• Hindi News
  • Bollywood
  • फ्लोरा सैनी, गौरांग दोषी, Flora Saini Actress Of Stree Film Says Director Break Her Jaw
--Advertisement--

#MeToo: फिल्म 'स्त्री' की एक्ट्रेस ने कहा - जबड़ा तोड़ने की घटना तो क्लाइमैक्स थी, उससे पहले डायरेक्टर ने मुझे लंबे समय तक पीटा, सुनाई अपने टॉर्चर की पूरी कहानी

Exclusive : वो मुझे हर दूसरे दिन पीटता था लेकिन एक रात तो हद ही हो गई - फ्लोरा

Dainik Bhaskar

Oct 14, 2018, 01:12 PM IST

एंटरटेनमेंट डेस्क . 'दीवार' और 'आंखें' जैसी फिल्में बना चुके डायरेक्टर गौरांग दोषी पर मारकर जबड़ा तोड़ने का केस करने वाली एक्ट्रेस फ्लोरा सैनी ने अपनी भयावह कहानी बताई है। हाल ही में रिलीज हुई फिल्म 'स्त्री' में काम कर चुकी फ्लोरा के मुताबिक जबड़ा तोड़ने की घटना तो क्लाइमैक्स था, उससे पहले गौरांग ने उन्हें लंबे समय तक पीटा। फ्लोरा ने बताया कि पहले तो गौरांग ने ये बात छिपाई कि वो शादीशुदा है, फिर रिलेशन में आए। रिलेशन में आने के बाद गौरांग ने फ्लोरा से अपना घर और काम छोड़ने को कहा और अपने साथ लिव-इन में रहने का दबाव बनाया। जैसे ही फ्लोरा उनके साथ रहने के लिए आईं, एक हफ्ते के अंदर की इनकी पिटाई शुरू कर दी। फ्लोरा के मुताबिक गौरांग उन्हें हर दूसरे-तीसरे दिन बिना बात के पीटने लगे। प्यार औऱ डर के कारण वो सबकुछ सहती गईं। लेकिन एक बात तो हद ही हो गई। इसी रात गौरांग ने मारकर उनका जबड़ा तोड़ दिया। और इसी रात फ्लोरा ने पुलिस बुला ली। 2007 में मामला दर्ज हुआ। फिलहाल गौरांग बेल पर बाहर हैं...वीडियो में सुनिए इस एक्ट्रेस की दर्द भरी दास्तां...


फेसबुक पोस्ट लिख फ्लोरा ने बताई थी अपनी कहानी
- फ्लोरा ने फेसबुक पोस्ट पर लिखा- 'ये मैं हूं... 2007 में वेलेंटाइन डे के दिन मुझे फेमस प्रोड्यूसर गौरांग दोषी ने बुरी तरह से मारा था, जिससे मेरा जबड़ा टूट गया था। ये वो वक्त था जब मैं गौरांग से प्यार करती थी और उसे डेट कर रही थी। एक साल मैंने उसकी प्रताड़ना झेली थी। तब भी मैं अपने साथ हुए हैरेसमेंट के बारे में कहना चाहती थी। लेकिन मुझे लगा था कि एक ऐसी लड़की पर कोई क्यों भरोसा करेगा जो इंडस्ट्री में नई है। और एक पावरफुल आदमी पर आरोप लगा रही है'।

- फ्लोरा ने पोस्ट में आगे लिखा- 'उसने मुझे धमकी दी कि यदि मैंने अपना मुंह खोला तो वो मुझे इंडस्ट्री में टिकने नहीं देगा। और मेरे साथ हुआ भी ऐसा ही। कई फिल्मों से मुझे रिप्लेस कर दिया गया। प्रोड्यूसर-डायरेक्टर मुझसे मिलना तक नहीं चाहते थे और न ही कोई मेरा ऑडिशन लेना चाहता था'।

'मैं चिल्लाई और फिर चुप हो गई' - प्लोरा
फ्लोरा ने अपनी पोस्ट में लिखा- 'मुझे लगा कि मैंने गलती की। खुद के साथ हुए हैरेसमेंट को लेकर मैं चिल्लाई और फिर चुप हो गई। मैं भागना चाहती थी, कहीं छुप जाना चाहती थी, जहां लोगों की नजरें मुझे जज न कर सके और कम से कम मुझे काम मिल सके। मैंने गौरांग के हाथों प्रताड़ना झेली थी जबकि मैं इसकी हकदार नहीं थी। मेरे बाद भी कुछ लड़कियों ने इसी आदमी के हाथों प्रताड़ना झेली, उन्होंने मुझे मदद के लिए भी बुलाया लेकिन मैं उनका साथ देने की हिम्मत नहीं जुटा पाई। ये नोट उन सभी लोगों के लिए है जिन्होंने अपनी बात बोलने की हिम्मत दिखाई'।

- 'जिन लोगों ने गलत किया है उनके खिलाफ जो खड़े हो रहे है उनमें हिम्मत है, गट्स है। हैरेसमेंट करने वाला भूल सकता है लेकिन जिसके साथ गलत हुआ वो कभी नहीं भूल सकता। कोई फर्क नहीं पड़ता कि वो कितने पावरफुल है। महिलाएं जिस तरह से हिम्मत जुटाकर अपनी बात सामने रख रही हैं, वो काबिले तारीफ है'।

फ्लोरा को मिला सोशल मीडिया पर सपोर्ट
फ्लोरा ने अपनी बात फेसबुक पोस्ट के जरिए कही। उनके सपोर्ट में कई यूजर्स खड़े हुए हैं। एक यूजर ने कमेंट करते हुए कहा- 'भगवान आपकी रक्षा करें। इसी तरह हमेशा स्ट्रॉंन्ग बनो और तुम्हें ज्यादा हिम्मत मिले'। एक यूजर ने लिखा- 'तुम पर गर्व है कि तुमने बिना डरे अपनी बात रखी। कोई तुम्हारी बात पर यकीन करें या न करें लेकिन आखिरकार तुमने ये बताने की हिम्मत दिखाई की तुम्हारे साथ क्या हुआ था'। एक अन्य ने कमेंट करते हुए लिखा- 'मार्शल आर्ट सीखो ताकि जब भी तुम्हारे साथ गलत करने की कोशिश करे तो उसको सबक सिखा सको।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended