--Advertisement--

रोंगटे खड़े करता है गोल्ड का दूसरा टीजर, अक्षय के कोट से निकलता तिरंगा बताएगा गोल्ड मेडल के सपने की कहानी

हॉकी पर गोल्ड से पहले 2007 में शाहरुख खान की चक दे इंडिया फिल्म आई थी। जिसमें शाहरुख कोच के रोल में थे।

Danik Bhaskar | Jun 16, 2018, 04:40 PM IST
अक्षय के हाथ में जो तिरंगा पहल अक्षय के हाथ में जो तिरंगा पहल

बॉलीवुड डेस्क । 1948 में आजाद देश के रूप में भारतीय टीम ने पहली बार हॉकी में गोल्ड जीता था। इस जीत की कहानी है अक्षय कुमार की गोल्ड। 15 अगस्त को रिलीज होने वाली गोल्ड का दूसरा टीजर एक संदेश के साथ रोंगटे खड़े कर देता है। शुरुआत में एक लाइन आती है- प्लीज स्टैंड अप फॉर नेशनल एंथम। जिसके बाद ब्रिटिश नेशनल एंथम सुनाई देता है। तुरंत बाद एक और मैसेज आता है- इससे आपको क्या लगता है, 200 सालों तक हम अंग्रेजी राष्ट्रगान के लिए खड़े होते रहे, जब तक कि, एक अकेले आदमी के ख्बाव ने अंग्रेजों को हमारे राष्ट्रीय गान के लिए खड़े होने पर मजबूर कर दिया।

पहले टीजर ने बनाया था रिकाॅर्ड
- गोल्ड का पहला टीजर 5 फरवरी को रिलीज किया गया था। इसमें अक्षय कुमार टीम को तिरंगा दिखाते हुए मोटिवेट करते नजर आते हैं। उस तिरंगे में अशोक चक्र नहीं होता, बल्कि चरखा बना होता है।
- गोल्ड का टीजर 2018 में सबसे ज्यादा बार देखे जाने वाला बन गया है। दरअसल, टीजर को 24 घंटों में 15 मिलियन बार देखा गया था।

दूसरे टीजर में खास क्या
- 54 सैकेंड के गोल्ड के दूसरे टीजर में अक्षय मैदान में बाकी टीमों के कोच के साथ खड़े हैं। लेकिन उनकी नजर दूसरी तरफ है। वे अपने कोट की जेब से तिरंगा निकालते दिखाई देते हैं।
- टीजर में मैच के कुछ सीन भी हैं। वहीं अक्षय जलती हुई आग के सामने बंगाली परिधान धोती कुर्ता पहने खड़े हुए दिखाई देते हैं। दूसरे टीजर को अभी तक 2 मिलियन से ज्यादा बार देखा जा चुका है।

गोल्ड में कोच बने हैं अक्षय
- ये फिल्म आजाद भारत के पहले ओलिंपिक गोल्ड जीतने की कहानी है। जिसमें लीड रोल अक्षय कुमार ने निभाया है।
- फिल्म में बताया गया है कि 1946 तक देश ने तीन गोल्ड मेडल जीते थे, लेकिन ये ब्रिटिश इंडिया के नाम दर्ज थे। इसके बाद भारतीय टीम ने लगातार 1956 तक मेडल जीते।
- अपने रोल के लिए अक्षय ने युवराज वाल्मीकि (इंडियन हॉकी टीम के स्ट्राइकर) और ऑस्ट्रेलियन कोच माइकल नॉब्स ट्रेनिंग ली है।

मौनी रॉय का डेब्यू
- टीवी की नागिन के रूप में फेमस रहीं मौनी राॅय इस फिल्म से डेब्यू कर रही हैं। उनके अलावा फिल्म में कुणाल कपूर, विनीत कुमार सिंह, अमित साध और सनी कौशल हैं।
- अक्षय कुमार पहली बार रितेश सिधवानी और फरहान अख्तर के एक्सेल एंटरटेनमेंट के साथ मिल कर काम कर रहे है।
- डायरेक्शन रीमा कागती ने किया है। जो अक्षय के साथ फिल्म तलाश में भी काम कर चुकी हैं।

एक्स्ट्रा शॉट्स
- भारत ने हॉकी में 1946 तक तीन ओलंपिक गोल्ड मेडल जीते थे लेकिन वह ब्रिटिश इंडिया के नाम दर्ज हैं
- 12 अगस्त 1948 को ओलंपिक के दौरान एक आजाद देश के रूप में अपना पहला स्वर्ण पदक जीता था।