--Advertisement--

मिथुन ने खुद किया था कबूल, कर ली थी श्रीदेवी से गुपचुप शादी

बॉलीवुड में डिस्को डांसर के नाम से मशहूर एक्टर मिथुन चक्रवर्ती 68 साल के हो गए हैं।

Danik Bhaskar | Jun 16, 2018, 09:57 AM IST

- 68 साल के हुए मिथुन चक्रवर्ती
- उनका असली नाम गौरांग चक्रवर्ती है
- 350 फिल्मों में किया है काम


एंटरटेनमेंट डेस्क. बॉलीवुड में डिस्को डांसर के नाम से फेमस एक्टर मिथुन चक्रवर्ती 68 साल के हो गए हैं। 16 जून, 1950 को कोलकाता में जन्मे मिथुन का असली नाम गौरांग चक्रवर्ती है। हालांकि, यह नाम कभी उन्होंने फिल्मों में इस्तेमाल नहीं किया। आपको बता दें कि मिथुन का नाम यूं तो उनकी को-स्टार रंजीता, योगिता बाली, सारिका और अन्य के साथ जुड़ा, लेकिन श्रीदेवी के साथ उनके अफेयर की चर्चा सबसे ज्यादा रही। 1984 में आई फिल्म 'जाग उठा इंसान' में मिथुन-श्रीदेवी ने पहली बार स्क्रीन शेयर की थी। इस फिल्म की शूटिंग के साथ दोनों के अफेयर की खबरें आने लगी थी। मिथुन चक्रवर्ती ने एक इंटरव्यू में खुद कबूल किया था कि उन्होंने श्रीदेवी से गुपचुप शादी की थी। वाइफ योगिता को भी मिथुन-श्रीदेवी की शादी की खबर...


- मिथुन की वाइफ योगिता बाली ने एक इंटरव्यू में इस बात का खुलासा किया था कि उन्हें मिथुन-श्रीदेवी की शादी की खबर थी।
- एक न्यूजपेपर ने तो दोनों की शादी का सर्टिफिकेट तक छाप दिया था।
- हालांकि, दोनों का रिश्ता ज्यादा टिका नहीं। इसकी वजह थी मिथुन की वाइफ योगिता। योगिता ने मिथुन को धमकी दी थी कि यदि उन्होंने श्रीदेवी से रिश्ता रखा तो वे सुसाइड कर लेंगी।
- मिथुन के तीन बेटे और एक बेटी है।

350 फिल्मों में किया काम
मिथुन बॉलीवुड की उन शख्सियतों में शुमार हैं, जिनका न कोई फिल्मी बैकग्राउंड रहा और न ही इंडस्ट्री में कोई गॉड फादर, फिर भी फिल्म इंडस्ट्री में अपनी मेहनत से एक अलग पहचान बनाई है। कोलकाता के फेमस स्कॉटिश चर्च कॉलेज से मिथुन ने केमिस्ट्री में ग्रैजुएशन किया। फिल्मों में आने के लिए वकायदा पुणे फिल्म संस्थान से एक्टिंग का कोर्स किया। अब तक वे 350 से ज्यादा फिल्मों में काम कर चुके हैं और अब भी बॉलीवुड में सक्रिय हैं। उन्होंने 'वारदात', 'अविनाश', 'जाल', 'डिस्को डांसर', 'भ्रष्टाचार', 'घर एक मंदिर', 'वतन के रखवाले', 'हमसे बढ़कर कौन', 'चरणों की सौगंध', 'हमसे है जमाना', 'बॉक्सर', 'बाजी', 'कसम पैदा करने वाले की', 'प्यार झुकता नहीं', 'करिश्मा कुदरत का', 'स्वर्ग से सुंदर' जैसी फिल्मों में काम किया है। उनका सबसे मुश्किल वक्त 1993 से लेकर 1998 के बीच का था। जब उनकी फिल्में लगातार फ्लॉप हो रही थीं। इस दौरान उनकी एक साथ 33 फिल्में फ्लॉप हुईं थी। इसके बावजूद उनका स्टारडम इस कदर डायरेक्टर्स पर छाया था कि उन्होंने तब भी 12 फिल्में साइन की थीं।

नक्सली से सिनेमा तक का सफर
बहुत ही कम लोग जानते हैं कि मिथुन फिल्म उद्योग में प्रवेश करने से पहले एक कट्टर नक्सली थे। पारिवारिक कठिनाइयों की वजह से उन्होंने अपना रास्ता बदल लिया और अपने परिवार के बीच लौट आए। दरअसल, एक हादसे में उनके एकमात्र भाई की मौत हो गई थी। इसके बाद मिथुन ने खुद को नक्सली आन्दोलन से अलग कर लिया। उन्होंने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत 1976 में आई फिल्म 'मृगया' से की। इस फिल्म में दमदार अभिनय के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।