड़ा प्रस्ताव यह दिया है कि यदि किसी उड़ान में 120 मिनट से अधिक का टरमैक डिले हो तो ऐसी स्थिति में पैसेंजर को अपनी यात्रा कैंसल करने का अधिकार हो। ऐसा 2 घंटे या इससे ज्यादा होने पर किया जा सकेगा।

 

> हालांकि जेट एयरवेज, इंडिगो और गो एयर ने इन प्रस्तावों का विरोध किया है। इन्होंने मौजूदा नियमों को ही जारी रखने की मांग की है। 

Click to listen..