#MeToo कैपेंन पर बोले कंगना के वकील, सोच समझ कर आरोप लगाएं, बाद में हो सकता है नुकसान / #MeToo कैपेंन पर बोले कंगना के वकील, सोच समझ कर आरोप लगाएं, बाद में हो सकता है नुकसान

DainikBhaskar.com

Oct 12, 2018, 02:11 PM IST

बेहतर होगा पुलिस में शिकायत करें-रिजवान सिद्दीकी

kangana-ranaut counsel on #MeToo Caperna

बॉलीवुड डेस्क। #MeToo कैंपेन जोर पकड़ चुका है। सबसे पहले तनुश्री दत्ता ने नाना पाटेकर पर सेक्शुअल हैरेसमेंट के आरोप लगाए. नाना के बाद सिंगर कैलाश खेर, डायरेक्टर विकास बहल, एक्टर रजत कपूर, एक्टर आलोक नाथ और डायरेक्टर साजिद खान जैसे बड़े सेलेब्स पर सेक्शुअल हैरेसमेंट का आरोप लग चुका है। लेकिन ऋतिक रोशन के खिलाफ कंगना रनौत का केस लड़ चुके वकील रिजवान सिद्दीकी का कहना है कि महिलाओं को सोच समझ कर आरोप लगाना चाहिए। सिद्दीकी के मुताबिक इस मामले में तनुश्री ने भी एक बड़ी गलती कर दी है। उन्हें 2008 में दर्ज की गई FIR को ही चैलेंज करना चाहिए था। नई FIR का कानूनी तौर पर ज्यादा वैल्यू नहीं है। सिद्धीकी का ये भी कहना है कि लड़कियों को सोशल मीडिया पर आरोप लगाने के बजाय पुलिस के पास जाना चाहिए। क्योंकि कल को जाकर कानूनी लड़ाई के दौरान इसका उल्टा असर पड़ सकता है। सबूत हों तो संभाल कर रखें, कहीं ऐसा न हो कल मानहानि का केस हो जाए और माफी मांगनी पड़ जाए। बता दें कि कंगना ने खुलासा किया था कि ऋतिक उनसे रिलेशनशिप में थे और शादी का वादा किया था। लेकिन बाद में ऋतिक ने ऐसे किसी रिलेशनशिप से इंकार कर दिया था। इसके बाद दोनों ने एक दूसरे को कानूनी नोटिस भेजे थे। कंगना की तरफ से ये केस रिजवान ने लड़ रहे हैं। वीडियो में सुनिए रिजवान सिद्दीकी #MeToo कैंपेन में हिस्सा लेने की सोच रही लड़कियों को क्या सलाह दे रहे हैं?

X
kangana-ranaut counsel on #MeToo Caperna
COMMENT