--Advertisement--

दिल्ली के ऑडिशनस में दिखें प्रतिभाशाली गायक

सुरतरंग का दिल्ली आॅडिशन हुआ संपन्न

Danik Bhaskar | Sep 06, 2018, 10:18 AM IST

नई दिल्ली : सिंगिंग टैलेंट में भारत समृद्धि पर है। आए दिन सिंगिंग प्रतियोगिताएं होती रहती हैं जहां एक से बढ़कर एक सिंगिंग टैलेंट देख सकते हैं। हाल ही में दिल्ली में भी एक ऐसा ही सिंगिंग टैलेंट हुआ जहां ताबड़तोड़ सिंगिंग परफार्मेंस ने जजों सहित आॅडियंश का दिल जीत लिया। हम बात कर रहें हैं संगम कला ग्रुप द्वारा आयोजित सिंगिंग प्रतियोगिता 38वां सुरतरंग की। सुरतरंग का मकसद है नए गायको की प्रतिभा को खोज कर उन्हें दुनियां के सामने पेश करने का।

जानें सुरतरंग के बारें में :

सुरतरंग की सुरीली यात्रा का आरंभ 1977 में वि.के.सूद के नेतृत्व में हुआ था । सुरतरंग का मंच उन सभी प्रतिभाशाली गायकों के लिए हैं जिन्हें संगीत जगत में कुछ कर गुजरने की चाह है। संगीत जगत के कुछ सितारे जैसे सोनू निगम और श्रेया घोषाल ने इसी मंच से अपने सपनो को साकार करने की यात्रा शुरू की थी ।

संगम कला ग्रुप के अध्यक्ष, वि.एस.के.सूद ने कहा, हमारा लक्ष्य है कि हम देश के सर्वोत्तम गायक प्रतिभा को ढूंढ़ना । हमारी टीम पूरे दिन इस लक्ष्य को ध्यान में रखके काम करती है की कोई भी योग्य गायक बिना अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करे ना रहे ।

ऐसे पूरा हुआ दिल्ली का अाॅडिशंस

2 सितम्बर को दिल्ली में हुई प्रतियोगिता में बढ़ -चढ़ कर संगीत लवर्स ने हिस्सा लिया। इस प्रतियोगिता को और ज्यादा रोचक बनाया रवि शर्मा , क्षितिज माथुर, संदीप मिश्रा जैसी हस्तियों ने। दिल्ली ऑडिशन में फिल्म कैटेगरी में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर दिल और मंच जीतने वाले प्रतिभागी है धनि, शिवाश राणा, प्रतिष्ठा, आस्था, आद्या गुप्ता, आयुष श्रीवास्तव, ऐशानि रॉय, द्रोण जोग, मुदिता, सलोनी, पाखी, इशिता, सर्वेष्ठा मिश्रा, राघव गंग, चेतना भरद्वाज, देवांशी, सांत्वना पांडा, अनामिका द्विवेदी, अविनाश झा, मनीषा, आकाश भारद्वाज,शुभम आर्य,श्रुति मिश्रा, मुकुल वर्मा। नॉन फिल्म वर्ग में अपनी संगीत कला का हुनर दिखाकर अपना नाम रोशन करने वाले प्रतिभागी है आयुष श्रीवास्तव, द्रोण जोग, श्रुति मासूम, आघव गंग, सर्वेष्ठा मिश्रा, चारवी ढींगरा, राहुल श्रीवास्तव, अमन पसरीचा, मम्पी देबनाथ, मोहमद अमजद और जीतेन्दर चड्ढा।

दिल्ली में हो रहे ऑडिशंस को सफल बनाने में मीडिया पार्टनर दैनिक भास्कर का भी सहयोग रहा।