--Advertisement--

#MeToo : Kiss सीन देने के लिए मशहूर इमरान हाशमी ने कहा - कलाकारों से पहले ही साइन करा लेना चाहिए ताकि फ्यूचर में कोई किसी पर गलत आरोप न मढ़े

सेक्शुअल हैरेसमेंट को लेकर अब सेट पर हॉलीवुड जैसा इंतजाम चाहते हैं हाशमी

Dainik Bhaskar

Oct 11, 2018, 06:49 PM IST
Intimacy manager on set is being explored for Bollywood movies in-timate scene

मुंबई। #MeToo मूवमेंट के चलते कई बॉलीवुड की एक्ट्रेस और सेलेब्रिटी अब तक अपने साथ हुई ज्यादती को लेकर आवाज उठा चुकी हैं। इस कैम्पेन से जहां बुरी नीयत वालों के चेहरे बेनकाब हो रहे हैं, वहीं फिल्मों में इंटीमेट सीन फिल्माने को लेकर आने वाली दिक्कतें भी फिल्ममेकर्स और एक्टर्स के लिए चिंता का सबब बनी हुई हैं। इस पहलू पर बात करते हुए एक्टर इमरान हाशमी ने कहा- "हॉलीवुड फिल्मों की तर्ज पर यहां भी इंटीमेसी मैनेजर रखा जाना चाहिए, जो इन्श्योर करेंगे कि एक्ट्रेस अनकंफर्टेबल फील तो नहीं कर रहीं। साथ ही हर प्रोजेक्ट के साथ कलाकारों को सेक्शुअल क्लॉज साइन करवाया जाना चाहिए। ताकि फ्यूचर में कोई किसी पर गलत आरोप मढ़े तो उसे खारिज किया जा सके।" नीयत में खोट नहीं तो किसी को इंटीमेट सीन फिल्माने में दिक्कत नहीं होगी...

वहीं, इस मामले पर प्रोड्यूसर मुकेश भट्ट कहते हैं- ''भविष्य में अगर कोई कलाकार किसी पर गलत आरोप लगाए तो चिंता का विषय हो सकता है। इंटीमेट सीन अगर स्क्रिप्ट की डिमांड है तो डर के साए में उसे कैसे फिल्माया जा सकता है? आलिया मेरी बेटी है। उसे फिल्म में Kiss करना है तो वह करती है ना। अगर मुझे ऑब्जेक्शन है तो हम उसे हीरोइन नहीं बनाएंगे। रहा सवाल फ्यूचर में गलत और सही आरोप मढ़ने का तो उस पर किसी का कोई कंट्रोल नहीं है। हां, सेक्शुअल हैरेसमेंट के मामलों में सावधानी जरूर बरती जा सकती है। इंटीमेसी मैनेजर एक इलाज है, मगर सेट पर वह एडिशनल खर्च होगा। आइडियली बेहतर यह होगा कि हम, आप और हर कोई अपने जमीर की सुने। उसे न मारे। नीयत में खोट नहीं है तो किसी को डर कर जीने या इंटीमेट सीन फिल्माने में दिक्कत नहीं होगी।


स्टंट डायरेक्टर और कोरियोग्राफर हो सकते हैं तो इंटीमेसी मैनेजर क्यों नहीं...
हॉलीवुड की इंटीमेसी डायरेक्टर एलिसिया रोडीज के मुताबिक, ''जब फिल्मों में फाइट सीन के लिए स्टंट डायरेक्टर और डांस के लिए कोरियोग्राफर होता है तो फिर सेक्शुअल सीन्स फिल्माने के लिए इंटीमेसी डायरेक्टर या मैनेजर क्यों नहीं होना चाहिए।'' बता दें कि हॉलीवुड फिल्मों में सेक्शुअल या इंटीमेट सीन्स फिल्माने के दौरान सेट पर इंटीमेसी डायरेक्टर होता है, जो एक्टर-एक्ट्रेस को सीन्स के दौरान सही डायरेक्शन देने का काम करता है। इसके अलावा वो यह भी देखता है कि इस दौरान एक्टर या एक्ट्रेस के साथ किसी तरह का मिसबिहैव न हो।

X
Intimacy manager on set is being explored for Bollywood movies in-timate scene
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..